मुख्यमंत्री की नए साल में पहली बैठक कलेक्टर व कमिश्नर के साथ

मुख्यमंत्री की नए साल में पहली बैठक कलेक्टर व कमिश्नर के साथ

मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री की नए साल में पहली बैठक कलेक्टर व कमिश्नर के साथ

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान का अंदाज इस में बिल्कुल बदला-बदला नजर आ रहा है। अपराधियों और भ्रष्टाचारियों पर नकेल कसने के लिए कड़े लहजे साफ देखे जा सकते हैं। इसी परिपे्रक्ष्य में 2021 की शुरूआत के साथ मुख्यमंत्री ने पहली बैठक कलेक्टर और कमिश्नर के साथ लेने का निर्णय लिया है।

यह भी पढ़े : स्टेट प्लेन से भोपाल ले जाये गये विधायक नागेन्द्र सिंह, मुख्यमंत्री ने पूछा हालचाल

यह बैठक 4 जनवरी को आयोजित होगी। बैठक में चिटफंड कंपनियों के घोटाले सहित अन्य कार्रवाई पर मुख्यमंत्री अधिकारियों से जानकारी प्राप्त करेंगे। साथ ही कलेक्टर और पुलिस अधीक्षकों से चिटफंड कंपनियों से रिकवरी की जानकारी लेंगे।

मुख्यमंत्री के चिटफंड कंपनियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के सख्त निर्देश

मुख्यमंत्री ने चिटफंड कंपनियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिये थे। इसी के मद्देनजर 4 जनवरी को आयोजित होने वाली बैठक में चिटफंड कंपनियों के खिलाफ की गई कार्रवाई की जानकारी लेंगे। जानकारी अनुसार चिटफंड कंपनियों ने बेरोजगारों के साथ करोड़ों की ठगी की है। वहीं किसान भी ठगी का शिकार हुए हैं।

Amazon Hot Deals

मुख्यमंत्री की नए साल में पहली बैठक कलेक्टर व कमिश्नर के साथ

पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सिर्फ जबलपुर से करोड़ों की ठगी जानकारी प्राप्त की है। पुलिस का मानना है कि ग्रामीण क्षेत्र में भी चिटफंड कंपनियां सक्रिय हैं और उनके एजेंट लगातार धोखाधड़ी कर रहे हैं। सूत्रों की मानें तो सागर, छतरपुर, रतलाम, नीमच, आगर, मालवा और देवास में चिटफंड कंपनियों के खिलाफ अभियान चलाया गया है। जिसमें पुलिस प्रशासन को चिटफंड कंपनियों के घोटाले का पता चला है और उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है।

भ्रष्टाचार में लिप्त अफसरों से सीधे पूछताछ नहीं कर सकेगी पुलिस, जारी हुआ ये आदेश : MP NEWS

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook WhatsApp Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *