मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिये गोधन का उपयोग किया जाएगा: शिवराज सिंह

मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिये गोधन का उपयोग किया जाएगा: शिवराज सिंह

मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिये गोधन का उपयोग किया जाएगा: शिवराज सिंह

भोपाल। मध्यप्रदेश गो कैबिनेट की पहली बैठक रविवार को भोपाल स्थित मंत्रालय में आयोजित की गई। बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए गोधन का उपयोग किया जाएगा।

स्वाबलंबन के लिए गोमाता की अवधारणा को लागू करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि गोशालाओं को स्वाबलंबी बनाया जायेगा। गायों के गोबर, गोमूत्र को कैसे बेहतर उपयोग करें इस पर अधिकारी सुझाव लेकर काम करें। प्रदेश और देश की कई गोशालाएं संस्थाएं इस दिशा में काम कर रही हैं।

मध्यप्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिये गोधन का उपयोग किया जाएगा: शिवराज सिंह

स्वसहायता समूहों को गोशालाओं का संचालन करने की सहमति मुख्यमंत्री ने प्रदान की। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बड़ी संख्या में गोशालाएं बनाई जाएंगी और इसमें समाज का सहयोग लिया जायेगा। इसमें सिर्फ पशुपालन विभाग ही नहीं बल्कि अन्य विभाग अपनी सहभागिता निभाएं। पहले गो कैबिनेट आगर में आयोजित होनी थी लेकिन कोरोना के चलते यह बैठक भोपाल में आयोजित की गई।

प्रदेश में करीब 1500 गोशालाएं हैं जिनमें 1.80 गायों को रखा गया है। पिछली कमलनाथ सरकार ने बजट में प्रति गाय 20 रुपए का आवंटन किया था। पिछले वित्तीय वर्ष में पशुपालन विभाग का बजट 132 करोड़ रुपए रखा गया था। जबकि 2020-21 में तो यह सीधे 11 करोड़ रुपए हो गया।

बिजली उपभोक्ताओं के लिए खुशखबरी, कम्पनी ने दी राहत

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *