कोरोना अपडेट : बिहार में रिकवरी दर राष्ट्रीय औसत से 6.21 प्रतिशत अधिक, 94.47 पर पहुंची

रीवा में कोरोना ने किया पलटवार, एक बार संक्रमण से ठीक होने के बाद दोबारा फिर संक्रमित हो रहे लोग…

मध्यप्रदेश रीवा

रीवा में कोरोना ने किया पलटवार, एक बार संक्रमण से ठीक होने के बाद दोबारा फिर संक्रमित हो रहे लोग…

रीवा: कोरोना की बढ़ी महामारी दिनरात अब लोगो को परेशान करके रखी है. मध्यप्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण ने अब सरकार को हिला कर रख दिया है. अब सरकार भी सोचने में मजबूर हो गई है की इसके रोकथाम के लिए क्या किया जाए.

रीवा के सिरमौर विधायक एक बार कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद दोबारा संक्रमित हो गए थे ऐसे ही हाल ही में दोबारा फिर डॉक्टर बजाज संक्रमित हो गए है जिसके बाद रीवा में कोरोना के पलटवार ने लोगो को चौका दिया है.  जानकारों की मानें तो दोबारा संक्रमित होना पहले की अपेक्षा ज्यादा खतरनाक है। काबिले गौर है कि सिरमौर विधायक दिव्यराज सिंह विगत माह कोरोना संक्रमित हुए थे। डॉक्टरों द्वारा उनका उपचार किया गया और वह स्वस्थ भी हो गए, लेकिन फिर कुछ दिनों पूर्व उनके दोबारा संक्रमित होने की जानकारी मिली।

‘मैं रूखी-सुखी रोटियां खा सकता हूं’: CM चौहान ने इंदौर के अधिकारी की बहाली रद्द की

वहीं संजय गाँधी अस्पताल के प्रभारी अधीक्षक डॉ नरेश बजाज को भी दोबारा संक्रमित होना बताया गया है, जिनका इलाज इंदौर के अरविंदो अस्पताल में चल रहा है। हफ्ते भर में ही हुए दोबारा संक्रमित अस्पताल के प्रभारी अधीक्षक डॉ नरेश बजाज जब पहली मर्तबा कोरोना संक्रमित हुए तो उन्हें संजय गांधी अस्पताल में आइसोलेट कराया गया।

उपचार के बाद वह स्वस्थ भी हो गए थे और रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें डिस्चार्ज भी कर दिया गया। लेकिन हफ्ते  भर के अंदर वह दोबारा संक्रमित हो गए। उनका ऑसीजन लेबल मेंटेन नहीं हो पा रहा था जिसके चलते उन्हें इंदौर रेफर कर दिया गया।

रेलवे अफसरों ने भोपाल स्टेशन के VIP रूम में किया 22 साल की युवती के साथ रेप, कहा-आओ नौकरी ले लो फिर नशीली ड्रिंक पिलाकर…

इसी तरह से विधायक दिव्यराज सिंह का दोबारा संक्रमित होना कोरोना वायरस के पलटवार करने को बल दे रहा है। इससे स्पष्ट है कि कोरोना वायरस संक्रमण तेजी से फैल रहा है। फिर भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। यह भी धारणा बन गई है कि एक बार कोरोना संक्रमण हो गया तो फिर दोबारा नहीं होगा। यह भी धारणा बन गई है कि एक बार कोरोना संक्रमण हो गया तो फिर दोबारा नहीं होगा।

शरीर में वायरस के खिलाफ एंडीबॉडीज तैयार हो जाएगी, पर ऐसा नहीं है। विशेषज्ञों की मानें तो बुजुर्ग व पहले से ही असाध्य बीमारी से ग्रस्त मरीजों को दोबारा भी संक्रमण हो सकता है। खासतौर से वे लोग जिनकी इम्युनिटी पावर कम है, इसलिए एहतियात की जरूरत है।

[signoff]