युवा डॉक्टर की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत, रीवा में होगा अंतिम संस्कार

मध्यप्रदेश

भोपाल। शाहपुरा इलाके में सडक़ हादसे में बंसल अस्पताल के युवा डॉक्टर प्रकाश सिंह की हुई मौत के मामले में कार चालक की लापरवाही के साथ सडक़ का खराब होना हादसे की बड़ी वजह रही है। जिस जगह हादसा हुआ उस मार्ग की एक लेन की पूरी सडक़ खराब है। दरअसल, स्वर्ण जयंती पार्क के पीछे वाली सडक़ टू लेन है। यह मार्ग गुरुकुलम स्कूल से होते हुए दानिश कुंज व गुलमोहर के लिए जाता है। टू लेन मार्ग में एक तरफ की सडक़ पूरी तरह उखड़ी हुई है, जबकि स्वर्ण जयंती पार्क से दानिश कुंज जाने वाली एक तरफ की सडक़ का डामरीकरण कुछ दिनों पहले हुआ है। इस कारण इस मार्ग से आने-जाने वाले दोनों वाहन इसी सिंगल सडक़ से आ-जा रहे हैं। आने-जाने वाले वाहनों की रफ्तार तेज होती है। जो हादसे का कारण बन रही है।

रीवा में होगी अंत्येष्टि
आरती, प्रकाश का एक डेढ़ साल का बेटा है। घटना की जानकारी लगते ही दुधमुंहे बेटे को लेकर आरती फफकती रहीं। वह बार-बार बेसुध हो जा रही थीं। परिजन किसी तरह उन्हें ढाढस बंधाते। पीएम होने के बाद परिजन डाक्टर का शव लेकर रीवा रवाना हुए। उनका रीवा में अंतिम संस्कार होगा।

घर नहीं पहुंच सके
बताया गया कि बंसल अस्पताल में नेत्र वार्ड के दो साल पूरे होने पर एक अगस्त की सुबह 11 बजे के करीब एक पार्टी रखी गई थी। जिसमें शामिल होने के लिए डा. प्रकाश सिंह आए हुए थे। जिसमें केक काटा गया। आयोजन के बाद डॉक्टर घर जा रहे थे। रास्ते में कार ने उन्हें टक्कर मार दी।

एक्सीडेंट के बाद कार छोडकऱ भाग निकला
प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि कार के आगे टैंकर चल रहा था। जिसे कार चालक ने तेज रफ्तार में ओवर टेक किया। तभी सामने से बाइक से आ रहे डॉक्टर को उसने जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर के बाद चालक कार को मौके पर छोडकऱ फरार हो गया। लोगों को शुरूआत में लगा कि हादसा टैंकर से हुआ है। लेकिन लावारिस हालत में खड़ी क्षतिग्रस्त कार मिली तो हादसे का खुलासा हो सका।