जबलपुर: खालसा काॅलेज के लापता रजिस्ट्रार की मिली लाश, पुलिस ने किया हत्या का खुलासा...

जबलपुर: खालसा काॅलेज के लापता रजिस्ट्रार की मिली लाश, पुलिस ने किया हत्या का खुलासा…

जबलपुर मध्यप्रदेश

जबलपुर: खालसा काॅलेज के लापता रजिस्ट्रार की मिली लाश, पुलिस ने किया हत्या का खुलासा…

जबलपुर। गुरु तेग बहादुर खालसा काॅलेज के रजिस्ट्रार गौरव गुप्ता 40 वर्ष 3 दिसंबर से लापता थे। उनकी स्कूटी हाऊबाग स्टेशन के पीछे झाड़ियों में मिली थी। पास में ही उनका बैगा मिला। जिसमें 17 हजार रुपये थे जो काॅलेज के थे। बैग में खून लगा था। थोड़ी दूर पर उनका हेलमेट, जूता, मफलर मिला।

रजिस्ट्रार की हत्या के मामले में पुलिस ने सहकर्मी चंदन सिंह को गिरफ्तार किया है। पुलिस मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पत्नी के बारे में बुरा बोलना चंदन को इतना नागवार लगा कि उसने किराए के अपार्टमेंट में वास्तुशास्त्र की पूजा के बहाने गौरव को घर बुलाया और हत्या कर दी। बताया गया है कि गौरव गुप्ता को ज्योतिष की जानकारी थी और वह घर में शांति के लिए पूजा पाठ करा भी चुके थे।

जबलपुर: खालसा काॅलेज के लापता रजिस्ट्रार की मिली लाश, पुलिस ने किया हत्या का खुलासा...

हत्या के बाद लाश को बाक्स में भर दिया। हत्या के बाद शव को द्वारिका अपार्टमेंट हाथीताल के एक फ्लैट में छिपाया था। चंदन द्वारिका अपार्टमेंट की पहली मंजिल में किराए का मकान लेकर रहता था। बाक्स में शव फूलने के बाद दुर्गन्ध आने लगी थी। वह शव कहीं ठिकाने लगाने की फिराक में था।

बांधवगढ़ के टाइगर से मिलने पहुंची मप्र की राज्यपाल

पुलिस ने मोबाइल काॅल डिटेज के आधार पर 4 दिसंबर को चंदन से काॅलेज में पूछताछ की थी। 5 दिसंबर को उसे बयान के लिये बुलाया था। लेकिन वह मोबाइल बंद कर गायब हो गया। 6 दिसंबर को उसने दहशत में जहर खा लिया।

अस्पताल में भर्ती होने पर उसने बताया कि पत्नी से विवाद के कारण वह जहर खा लिया है। पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर कड़ाई पूछताछ की तो उसने जुर्म स्वीकार कर लिया। गौरव गुप्ता के छोटे भाई आशीष व हिमांशु ने आरोप लगाये कि पुलिस पहले दिन घटना को गंभीरता से नहीं लिया।

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *