कचरे से बनेगा कोयला, कोयले से बनेगी बिजली, इंदौर में एनटीपीसी लगायेगा वेस्ट टू एनर्जी प्लांट

कचरे से बनेगा कोयला, कोयले से बनेगी बिजली, इंदौर में एनटीपीसी लगायेगा वेस्ट टू एनर्जी प्लांट

इंदौर मध्यप्रदेश

कचरे से बनेगा कोयला, कोयले से बनेगी बिजली, इंदौर में एनटीपीसी लगायेगा वेस्ट टू एनर्जी प्लांट

इंदौर। विद्युत ऊर्जा सम्पन्न देश हो या प्रदेश वहां विकाश की अपार सम्भावनाएं होती है। जिस देश के पास आज बिजली की समस्या है वहां कोई भी उद्योग लगाना सम्भव नहीं होता है। इसी स्थिति को ध्यान में रखते हुए हर देश ऊर्जा के क्षेत्र में नित नये प्रयोग कर रहा है। ऐसे में मध्य प्रदेश भी कई प्रयोग कर ऊर्जा सम्पन्न प्रदेश बनने जा रहा है। देश का सबसे बड़ा सोलर प्लांट मध्य प्रदेंश के रीवा जिले में लगा हुआ है।

कचरे से बनेगा कोयला, कोयले से बनेगी बिजली, इंदौर में एनटीपीसी लगायेगा वेस्ट टू एनर्जी प्लांट

इसी क्रम में प्रदेश सरकार एनटीपीसी की मदद से इंदौर में वेस्ट टू एनर्जी प्लांट लगाने का काम चल रहा है। इस प्लांट के लग जाने से थर्मल पावर प्लांटों को कचरे से बना कोयला उपलब्ध होगा और इस कोयले से बिजली बनाई जायेगी। एक अनुमान के मुताबिक इंदौर में वेस्ट टू एनर्जी प्लांट वर्ष 2021 के अंत तक बनकर तैयार हो जायेगा। वही इंदौर के बाद वेस्ट टू एनर्जी प्लांट भोपाल तथा बनारस में लगाया जायेगा। प्लांट लगाने के लिए जमीन उपलब्ध करवाने की जवावदारी नगर निगम की होगी। ऐसा करने पर नगर निगमों की आय भी बढेगी।


जानकारी के अनुसार एनटीपीसी इंदौर में वेस्ट टू एनर्जी प्लांट लगाने का काम शुरू हो गया है। प्लांट में उस कचरे का उपयोग किया जायेगा जिससे पुनः रिसाइकिल नहीं किया जा सकता। इस कचरे को प्लांट टोरीफाइड कोल बना देगा। और इस कोयलें का उपयोग खंडवा और आसपास के बिजली उत्पादन केन्द्रों को दिया जायेगा जिसके माध्यम से बिजली बनाई जायेगी।


हमारे देश में देा प्रकार का कचार निकलता है जिसमें सूखा और गीला कचरा शामिल है। कई कचरे को रिसाइकिल कर उसका उपयोग किया जाता है लेकिन कई इस तरह के कचरे है जिन्हे रिसायकिल नहीं किया जा सकता। इस तरह के कचरे को रिसाइकिल कर कोयला बनाया जायेगा और उसका उपयोग बिजली बनाने में किया जायेगा।

MP : मध्यप्रदेश के बेटी की हरियाणा में रेप के बाद हत्या, शिवराज ने सीएम खट्रटर से कहां, हो सख्त कार्रवाइ

भोपाल : शिवराज कैबिनेट के फैसले से डीजल-पेट्रोल होंगे सस्ते, प्रदेश के लोगों मिलेगी राहत

जबलपुर : पत्थर और पाउडर से बनाई जा रही थी खाद, फैक्ट्री पर क्राइम ब्राच का छापा, पहुचा पूरा प्रशासन

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *