मुख्यमंत्री शिवराज का आरोप, कमलनाथ हमारे विधायकों को फ़ोन कर रहे है और कह रहे आओ जितना पैसा चाहिए ले लो, डरा धमका कर भी...

शिवराज ने कहा कमलनाथ ने सब बर्बाद कर दिया और फिर बदल दिया कमलनाथ का बड़ा फैसला…

मध्यप्रदेश

शिवराज ने कहा कमलनाथ ने सब बर्बाद कर दिया और फिर बदल दिया कमलनाथ का बड़ा फैसला…

भोपाल : मध्यप्रदेश में जबसे भाजपा सरकार बनी है वो लगातार कमलनाथ के फैसले बदलती जा रही है. मिली जानकारी के मुताबिक शिवराज ने कहा की अब कलेक्टरो के पदनाम में बदलाव नहीं किया जायेगा और इस फैसले के बाद ही फाइल को बंद कर दिया गया. 

आपको बता दे की 2018 में कांग्रेस सरकार बनने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लगातार कई फैसले किये थे जिसके बाद उन फैसलों पर मुहर भी लगा दी गयी थी. 

रीवा में खाद्य नियंत्रक अधिकारी की कोरोनावायरस से मौत, पढ़िए पूरी खबर

कमलनाथ ने कलेक्टरो के उपनाम बदलने का फैसला किया था और कहा था कलेक्टर अंग्रेजो का दिया नाम है हम इसे बदल देंगे। कमलनाथ ने इस फैसले पर मुहर भी लगा दी थी इसके बाद मध्यप्रदेश में तख्ता पलट हो गया था. 

कमलनाथ ने कहा की शिवराज जनता के और अधिकारियो के नियमो से खेल रही है जनता इसका जवाब उपचुनाव में देगी। भला ही शिवराज जितना भी दिखावा कर ले लेकिन सबको पता है ये सरकार जनता की नहीं है. 

कलेक्टरों का पदनाम बदलने के लिए 5 आइएएस अफसरों की एक कमेटी बनाई गई थी। नाम को लेकर मंथन चलता रहा और डेढ़ साल तक सत्ता में रहने के बाद भी सरकार निष्कर्ष तक नहीं पहुंच पाई थी। उसके बाद मार्च 2020 में कमलनाथ की सरकार गिर गई।

रीवा में है देश का इकलौता ऐसा अस्पताल, जहां इलाज नहीं ‘मौत’ मिलती है

भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा ने बिना नाम लिए दिग्विजय पर कसा तंज, पढ़िए

मध्यप्रदेश में कोरोना संख्या बढ़कर 73574 हुई, 29 लोंगो की मौत, पढ़िए

[signoff]