एमपी : कोरियर कार्यालय की आड़ में चल रहे हवाला कारोबार से देश-विदेश तक पहुचाए जा रहे थे रूपये, जानिए कैसे हुआ भंडाफोड़...

एमपी : कोरियर कार्यालय की आड़ में चल रहे हवाला कारोबार से देश-विदेश तक पहुचाए जा रहे थे रूपये, जानिए कैसे हुआ भंडाफोड़…

इंदौर मध्यप्रदेश

एमपी : कोरियर कार्यालय की आड़ में चल रहे हवाला कारोबार से देश-विदेश तक पहुचाए जा रहे थे रूपये, जानिए कैसे हुआ भंडाफोड़…

एमपी/इंदौर। हवाला कारोबारी अपने कारोबार को संचालित करने के लिए इंदौर के सिल्वर मॉल में कोरियर आफिस के नाम से कार्यालय संचालित कर रहे थे। मुख्बीर की सूचना पर इंदौर क्राइम ब्रांच ने कार्यालय में कार्रवाई करके हवाला कारोबारियो को गिरफ्तार कर लिए है। कारोबारियों से 10 लाख 26 हजार 700 रूपये पुलिस ने बरामद किए हैं।

सीधी: दो मासूम बच्चों सहित माँ ने की आत्महत्या, पढ़िए पूरी खबर

क्या थी सूचना

पुलिस का सूचना मिली थी कि गुजरात के रहने वाले कुछ व्यक्ति इंदौर के सिल्वर मॉल में ऑफिस संचालित कर हवाला के रूपयों का लेन देन कर रहे हैं। जिस पर क्राईम ब्रांच की टीम ने थाना तुकोगंज पुलिस के साथ मिलकर सिल्वर मॉल के प्रथम मंजिल 105 बी ब्लॉक पर दबिश दी, तो वहां हवाला के रूपयों की लेन देन की पाई गई।

पुलिस ने इस मामले में 06 आरोपियों को हिरासत में लिया है। पुलिस के मुताबिक आरोपियों में अमन उर्फ आकाश जैन, सलीम रहमान, मंजूर खान, सिमरन बग्गा, राजेन्द्र सिंह राठौर, सजय भाई पटेल पुलिस के पकड़ में आए है।

बताया जा रहा है कि राजेन्द्र सिंह राठौर एवं संजय भाई हवाला कारोबार के मास्टरमाइंड है जिन्होंनें बताया कि उपरोक्त हवाला कारोबार के मालिक गुजरात मेहसाना के रहने वाले संजय-विजय भाई है। हांलाकि वे मौके पर पुलिस को नहीं मिले।

सीधी: एक ही रस्सी में लटकता मिला युवक-युवती का शव, जानिए आखिर क्यों दोनो ने चुना मौत का रास्ता

जबकि संपूर्ण कारोबार का लेन देन अधिकांशतः वही देखते थे जो कि गुजरात के मूल निवासी हैं तथा हवाला के काम के सिलसिले में इंदौर में विगत 04-05 वर्षों से रह रहे थे। पुलिस को भ्रमित करने के लिए किराए का आफिस लेकर कोरियर के काम का होर्डिंग लगाकर हवाला संबंधी पैसों के लेन देन का कामकाज कर रहे थे।

बड़े शहरो में फैला था नेटवर्क

पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि इंदौर के कार्यालय से हवाला के जरिये पैसों का लेन देन मुंबई पुणे, बड़ोदरा, दिल्ली, लखनउ जैसे शहरों में करते हैं। उन शहरों में इनके गुर्गे मौजूद है जो कि वहां नगदी जमा कराकर जमाकर्ता को कोड बता देते है।

संबंधित लेनदार जब इंदौर में कोड बताता है तो वह इंदौर से पैसे प्राप्त कर लेता है। ऐसा ही हवाला में पैसा जमा करते वक्त इंदौर के जमाकर्ताओं को कोड बताया जाता था तथा उन्हें अन्य शहर में पैसे की आवश्यकता होने पर वहां कोड बताने पर हवाला कंपनियों के व्यक्तियों द्वारा पैसा दे दिया जाता था।

जिस पर हवाला कंपनी के द्वारा 300 से 500 रू प्रति लाख के हिसाब से कमीशन लिया जाता था। अवैध तरीके से पैसों के लेन देन व कर चोरी के लिए लोग हवाला के माध्यम से मोटी रकम इधर से उधर करते हैं।

मशीन के साथ बड़े जेब की मिली बनियान

पुलिस को मौके से नोट गिनने वाली इलेक्टिक मशीन, पैसों को रखने वाली बनियान जिसमें अंदर बड़ी-बड़ी जेब होती है। हवाला के लेन देन संबंधी कोड, लेखा जोखा के रजिस्टर व अन्य कागजात मिले हैं। जिन्हें जब्त कर ऑफिस सील किया गया और मौके से करीबन 10 लाख 26 हजार 700 रू जप्त किए गए हैं.

जिला अनूपपुर में भाजपा नेता बिसाहूलाल द्वारा सौ-सौ रुपए बांटने वाली वीडियो वायरल

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook WhatsApp Instagram Twitter Telegram | Google News

यहाँ क्लिक कर हमारा Facebook Page Like करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *