बिन बताएं अचानक अस्पताल पहुंचे रीवा कलेक्टर, डीन डॉ मनोज इंदूलकर और अधीक्षक डॉ शशिधर गर्ग को फटकार लगाते हुए कहा ये सब क्या है...

रीवा के पटवारी कर रहे किसानो को परेशान, कलेक्टर साहब इन गरीबो की भी तो सुनिए…

मध्यप्रदेश रीवा

रीवा के पटवारी कर रहे किसानो को परेशान, कलेक्टर साहब इन गरीबो की भी तो सुनिए…

बैकुंठपुर। रीवा कलेक्टर इलैया राजा टी रीवा में आते ही रीवा की व्यवस्था सुधारने का प्रयास कर रहे है. इस बीच राजस्व विभाग के पेंडिंग काम को प्रगति देने का निरन्तर प्रयास कर रहे है. इस बीच पटवारी गरीबो की जेब में डांका मारने से कोई कमी नहीं कर रहे है.

इस पर निचले निचले स्तर के अधिकारी आदेश को अमल नही कर रहे हैं । सिरमौर तहसील स्तर पर कोई सुधार नही हो सका हैं। ऐसे में किसान तहसील सिरमौर का चक्कर लगाते भटक रहे हैं। किसान भैया कोल और शिवदास कोल निवासी दुलहरा जिसका जमीन सीमांकन के लिये तहसील में तीन माह पहले आवेदन दिया गया था।

रीवा के पटवारी कर रहे किसानो को परेशान, कलेक्टर साहब इन गरीबो की भी तो सुनिए...

पन्ना : शौक ने पहुंचाया सलाखों के पीछे, Para Commando बनकर गर्लफ्रेंड से मिलने भोपाल पहुंचा युवक, आर्मी की खुफिया टीम ने दबोचा

इसके बाद भी आरआई और पटवारी सीमांकन करना दूर की बात, मौका करने नहीं गए किसान भैया लाल कोल द्वारा बताया गया कि 10/9/20 को जमीन सीमांकन के लिए आवेदन दिया था। तीन माह हो गये पर आर आई पांच हजार मांगते हैं। पटवारी को हजार रुयये भी दे चुके है ।

इसी तरह शिवदास कोल ने बताया की जमीन सीमांकन के लिए आवेदन दिए थे जहाँ ग्यारह सौ पटवारी दे चुके हैं और 2 हजार की और मांग कर रहे है। गरीब परिवार इतना पैसा देने में असमर्थ है । वहीं किसान एसडीएम से भी मिले तो एसडीएम द्वारा तहसील जाने को कह दिया गया।

जब तहसील जाते हैं तो बताया जाता है कि तहसीलदार हड़ताल में गए हुए हैं। ऐसे में किसान फिजुलखर्ची और समय दोनों बर्बाद हो रहा है। तीन माह से किसान शिकायत कर रहा है, किंतु कोई भी अधिकारी-कर्मचारी उसका निराकरण नहीं कर पा रहा है। ऐसे कई किसान जो भटक रहे थे उनको देखने सुनने वाले नही थे ।

रीवा कलेक्टर की हो रही हर जगह तारीफ, इस बार कर डाला कुछ ऐसा काम….

आदमखोर बाघ ने ली 12 साल के बच्चे की जान, गांव में बढा आतंक

सतनाः कुल्हाड़ी से अधेड़ की निर्मम हत्या, गांव में सनसनी….

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *