मुख्यमंत्री का रोजगार के क्षेत्र में प्रदेश के युवाओं को एक और तोहफा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऊर्जा विभाग की समीक्षा बैठक में दिए ये निर्देश

भोपाल मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऊर्जा विभाग की समीक्षा बैठक में दिए ये निर्देश

AMAZON DEALS – UPTO 50% OFF

मध्य प्रदेश न्यूज़ डेस्क / भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऊर्जा विभाग की समीक्षा बैठक में निर्देश दिए कि किसानों को बिना बाधा के विद्युत सप्लाई व्यवस्था, आम लोगों से बकाया देयकों की वसूली और बिजली चोरी रोकने के कार्य प्राथमिकतापूर्वक किए जाए।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि नगारिकों को विद्युत की बचत के लिए भी प्रेरित किया जाए। बैठक में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भी उपस्थित थे।

सतना: ग्रामीण विकास राज्यमंत्री ने जिला पंचायत के नवीन भवन का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में ट्रांसफॉर्मर्स में सुधार की कार्रवाई भी प्राथमिकतापूर्वक की जाए और गुणवत्ता से किसी भी स्तर पर समझौता नहीं किया जाए। विद्युत उपभोक्ताओं को उत्कृष्ट सेवाएं मिलना चाहिए।विद्युत पोल और विद्युत लाईन की तार झूलने जैसे दृश्य कहीं दिखाई नहीं देना चाहिए। समय-सीमा में सोलर पम्प स्थापना के कार्य पूर्ण किए जाएं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सिंचाई के लिए किसानों को सौर ऊर्जा जैसे वैकल्पिक साधनों के उपयोग के लिए मार्गदर्शन देकर सहयोग किया जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा विद्युत केन्द्रों के शुभारंभ अवसर पर जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए।

मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिये गोधन का उपयोग किया जाएगा: शिवराज सिंह

उन्होंने ओंकारेश्वर में प्रस्तावित 600 मेगावॉट के फ्लोटिंग सोलर प्लांट के लिए की गई कार्रवाई की जानकारी प्राप्त की।

प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री संजय दुबे ने बताया कि इस ऊर्जा परियोजना के लिए प्रारंभिक सर्वेक्षण पूरा कर लिया गया है। विश्व बैंक, आई.एफ.सी और पावर ग्रिड से योजना में सहयोग की अनुमति प्राप्त हुई है।

Micromax IN Note 1 ऑनलाइन उपलब्ध, ऐसे आधे दाम में खरीद सकते है आप..

बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस उपस्थित थे।
ऊर्जा विभाग द्वारा प्रस्तुत प्रजेंटेंशन के संदर्भ में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहां की ऊर्जा मंत्री एवं मुख्य सचिव से विचार विमर्श के बाद पुन: प्रेजेंटेशन प्रस्तुत किया जाए

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश एवं प्रमुख बिन्दु

  • जिन स्थानों पर कृषि उपभोक्ताओं को नियमित 10 घंटे विद्युत प्रदाय की जा रही है, वहाँ के कृषि उपभोक्ताओं से फीड बैक लिया जाये।
  • प्रदेश में उपभोक्ताओं की शिकायतों के निराकरण एवं बकाया राशि के भुगतान के लिए बिजली पंचायत आयोजित की जाए।

Best Sellers in Health & Personal Care

  • आउट सोर्सिंग में आई.टी.आई. वालों को भर्ती किया जाए। सामग्री क्रय करने में गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाए।
  • नियमित भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण विद्युत प्रदाय में प्राथमिकता दी जाए।
  • विद्युत लाइनों का रख-रखाव योजनाबद्ध तरीके से किया जाये।
    *वसूली के दौरान मानवीय दृष्टिकोण अपनाया जाए। *कृषि उपभोक्ताओं के लिए सोलर पम्प की स्थापना फीडरवार करने के निर्देश दिए जाए।
  • विधायकों से प्राप्त कार्यों के संबंध में उन्हें अद्यतन स्थिति से अवगत कराया जाए।
  • सी.एम. हेल्पलाइन में प्राप्त शिकायतों के निराकरण की प्रगति पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रशंसा की एवं लंबित शिकायतों के त्वरित निराकरण के लिए निर्देश दिए।
  • बड़े बकायादारों से वसूली के लिए प्रभावी कार्यवाही की जाए।

Disclaimer: ऊपर दी गयी जानकारी जनसम्पर्क मध्यप्रदेश सोशल मीडिया हैंडल से लिया गया है।

विंध्य क्षेत्र: विंध्य की राजनीति में पटेल हुए खेवनहार

‘आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश’ : CM शिवराज सिंह चौहान करेंगे रोडमैप -2023 जारी

जीतू पटवारी के बिगड़े बोल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बताया कमलनाथ के पैरों की धूल…

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

OPPO F17, A15, A12, Reno 3 Pro की कीमतों में हुई भारी कटौती, हुए इतने सस्ते

BEST SMARTPHONES UNDER RS.15000 : देखिये फुल लिस्ट

जानिए भारत के Top 10 Police Stations 2020

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *