मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा मेरी भी सुनो, विंध्य से होना चाहिए स्पीकर..

मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा मेरी भी सुनो, विंध्य से होना चाहिए स्पीकर..

मध्यप्रदेश सतना

मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी ने कहा मेरी भी सुनो, विंध्य से होना चाहिए स्पीकर..

मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने मांग की है कि विधानसभा का अध्यक्ष विंध्य के किसी विधायक को बनाया जाए। उन्होंने आज मीडिया से चर्चा में कहा कि विंध्य को समुचित प्रतिनिधित्व मिलना चाहिए। गौरतलब है कि मंत्रिमंडल में इस बार विंध्य को प्रतिनिधित्व बेहद कम मिला है।

अब मांग की जा रही है कि विधानसभा अध्यक्ष का पद विंध्य को मिलना चाहिए। इसके लिए तीन से चार विधायक दावेदारी भी कर रहे हैं। हालांकि खुलकर सामने नारायण त्रिपाठी ही आए हैं। नारायण त्रिपाठी पूर्व में भी  पार्टी लाइन से हटकर खुलकर अपनी बात कहते रहे हैं।


मध्यप्रदेश: नवंबर में होगी जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा, 3 लाख से ज्यादा आवेदन

भोपाल: परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारो की मांग के बाद आयोजित होने वाली जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा के आवेदन ारे जाने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। जेल प्रहरी के करीब 280 पदों के लिए 3 लाख 7 हजार आवेदन आए हैं। इस हिसाब से 1 पोस्ट के लिए 1 हजार से ज्यादा उम्मीदवारो के बीच कंपटीशन रहेगा।

कोरोना काल में होने वाला यह एग्जाम नवंबर में होगा। जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा के आवेदन भरे जाने की अंतिम तारिख 24 अगस्त थी। अभी तक 3 लाख से ज्यादा आवेदन आए हैं। प्रहरी के पदों की संया इस बार कम है, लेकिन लंबे समय से प्रदेश में भर्ती परीक्षा नहीं हुई है। इस वजह से आवेदन की संख्या बढ़ गई है। आवेदन की संया बढऩे से उम्मीदवारो के बीच कंपटीशन भी बढ़ा है। 

अचानक आरएसएस मुख्यालय पहुंचे सिंधिया, फिर हुआ कुछ ऐसा…

ह स्थिति तब है, जब जेल प्रहरी के लिए सरकार ने आयु सीमा में बढ़ोतरी नहीं की है। आयु सीमा 33 साल ही हो गई है। ओवर ऐज हो चुके उम्मीदवार आयु सीमा 37 साल किए जाने की मांग कर रहे थे। अगर आयु सीमा बढ़ जाती है, तो इस भर्ती परीक्षा के लिए 5 लाख से ज्यादा आवेदन आ जाते। जानकारी के मुताबिक इस परीक्षा की तैयारी कर रहे करीब 2 लाख उम्मीदवार ओवर ऐज हो चुके हैं। इस वजह से वे परीक्षा के लिए आवेदन ही नहीं कर पाए हैं।

कोरोना काल में पहला बड़ा एग्जाम जेल प्रहरी के लिए ऑनलाइन भर्ती परीक्षा 3 नवंबर से शुरू होगी। प्रदेश में कोरोना संक्रमण काल में यह पहली भर्ती परीक्षा होगी। ऐसे में पीईबी के लिए ाी एग्जाम कराने की बड़ी चुनौती है। इतनी बड़ी भर्ती परीक्षा पीईबी लंबे समय बाद करा रहा है। इसको देाते हुए पीईबी ने ऑनलाइन भर्ती परीक्षा की तैयारी आी से शुरू कर दी है।

रीवा संभाग में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता तथा सहायिका की होगी भर्ती

रीवा: कोरोना के खिलाफ जंग में सहयोगी बन रहे हैं कोरोना योद्धा सफाई कर्मी “सफलता की कहानी “

केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने किया ऑनलाइन लोकार्पण, रीवा की दो सड़के भी शामिल

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:  FacebookTwitterWhatsAppTelegramGoogle NewsInstagram