MP: शिवराज के बाद पॉवरफुल हुए नरोत्तम मिश्रा, जानिए कैसे !

मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज बजाएंगे घण्टा, होने जा रही है ये बड़ी शुरुआत

इंदौर भोपाल मध्यप्रदेश

भोपाल/इंदौर। अमृत योजना के लिए राशि जुटाने जारी किए गए बॉण्ड के लिए नगर निगम ने 139 करोड़ के प्रस्ताव स्वीकार कर लिए हैं, अब इसके लिए 5 जुलाई को मुंबई में बेल सेरेमनी आयोजित होने जा रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ इंदौर की मेयर मालिनी गौड़ भी कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे। आपको बता दें कि 5 जुलाई को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज, मुंबई में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में सीएम शिवराज सिंह चौहान बेल सेरेमनी में घण्टा बजाकर मार्केट की शुरुआत भी करेंगे।

यह रहेगा कार्यक्रम
सुबह 9 बजे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का स्वागत किया जाएगा। इसके बाद के कार्यक्रम में बेल रिंगिंग सेरेमनी का आयोजन किया जाएगा। सुबह सवा 9 बजे के करीब मार्केट खुलने के साथ ही सीएम और अन्य अतिथि घण्टा बजाकर मार्केट खुलने का ऐलान करेंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव विवेक अग्रवाल का संबोधन होगा। वहीं इंदौर की मेयर मालिनी गोड़ भी मंच से अपना संबोधन देंगी। इसके बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान अपना भाषण देंगे।

आपको यह भी बता दें कि केंद्रीय योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए बॉण्ड जारी करने वाला इंदौर देश का तीसरा और एनएसई में सूचीबद्ध होने वाला प्रदेश का पहला नगर निगम होगा। केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा बॉण्ड के माध्यम से राशि इकट्ठा करने पर हर 100 करोड़ रुपए 13 करोड़ रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी, जिससे निगम पर बॉण्ड का भार दो प्रतिशत और कम हो जाएगा। केंद्र सरकार बॉण्ड के माध्यम से देश के शहरी विकास में जनभागीदारी सुनिश्चित करना चाह रही है और इंदौर नगर निगम ने तुरंत केंद्र और राज्य सरकार के मनमाफिक काम कर एक बार फिर अपनी विशिष्ट कार्यशैली की छाप छोड़ी है। बॉण्ड जारी करने के लिए एसपीए कैपिटल को ट्रांजेक्शन एडवाइजर नियुक्त किया गया था।

वहीं निगम अधिकारियों ने इंदौर के बॉण्ड को इतना अच्छा प्रतिसाद मिलने पर खुशी जाहिर की। उनका कहना था कि इसके पीछे इंदौर नगर निगम की डबल ए रेटिंग का अहम रोल है। इसीलिए निवेशकों ने इंदौर नगर निगम के कार्यों में निवेश करने में पूरा विश्वास जताया है। इंदौर को यह रेटिंग दो एजेंसियों ने दी थी जो नियमित ब्याज और मूल राशि के भुगतान को सुनिश्चित करती हैं। आपको बता दें कि निकट भविष्य में भोपाल और जबलपुर नगर निगमों के भी बॉण्ड जारी होना हैं, जिसके लिए कार्यवाही शुरू हो चुकी है।