'सोनम गुप्ता बेवफा है' की तरह नोटों में छाए ज्योतिरादित्य सिंधिया...पढ़िए...

मध्यप्रदेश: सिंधिया का छलका दर्द, कहा मैंने 11 महीने इंतज़ार किया फिर फैसला लिया…

ग्वालियर मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश: सिंधिया का छलका दर्द, कहा मैंने 11 महीने इंतज़ार किया फिर फैसला लिया…

ग्वालियर: मध्यप्रदेश के राजयसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया का ग्वालियर और चम्बल के दौरे के दूसरे दिन सिंधिया ने सभा के उदबोधन में कहा की मैंने कांग्रेस द्वारा किये गए 10 दिन के वादे का इंतज़ार 11 महीने किया लेकिन उन्होंने सिर्फ झूट बोला और कोई भी काम नहीं किया। 

ज्योतिरादित्य ने कहा की मै अगर पद का लालची होता तो मुझे मध्यप्रदेश का उपमुख्यमंत्री बनाया जा रहा था लेकिन मैंने मना कर दिया क्यों की मुझे शुरू से पता था ये अपने वादे नहीं निभा पाएंगे। 

रीवा में नशे कारोबारी की शिकायत पुलिस से करना पड़ा मंहगा, 14 वर्षीय बालक की हत्या, 2 गंभीर, क्षेत्र में भारी बवाल

पैसो का रोना 

सिंधिया ने कहा कमलनाथ हमेशा रोते रहे की हमारे पास पैसे नहीं है और हम कोई काम नहीं कर पा रहे है. भाजपा ने सारे पैसे खा लिए फिर मै आपसे पूंछता हूँ की शिवराज जी के आते ही कैसे पैसो को बारिश हो गई और सभी जगह बराबर पैसे भेजे जा रहे है. 

सिंधिया ने कहा कि मैं इन लोगों से लगातार ये अपील कर रहा था कि जनता से किए गए वादों को पूरा करिए लेकिन जब 11 महीने तक सरकार ने कोई काम नहीं किया तो मैंने सड़कों पर उतरने की बात की। सिंधिया ने कहा कि कन्यादान की राशि शिवराज सरकार में 21 हजार थी जिसे बढ़ाकर कमलनाथ ने 51 हजार किया लेकिन शादी के 1 साल बीते जाने के बाद भी 51 हजार रूपए की राशि इन्हें नहीं मिली।

रीवा: लड़की को छेड़ रहे मनचले की भाई-बहन ने मिलकर कर दी कुटाई, देखे वीडियो

मध्यप्रदेश: एक ही परिवार के 5 सदस्यों की मौत, सभी का शव फांसी में लटकता मिला, हड़कंप

म.प्र. के इन जिलों में होगी भारी बारिश , IMD ने दी चेतावनी

सीधी: गोपद नदी का सीना चीर रहे खनिज माफिया, शाम ढलते ही शुरू हो जाता है अवैध रेत का कारोबार…

रीवा कलेक्टर का आदेश, भारी वाहन नही कर सकेंगे प्रवेश, जानिए कौन कौन से मार्ग बदले गए

इंदौर की सड़को में चल रही नाव, फंसे लोगो को रेस्क्यू कर निकाला जा रहा…

मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश में भारी बारिश होने की आशंका जताई, जानिए कौन कौन से जिले होंगे प्रभावित

‘आपदा ही अवसर है’ को गंभीरता से लेते हुए कोरोना के नाम पर करोड़ों डकार गया रीवा का CMHO, अब EOW खोल रही है पोल

[signoff]