मातहतों की करतूत का पता लगाने ट्रक क्लीनर बन गए IPS, और जब ढीले पड़े चड्ढी के नाड़े

मातहतों की करतूत का पता लगाने ट्रक क्लीनर बन गए IPS, और जब ढीले पड़े चड्ढी के नाड़े

ग्वालियर मध्यप्रदेश

मातहतों की करतूत का पता लगाने ट्रक क्लीनर बन गए IPS, और जब ढीले पड़े चड्ढी के नाड़े

ग्वालियर। आरक्षकों की करतूत को जब ट्रक क्लीनर बने IPS ने पकड़ा तो वसूलीकर्ता आरक्षकों के चड्ढी के नाड़े ढीले होने में देर नहीं लगी और उनकी बोलती बंद हो गई। दरअसल पुलिस अधीक्षक के पास अवैध वसूली की लगातार शिकायतें आ रही थीं।

पहले तो उनके द्वारा गंभीरता से नहीं लिया गया लेकिन जब शिकायतों का क्रम बंद नहीं हुआ तो असलियत का पता लगाने का मन बनाया और एसपी अमित सांघी ने प्रशिक्षु आईपीएस मोतीयुर रहमान को जिम्मा सौंपा। इसके बाद प्रशिक्षु आईपीएस ने रात 12 बजे एक ट्रक में क्लीनर बनकर बैठ गये। जहां उन्होंने देखा कि विक्की फैक्ट्री चैराहे पर चार सिपाही वसूली में जुटे हैं। जिस ट्रक में प्रशिक्षु आईपीएस ट्रक क्लीनर बनकर बैठे थे, वसूलीकर्ता सिपाही उसे भी रोक लिया और पैसा मांगने लगे।

मातहतों की करतूत का पता लगाने ट्रक क्लीनर बन गए IPS, और जब ढीले पड़े चड्ढी के नाड़े

यह भी पढ़े : बेटा बेटी हुए पराए, मालिक की कृपा से कुत्ता बना करोडपति

पैसा देने से मना करने पर ट्रक क्लीनर बने प्रशिक्षु आईपीएस को गाली देते हुए नीचे उतार लिया गया। फिर क्या हुआ, प्रशिक्षु IPS ने जब अपनी असलियत बताई तो वसूलीकर्ता सिपाहियों के चड्ढी के नाड़े ढीले पड़ गये। उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। पूरे मामले की जानकारी प्रशिक्षु आईपीएस ने एसपी अमित सांघी को दी। जिसके बाद एसपी ने चारों वसूलीकर्ता आरक्षकों को निलंबित कर दिया है।

रीवा भी अवैध वसूली से अछूता नहीं

ट्रकों के साथ अन्य वाहनों से अवैध वसूली सरेआम की जाती है। बाईपास में दिर-रात वसूली का काम चलता है। नो इंट्री मार्ग से धड़ल्ले से भारी वाहन रात भर दौड़ते हैं। जहां पुलिस दो-चार सौ रुपये लेकर खुली छूट प्रदान कर देती है। रीवा में बाईपास मार्ग है लेकिन रात आप देखें तो शहर के बीचों बीच भारी वाहन दौड़ते रहते हैं। जिससे आप अनुमान लगा सकते हैं कि इन वाहनों को शहर में प्रवेश की अनुमति को प्रदान कर रहा है।

यह भी पढ़े : रीवा: 15 लाख का पान मसाला पुलिस ने किया जब्त, पढ़िए पूरी खबर …

इसके अलावा तमाम अवैध गिट्टी, बालू, पत्थर परिवहन पर खूब वसूली की जाती है। यहां तक कि पुलिस के साथ दलाल भी अवैध वसूली में सक्रिय हैं। जिस पर कैसे लगाम लगेगी, यह विचारणीय प्रश्न है। या इसी तरह लूटपाट जारी रहेगी और लोग लुटते रहेंगे।

MP : पत्नी को पीटने के मामले में IPS पुरुषोत्तम शर्मा की बढ़ीं मुश्किलें

मध्यप्रदेश का एक ऐसा IPS ऑफिसर जिसने PM MODI को कर दिया था चैलेंज

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *