अजय विश्नोई ने कहा विधानसभा अध्यक्ष पद नहीं चाहिए, कैबिनेट मंत्री बनेंगे, फिर राजेंद्र शुक्ल को नज़रअंदाज़ कैसे करे...

अजय विश्नोई ने कहा विधानसभा अध्यक्ष पद नहीं चाहिए, कैबिनेट मंत्री बनेंगे, फिर राजेंद्र शुक्ल को नज़रअंदाज़ कैसे करे…

भोपाल मध्यप्रदेश

अजय विश्नोई ने कहा विधानसभा अध्यक्ष पद नहीं चाहिए, कैबिनेट मंत्री बनेंगे, फिर राजेंद्र शुक्ल को नज़रअंदाज़ कैसे करे…

भोपाल। कांग्रेस की कमलनाथ सरकार के पतन के बाद बनी भाजपा की शिवराज सरकार में जगह न मिलने से कई भाजपा नेता तिलमिलाए हुए हैं। वह मंत्री बनने के लिए बेचैन हो रहे हैं। यही कारण है कि आये दिन मीडिया में उनके बयान सामने आते रहते हैं। शिवराज सिंह सरकार के मंत्रिमंडल से विधायक अजय विश्नोई सबसे ज्यादा नाराज चल रहे हैं।

मंत्रिमंडल के विस्तार की सुगबुगाहट के बीच एक फिर समर्थकों के बयान सामने आने लगे हैं। समर्थकों का कहना है कि अजय विश्वनोई नए मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री बनेंगे। विधानसभा अध्यक्ष का पद उन्हें मंजूर नहीं है। विधायक अजय विश्वनोई ने भी इसकी पुष्टि की है।

विधायक अजय विश्वनोई का बयान सामने आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार में इस बार क्षेत्रीय संतुलन का ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि उन्हें विधानसभा अध्यक्ष का पद नहीं चाहिए। वह कैबिनेट मंत्री ही बनेंगे, उनकी चर्चा मुख्यमंत्री से हो चुकी है।

अजय विश्नोई ने कहा विधानसभा अध्यक्ष पद नहीं चाहिए, कैबिनेट मंत्री बनेंगे, फिर राजेंद्र शुक्ल को नज़रअंदाज़ कैसे करे...

राजेंद्र शुक्ल या अजय विश्वनोई

भाजपा के दो पूर्व मंत्री अजय विश्वनोई और राजेंद्र शुक्ल का दावा काफी मजबूत हैं। दोनों ही मंत्री पद के लिए प्रबल दावेदार हैं। पूर्व सरकार में लगातार मंत्री रहे हैं लेकिन इस बार विपरीत परिस्थिति के कारण इन्हें बाहर रखा गया है।

महाकौशल से अजय विश्वनोई तो विंध्य से राजेंद्र शुक्ल की गिनती प्रमुख नेताओं में होती है। लेकिन मप्र सरकार में पद न होने के कारण सरकार के सामने मुश्किल हो रही है। एक बार फिर मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा शुरू है। लेकिन मंत्रिमंडल में राजेंद्र शुक्ल या अजय विश्वनोई में किसे जगह मिल पाती है, यह स्पष्ट नहीं है।

बेटे ने अपनी जान देकर बचाई माँ की जान : REWA ACCIDENT NEWS

इनके अलावा भी कई अन्य दावेदार भी मंत्री बनने की जुगत लगाए हुए हैं। शिवराज सिंह सरकार में ग्वालियर और मालवा क्षेत्र को पर्याप्त प्रतिनिधित्व मिला है। लेकिन महाकौशल और विंध्य के रीवा से किसी विधायक को कैबिनेट में जगह नहीं मिल सकी है।

REWA में फिर कोरोना का कहर फिर बढ़ा, एक दिन में मिल गए इतने संक्रमित…

Video : ‘कल्याणपूरा से 50 -50 किलोमीटर पर जब बच्चा रोता है’.. गब्बर का डायलॉग मारने वाले पुलिस वाले को कारण बताओ नोटिस जारी

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *