देश या प्रदेश के बाहर यात्रा करने वालों को नहीं मिलेगी एंट्री, नीचे अपने जिले की सूची देखें : MP NEWS

मध्यप्रदेश

भोपाल। मध्य प्रदेश स्वास्थ्य विभाग ने एक आदेश जारी किया है। इस आदेश में स्वास्थ्य विभाग ने लिखा है कि 15 फरवरी के बाद देश या प्रदेश के बाहर यात्रा करने वालों व्यक्ति को लॉकडाउन के दौरान किसी भी संस्थान में एंट्री नहीं दी जाए। स्वास्थ्य विभाग ने यह आदेश उन संस्थानों को दिया है जो लॉकडाउन के दौरान खुले है। आदेश देते हुए स्वास्थ्य विभाग ने लिखा है कि औद्योगिक संस्थान या अन्य में एमपी के बाहर या देश के बाहर यात्रा करने वालों को प्रवेश न दें।

लिस्ट जारी की जा चुकी है

आप को बता दें कि सरकार अब ऐसे लोगों को लिस्ट जारी की है जो 15 फरवरी के बाद देश या प्रदेश के बाहर की यात्रा की है। सरकार का कहना है कि ऐसे लोगों की लिस्ट जारी की जा चुकी है और अब इन लोगों के बारे में पता लगाया जा रहा है कि इन्हें कोरोना के संक्रमण तो नहीं है।

सरकार ने होम क्वारेंटाइन के लिए प्रेरित किया

कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए अब मध्यप्रदेश सरकार द्वारा 15 फरवरी के बाद विदेश से लौटे मध्यप्रदेश के लोगों की जिलेवारे सूची जारी की है। जिसमें एक माह में 12 हजार से अधिक नागरिक मध्यप्रदेश लौटे हैं। जिनहें सरकार ने होम क्वारेंटाइन के लिए प्रेरित किया है।

इंदौर आने वालों की संख्या सबसे ज्यादा
विदेश से लौटे मध्यप्रदेश के लोगों की जिलावार सूची के अनुसार 15 फरवरी से 26 मार्च तक मध्यप्रदेश में 12 हजार 125 लोग आए। जिनमें विदेश से इंदौर आने वालों की संख्या 4 हजार 415 सर्वाधिक है। भोपाल आने वालों की संख्या 2 हजार 605, जबलपुर 725, ग्वालियर 689, उज्जैन 605, रतलाम 510, सागर 205, नीमच 206 की है, और सबसे कम लोग अलीराजपुर 1 और शहडोल 1 की है।

प्रशासन की सख्त चेतावनी
प्रशासन ने कोरोना के प्रकोप पर नियंत्रण के लिए सख्त कदम उठाते हुए पॉजिटिव मिले मरीजों के घरों को सील कर एपिसेंटर घोषित कर दिया है। मरीज के परिजन होम क्वारेंटाइन पीरियड में रहेंगे। प्रशासन ने सख्त चेतावनी देते हुए घरों से बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके बावजूद बेवजह घरों से बाहर निकलना भयावह स्थित निर्मित होने की दिशा में बढ़ रहा है।

संक्रमण को रोकने के लिए बफर जोन
कोरोना से दो मौत के बाद अब प्रशासन की चिंताएँ बढ़ती जा रही है। तीन दिन में 11 संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। ऐसे में लोगों को बचाने के लिए मास्क और सेनिटाइज के साथ घरों से बेवजह बाहर ना निकले और 1 मीटर की दूरी में रहने के सख्त निर्देश जारी किए हैं। साथ ही पीड़ित के घर से बाहर के 5 किलोमीटर की परिधि को बफर जोन घोषित किया गया है। इस क्षेत्र के रहवासियों की रैंडम जांच की जाएगी। चिंहित एडिया को नगर निगम सेनिटाइज किया जाएगा।

तैयार रहें सभी अस्पताल
कोरोना के खिलाफ लड़ने के लिए हमारे पास काफी सीमित संसाधन हैं। इंदौर शहर में सरकार और निजी सभी को मिलाकर आईसीयू में करीब 300 बेड हैं, जबकि इनमें 200 पर ही वेंटिलेटर व्यवस्था है। इंदौर में जिस तेजी से कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है, उस हिसाब से स्वास्थ्य विभाग ने पहले से ही छोटे-बड़े निजी अस्पतालों को तैयार रहने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

राज्य शासन द्वारा 15 फरवरी के बाद विदेश से लौटे मध्यप्रदेश के लोगों की जिलावार सूची जारी की जा रही है। नीचे अपने जिले की सूची देखें, और सूची में आपके परिचित या पड़ोसी हैं तो उन्हें होम क्वारेंटाइन के लिए प्रेरित करें।

Bhopal 2605
CHATARPUR 195
CHHINDWADA 98
DAMOH 9
DATIA 3
DEVAS 122
Dhar 134
DINDORI 3
GAWLIOR 689

Guna 67
Harda 13
HOSHANGABAD 197
Indore 4415
JABALAPUR 725
JHABUA 14
KAHNDWA 212
Katni 153
KHARGONE 51
MANDSAUR 45
MORENA 20
Narsinghpur 47
NEEMACH 206

PANNA 7
Raisen 29
RAJGARH 12
Ratlam 510
Rewa 60
Sagar 205
Satna 156
Sehore 135
SHAHDOL 1
Shivpuri 43
Sidhi 12

Singrauli 13
Tikamgarh 28
Ujjain 605
UMARIA 20
Vidisha 77

Facebook Comments