त्यौहारों में छूट, अब हो रही कार्रवाई, प्रशासन की अजब-गजब कहानी : REWA NEWS

रीवा: साजिश के तहत पात्र शिक्षकों को अपात्र कर दिखाया जा रहा बाहर का रास्ता

मध्यप्रदेश रीवा

रीवा: साजिश के तहत पात्र शिक्षकों को अपात्र कर दिखाया जा रहा बाहर का रास्ता

रीवा। क्यूटी स्थित शासकीय रामकृष्ण स्मारक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय क्यूटी के शासनाधीन होने के बाद शिक्षकों के रिजल्ट सत्यापन हेतु सूची में षड्यंत्र कर हेराफेरी का आरोप लगा है। संस्था में कार्यरत प्राचार्य सहित 82 शिक्षक कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है ।

रीवा : कृषि विधेयक बिल को लेकर किसानों में आक्रोश, पढ़िए

पात्रों को नियमितीकरण हेतु अपात्रों की सूची में डालने की साजिश की जा रही है । यह सारी असंवैधानिक गतिविधि शिक्षा विभाग के प्रमुख अधिकारियों की निगरानी में हो रही है ।ज्ञात हो 82 शिक्षक कर्मचारियों ने इस फर्जीवाड़े की शिकायत कलेक्टर से की थी तब कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारी से मामले की जानकारी ली और जांच कर उचित कार्रवाई के निर्देश के दिए थे। उसके बावजूद मामले में अब तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं की गई है।

अधिकारियों कर्मचारियों में मचा हड़कंप, अधिकारी की रिपोर्ट COVID19 पॉजिटिव

शिक्षा विभाग की ओर से कहा जा रहा है कि पात्र 82 शिक्षक कर्मचारियों के दस्तावेज डीईओ कार्यालय से गायब हो गए हैं। पात्र शिक्षकों ने कलेक्टर को शिकायत में बताया कि द्विवेदी को शिक्षा समिति ने हटा दिया था इसके बाद भी फर्जी तरीके से रिकॉर्ड में हेराफेरी कर प्राचार्य बन बैठे हैं ।

शिकायतकर्ता ने अनुरोध किया है कि दोनों रिकॉर्ड का जब तक परीक्षण ना हो जाए तब तक संविलियन की प्रक्रिया रोकी जाए जिससे पात्र 82 कर्मचारियों को लाभ मिल सके और चंद्रमा द्विवेदी द्वारा कूट रचित प्रस्तुत दस्तावेज जो जिला पंचायत और जिला शिक्षा कार्यालय में प्रस्तुत किए गए हैं उसके आधार पर हो रही संविलियन की कार्रवाई को रोका जाए। जिससे 82 कर्मचारियों के साथ अन्याय हो सके।

अवैध वसूली, जालसाज़ी ,जैसे गम्भीर आरोप लगा कर आयुक्त से की शिकायत

[signoff]