मुख्यमंत्री का निर्णय, बहुत जल्दी बंद होंगे प्रदेश के 51 सरकारी कालेज, जाने कहां-कहां के बंद होने वाले हैं कालेज...

मुख्यमंत्री का निर्णय, बहुत जल्दी बंद होंगे प्रदेश के 51 सरकारी कालेज, जाने कहां-कहां के बंद होने वाले हैं कालेज…

भोपाल मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री का निर्णय, बहुत जल्दी बंद होंगे प्रदेश के 51 सरकारी कालेज, जाने कहां-कहां के बंद होने वाले हैं कालेज…

भोपाल। ऐसे सरकारी कालेज जिनमें छात्रों की संख्या न के बराबर है। उन्हे शिवराज सरकार बंद करने की ओर कदम बढ़ा चुकी है। जल्दी ही कम संख्या वाले कालेजों में ताले लगे नजर आयेंगे।

जानकारी के अनुसार ऐसे कलेज जिनमें छात्रो की संख्या मात्र 100 तक ही है। उन्हे बंद कर छात्रों को नजदीक के अन्य कालेज में स्थानांतरित कर दिया जायेगा। वही कालेज के स्टाफ तथा अन्य जरूरी सामग्री को भी अन्य कालेज की आवश्यकता के आधार पर भेजा जायेगा।

रीवाः महापौर चुनाव में कांग्रेस से आ सकता है युवा नया चेहरा, टिकिट को लेकर मंथन…

जानकारी के अनुसार उच्च शिक्षा विभाग ने सरकार से आदेश मिलने के बाद उन कालेजों की सूची तैयार करने में लग गया जहां छा़त्रों की संख्या बेहद कम है। ऐसे में माना जा रहा है कि कम छात्र संख्या वाले कालेजों में प्रवेश लेने में छात्रों की रूचि नही है। ऐसे में कालेज संचालन का कोई अर्थ ही नही है। वही जानकारी मिली है इन 51 कालेजों को बंद करने के लिए सत्र समाप्त होने का इंतजार नही किया जायेगा।

मुख्यमंत्री का निर्णय, बहुत जल्दी बंद होंगे प्रदेश के 51 सरकारी कालेज, जाने कहां-कहां के बंद होने वाले हैं कालेज...

सरकार जिन शासकीय कालेजों को बंद करने जा रही है उनमे सीधी के 3, यशोपुर के 2 तो वही सिंगरौली, शिवपुरी, उज्जैन, डिंडोरी, अनूपपुर, शहडोल, हरदा, सिहोर, मंडला, रायसेन, बुरहानपुर, धार, बडवानी, अ्र्रशोकनगर, छिदवाडा, आगर मालवा, ग्वालियर, होशंगाबाद, कटनी, मंदशौर, मुरैना, नीमच, सागर तथा रतलाम के एक-एक कालेज बंद होने है। वही और कलेजों की नाम भी शामिल हैं।

मध्यप्रदेश : इस तरह मिलेगा 1 से 8 वीं तक के बच्चो का रिजल्ट, विद्यार्थियों को करना होगा ये काम तभी होंगे पास..

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *