सतना: भाजपा के दिग्गज विधायक शंकरलाल गिरफ्तार, पार्टी में मचा हड़कंप, चुनाव में होगी मुश्किल1 min read

Madhya Pradesh

सतना। मध्यप्रदेश के सतना विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के विधायक शंकरलाल तिवारी को सिटी कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बताया गया कि पुलिस थाने में बलवा और पुलिस कर्मी के साथ मारपीट के मामले में सिटी कोतवाली पुलिस ने विधायक सहित 28 लोगों को सन् 21 सितंबर 1996 में आरोपी बनाया था।

जिसमे आठ आरोपियों को पहले ही बरी कर दिया गया था। जबकि विधायक सहित 20 लोग 22 साल से स्थाई रूप से फरार घोषित थे। सीजेएम कोर्ट ने स्थाई तौर पर वारेंट पर फरार घोषित किया था। कोर्ट की फटकार के बाद सतना पुलिस ने आनन-फानन में मंलगवार की सुबह गिरफ्तार कर सीजेएम डीआर अहिरवार की कोर्ट में पेश किया है।

ये था पूरा मामला
सिटी कोतवाली में दर्ज प्रकरण के अनुसार 21 सितंबर 1996 की सुबह 10 बजे के करीब मृतक मुकेश गुप्ता का शव सिटी कोतवाली के समाने बीच सड़क पर रखकर प्रदर्शनकारियों ने सड़क में जाम लगा दिया था। इतना ही नहीं सिटी कोतवाली का घेराव करते हुए पुलिस पर पत्थर बरसाए गए थे। पुलिस बल के साथ मारपीट कर शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न करने का भी आरोप है।

पुलिस ने बनाये गए थे 28 आरोपी
अभियोजन के अनुसार शहर के सिटी कोतवाली थाना पुलिस ने आरक्षक रामजानकी तिवारी की रिपोर्ट पर 28 आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ भादवि की धारा 147, 148, 341, 336, 353, 321, 186 के तहत प्रकरण कायम किया था। इनमें से ८ आरोपी अदालत में पहले ही पेश हो चुके हैं, लेकिन बाकी के आरोपियों को फरार घोषित करते हुए अदालत ने स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

ये बनाए गए थे आरोपी
अदालत ने जिनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। उनमें शंकरलाल तिवारी, पुष्पेन्द्र सिंह, केशव भारती, विंध्य विकास प्राधिकरण के पूर्व सदस्य रामदास मिश्रा, राजकुमार यादव, राजेश चौरसिया, छत्रपाल सिंह छत्तू, राजेन्द्र शुक्ला, लोकेश त्रिपाठी, शंकर प्रजापति गिब्बा, अजय समुंदर, ददोली पाण्डेय, विनोद जायसवाल, गिल्लू यादव, विनय सिंह, जवाहर जैन, योगेन्द्र अग्रवाल के द्वारा कांग्रेस नेता मनीष तिवारी व पप्पू मिश्रा शामिल हैं।

Facebook Comments