इंदौर में बनेगा एशिया का सबसे बड़ा बायो-सीएनजी प्‍लांट, पढ़िए

इंदौर में बनेगा एशिया का सबसे बड़ा बायो-सीएनजी प्‍लांट, पढ़िए

इंदौर मध्यप्रदेश

इंदौर में बनेगा एशिया का सबसे बड़ा बायो-सीएनजी प्‍लांट, पढ़िए

Indore ( शशांक द्विवेदी ) : मध्यप्रदेश के सबसे स्वच्छ शहरो का खिताब जीतने के बाद इंदौर विकास की नई गाथाये लिखते जा रहा है. मध्यप्रदेश का मिनी बॉम्बे कहे जाना वाला इंदौर यूँ ही नहीं सबसे दिल में बसता है. इंदौर की सफाई और रौनकता मानव को अपनी ओर आकर्षित करता है. 

कहते है जो इंदौर एक बार आता है वह इंदौर का ही हो जाता है. पोहा-जलेबी के लिए मशहूर इंदौर खान-पान के लिए सबसे अग्रेसर है. आज हम आपको बताना चाहते है इंदौर एक बार फिर एक बड़ा मुकाम हासिल करने जा रहा है. 

सील होगी रीवा की कई शराब दुकाने, कारण कर सकते है आपको दंग…

मिली जानकारी के मुताबिक इंदौर में एशिया का सबसे बड़ा बायो-सीएनजी प्‍लांट बनने जा रहा है. जिसका शिलान्यास खुद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करेंगे। 

इस बायो-सीएनजी प्‍लांट की गैस का उपयोग बस और ऑटो चलाने में किया जायेगा। शहर के देवगुराड़िया में ट्रेंचिंग ग्राउंड पर गीले कचरे के निष्‍पादन के लिए 550 टन की क्षमता वाला बायो मेथेनाइजेशन प्‍लांट का निर्माण किया जाएगा। इस प्‍लांट से 17,500 टन किलोग्राम बायो सीएनजी का प्रतिदिन उत्‍पादन होगा।

बायो-सीएनजी प्‍लांट को बनाने का लक्ष्य 2021 के पहले महीने में पूरा हो जायेगा। मिली जानकरी के मुताबिक काम तेजी से चालू कर दिया गया है. आपको बता दे की प्लांट बनने के बाद कई बेरोजगारों को नौकरी भी मिलेगी और मध्यप्रदेश एक बार फिर दुनिया की नज़रो में अपने को मशहूर करेगा। 

रीवा: बाणसागर के 14 गेट अब भी खुले, बकिया और बीहर भी ओव्हर फ्लो

MP: नर्मदा खतरे के निशान से 9 फीट ऊपर, होशंगाबाद, नरसिंहपुर, जबलपुर समेत कई जिलों में बाढ़ से हालात बिगड़े..

मध्यप्रदेश के 9 जिलों में भारी बाढ़, होशंगाबाद, सीहोर तथा रायसेन के कई गांव बाढ़ से घिरे

[signoff]