मध्यप्रदेश के इन जिलों में धारा-144 लागू, जान ले नहीं होगी दिक्कत1 min read

Madhya Pradesh

भोपाल। एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में आगामी छह सितंबर को सवर्ण समाज द्वारा प्रस्तावित बंद को लेकर प्रदेश में सभी पुलिस अधीक्षकों को अलर्ट कर दिया गया है. साथ ही प्रदेश के कई जिलों में धारा-144 लागू कर दी गई है. वहीं ग्वालियर में 11 सितंबर तक के लिए भारी संख्या में शस्त्र लायसेंस निलंबित कर दिए गए है.

दरअसल एससी/एसटी एक्ट में संसोधन को लेकर सवर्ण समाज में इन दिनों भारी आक्रोश है. वहीं मंदसौर, ग्वालियर-चंबल संभाग में विरोध जोरदार बताया जा रहा है. इसके साथ ही नीमच, मंदसौर और उज्जैन संभाग में भी विरोध के स्वर दिखाई दिए.

प्रदेशभर आगामी छह सितंबर को सवर्ण समाज के कई संगठनों द्वारा प्रस्तावित बंद की बात सोशल मीडिया पर चलने से पुलिस एलर्ट हो गई है. वहीं प्रदेश के कई जिलों में धारा-144 भी लागू कर दी गई है. हालांकि प्रदेशभर में विरोध जारी है जिसमें से रीवा, सतना, कटनी, विदिशा, हरदा, सागर, जबलपुर, टीकमगढ़, मंडला, दतिया और श्योपुर जिले में एक्ट के संशोधन के खिलाफ सवर्ण समाज द्वारा लगातार विरोध जारी है.

इन जिलों में धारा-144 लागू –
विरोध प्रदर्शन के चलते सरकार ने सुरक्षा की दृष्टि से कई जिलों में धारा- 144 लागू कर दिया है, जिसमें ग्वालियर में 11 तारीख तक भारी संख्या में शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिए गए हैं. ग्वालियर, अशोकनगर, भिंड, मुरैना, श्योपुर, शिवपुरी, दतिया, गुना, रीवा और छतरपुर समेत कई जिलों में 144 लागू कर दी गई है.

Facebook Comments