मौके की तलाश में Kamalnath, सभी संभावित मंत्रियों को भोपाल में रहने के निर्देश, मंत्री पद की खींचतान में कही सत्ता न चली जाए

संक्रमित कैदियों को SATNA और REWA लाने पर भड़के EX CM KAMALNATH

मध्यप्रदेश रीवा सतना

संक्रमित कैदियों को SATNA और REWA लाने पर भड़के EX CM KAMALNATH

मध्यप्रदेश के EX CM KAMALNATH ने लॉकडाउन के बावजूद रासुका के बंदियों को इन्दौर से सतना जिले में स्थानांतरित करने के निर्णय पर आश्चर्य व्यक्त किया और कहा कि इससे तो संक्रमण अन्य जिलों में भी फैलेगा। गौरतलब है कि इनमें से कुछ कैदियों को जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है।

वहीं इन बंदियों को विंध्य इलाके में भेजने का क्षेत्र के लोग भी विरोध कर रहे हैं। क्योंकि इससे पहले SATNA और REWAजिले में अब तक संक्रमण का कोई मामला नहीं है। कमलनाथ ने रविवार को ट्वीट किया, ‘‘बड़ा ही आश्चर्यजनक है कि जब प्रदेश में लॉकडाउन है , कई जिलों में कर्फ़्यू है , कई जिलों की सीमाएं सील हैं, कोरोना के संक्रमण को देखते हुए आमजन को भी एक ज़िले से दूसरे ज़िले में जाने की इजाज़त नहीं है और ऐसे में इंदौर से रासुका के अपराधियों को सतना भेज दिया गया और वे कोरोना वायरस से संक्रमित निकले। इससे तो कोरोना वायरस का संक्रमण अन्य जिलों में भी फैलेगा।’’ 

वेतन और पेंशन देने के लिए SHIVRAJ सरकार लेगी 14,237 करोड़ का कर्ज

रीवा के एक दवा व्यापारी ने कहा,‘‘ अब यहां दहशत का वातावरण है। हम लोगों की सुविधा के लिए दुकान खोलते थे लेकिन अब कोरोना वायरस के यहां फैलने का खतरा बढ़ गया है, इसलिए हम अपनी दुकानें अनिश्चितकाल के लिए बंद कर रहे हैं।’’ कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे पुष्पराज सिंह ने कहा,‘‘ हमने यहां लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन किया लेकिन इस निर्णय ने यहां स्थिति को पूरी तरह से बदल दिया है।  कोरोना वायरस के मरीजों को इन्दौर से सतना और फिर रीवा नहीं भेजा जाना चाहिए था। हमारी मांग है कि इन कैदियों को रीवा से भोपाल या इन्दौर वापस भेजा जाए।

SATNA से REWA लाए गए 2 CORONA कैदियों को लेकर पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल का बड़ा बयान, पढ़िए

Facebook Comments