रेलवे अफसरों ने भोपाल स्टेशन के VIP रूम में किया 22 साल की युवती के साथ रेप, कहा-आओ नौकरी ले लो फिर नशीली ड्रिंक पिलाकर...

रेलवे अफसरों ने भोपाल स्टेशन के VIP रूम में किया 22 साल की युवती के साथ रेप, कहा-आओ नौकरी ले लो फिर नशीली ड्रिंक पिलाकर…

भोपाल मध्यप्रदेश

रेलवे अफसरों ने भोपाल स्टेशन के VIP रूम में किया 22 साल की युवती के साथ रेप, कहा-आओ नौकरी ले लो फिर नशीली ड्रिंक पिलाकर…

भोपाल। भोपाल स्टेशन पर शनिवार को दिनदहाड़े उत्तर प्रदेश के महोबा जिले की एक युवती के साथ गैंगरेप किया गया। इस सनसनीखेज वारदात को भोपाल स्टेशन के VIP रूम में कोल्ड ड्रिंक्स में नशीला पदार्थ पिलाकर रेलवे के अफसरों ने अंजाम दिया है। आरोपियों में रेलवे का सेटी काउंसलर राजेश तिवारी और इलेक्ट्रिक जनरल भोपाल स्टेशन के इंचार्ज आलोक मालवीय शामिल हैं। नौकरी का झांसा देकर राजेश ने युवती को शनिवार को भोपाल बुलाया था।

‘मैं रूखी-सुखी रोटियां खा सकता हूं’: CM चौहान ने इंदौर के अधिकारी की बहाली रद्द की

पीडि़ता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी राजेश तिवारी और आलोक मालवीय के खिलाफ गैंगरेप का केस दर्ज कर दोनों को गिरतार कर लिया है। जीआरपी ने रूम से शराब की बोतल, आपत्तिजनक सामग्री जप्त कर रूम को सील कर दिया है। देर रात तक दोनों से पूछताछ चलती रही। एसपी रेल हितेश चौधरी ने बताया कि 22 वर्षीय युवती महोबा उत्तर प्रदेश की रहने वाली है और बारहवीं पास है। वह नौकरी की तलाश में थी।

झांसी के एक रिश्तेदार के माध्यम से उसकी बातचीत डीआरएम कार्यालय में पदस्थ सेटी काउंसलर राजेश तिवारी से हुई। काफी दिनों तक उनके बीच बातचीत चलती रही। इस दौरान राजेश ने उसे नौकरी लगवाने का झांसा दिया। झांसे में आई युवती शनिवार को भोपाल एक्सप्रेस से भोपाल पहुंची। यहां उसे राजेश ने रिसीव किया और उसे भोपाल रेलवे स्टेशन के फर्स्ट फ्लोर स्थित वीआईपी रूम में रुकवा दिया।

रीवा में शुरू होगी फिर से दीनदयाल रसोई योजना, इस बार ये होगा ख़ास…

इसके बाद राजेश वहां से चला गया। दोपहर करीब 12 बजे राजेश के साथ उनके मित्र आलोक मालवीय युवती के रूम में पहुंचे। जहां उन्होंने खुद शराब पी और युवती को कोल्ड ड्रिंक्स में कुछ नशीला पदार्थ पिला दिया। कुछ देर बाद युवती बेहोश हो गई। इसके बाद उसके साथ दोनों ने गैंगरेप किया। करीब दो घंटे बाद युवती को होश आया तो दोनों वहां से गायब थे। इसके बाद युवती जीआरपी थाने पहुंची और आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया।

इमरजेंसी में ज़ीरो बैलेंस होने पर भी निकाल सकतें हैं पैसे, पढिये पूरी खबर

[signoff]