ज्योतिरादित्य सिंधिया के मोदी कैबिनेट में शामिल होने की सुगबुगाहट, ऐसे बन रहें हैं समीकरण

अचानक आरएसएस मुख्यालय पहुंचे सिंधिया, फिर हुआ कुछ ऐसा…

ग्वालियर मध्यप्रदेश राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय

अचानक आरएसएस मुख्यालय पहुंचे सिंधिया, फिर हुआ कुछ ऐसा…

ग्वालियर: कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए राजयसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया मंगलवार को आरएसएस मुख्यालय नागपुर पहुंचे। यहां उन्होंने संघ नेताओं से मुलाकात की। माना जा रहा है कि इस मुलाकात में उन्होंने प्रदेश में होने वाले उपचुनाव को लेकर संघ नेताओं से चर्चा की।

भाजपा में शामिल होने के पांच महीने बाद सिंधिया पहली बार नागपुर गए हैं। यहां पहुंचने के बाद सिंधिया सबसे पहले संघ के संस्थापक डाटर केशवबलिराम हेडगेवार के निवास स्थान गए और वहां से रेशम बाग स्थित हेडगेवार मंदिर पहुंचे। यहां उन्होंने मीडिया से चर्चा में कहा कि यह सिर्फ एक निवास स्थान नहीं बल्कि प्रेरणास्थल है। यह स्थान देशसेवा के लिए ऊर्जा प्रदान करता है।

केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने किया ऑनलाइन लोकार्पण, रीवा की दो सड़के भी शामिल

उन्होंने कांग्रेस में चल रही अदरूनी खींचतान पर टिप्पणी करने से इंकार करते हुए कहा कि मैं भाजपा कार्यकर्ता हूं, किसी दूसरी पार्टी के अंदरूनी मसलों पर बोलना उचित नहीं है। सिंधिया के नागपुर दौरे को लेकर सियासी अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। भाजपा पर संघ का दबदबा किसी से छिपा नहीं है।

माना जा रहा है कि संघ मुयालय जाकर वे अब संघ नेताओं से ाी अपने रिश्ते मजबूत करना चाहते हैं। हालांकि उनकी दादी मां राजमाता विजयाराजे सिंधिया का संघ में भरपूर सम्मान रहा है। राजमाता के योगदान को संघ हमेशा याद ाी करता है पर पिता माधवराव सिंधिया के कांग्रेस से जुड़ाव के कारण सिंधिया परिवार संघ से दूर हो गया था। अब ज्योतिरादित्य सिंधिया फिर से उसी जुड़ाव के लिए प्रयास करते दिख रहे है

रीवा: संजय गाँधी अस्पताल में शव बदलने के मामले में बड़ा एक्शन, इन पर गिरी गाज

सिंगरौली: गणेश प्रतिमा विर्सजन के लिए स्थानो को किया गया चयनित

मध्यप्रदेश: अनूपपुर में करेंगे 16 करोड़ 94 लाख का विकास, पढ़िए

[signoff]