MP के रीवा समेत 25 से ज्यादा जिले Lock-Down, जानिए ताजा हाल…

उज्जैन मध्यप्रदेश रीवा शहडोल

Madhya Pradesh Coronavirus Lockdown Live : मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 6 हो गई है। लंदन से भोपाल आई एक युवती कोरोना वायरस पॉजिटिव मिली है। वहीं जबलपुर में कोराना से पीड़ित आभूषण व्यापारी का सेल्समैन भी जांच के बाद पॉजिटिव मिला है। कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए मध्य प्रदेश के 25 से अधिक जिलों को अलग-अलग समय के लिए लॉकडाउन किया गया है। लॉकडाउन वाले क्षेत्रों में केलव जरूरी सुविधाएं ही उपलब्ध रहेंगी। प्रदेश में सभी सरकारी अधिकारी और कर्मचारी 31 मार्च तक घर पर ही रहकर काम करेंगे।

कोरोना वायरस अलर्ट को लेकर मध्य प्रदेश की सभी जानकारी पढ़िए यहां…

रीवा में लॉकडाउन, सड़कों पर पुलिस कर रही चेकिंग
रीवा में लॉकडाउन के दूसरे दिन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने मोर्चा संभाल लिया है। पुलिस सभी को घर में ही रहने की सलाह दे रही है। वहीं सड़कों और चौराहों पर सघन चेकिंग की जा रही है।

बालाघाट ऑटो रिक्शा से घर पहुंचाया गया दूध
बालाघाट में बंद के दौरान जनसुविधा को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने खास इंतजाम किए हैं। इसके लिए सांची दुग्ध प्लांट से गली- गली, घर- घर दूध पहुंचाने का काम किया जा रहा है। शहर के करीब 900 घरों में दूध की आपूर्ति की गई है।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा- लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं ले रहे लोग
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं। गौरतलब है कि जनता कर्फ्यू के दौरान इंदौर के राजवाड़ा और पाटनीपुरा में लोग सड़कों पर उतर आए थे।

उज्जैन जिला लॉकडाउन, सीमाएं सील, वाहन प्रतिबंधित
उज्जैन में लॉकडाउन के बाद सीमाएं सील कर दी गई हैं।‌ सभी तरह के वाहनों को रोका जा रहा है। केवल जरूरी सामान लेकर आने वाले ट्रक आदि प्रवेश कर रहे हैं। इधर, शहर में भी लॉकडाउन का असर दिख रहा है। हालांकि जरूरी वस्तुओं की दुकानें खुली हुई हैं।‌ इनमें दवा, दूध, किराना आदि दुकानें शामिल हैं।

सैनिटाइजर और मास्क न मिलने से अस्पताल से बाहर आए डॉक्टर
शहडोल जिला अस्पताल में मेडिकल डॉक्टर काम छोड़कर बाहर खड़े हो गए हैं इनका कहना है कि ना तो ने सैनिटाइजर मिल रहा है और ना ही मास्क मिल रहे हैं। इनका कहना है कि जनता को अवेयरनेस किया जाए ताकि हम लोगों की भी जान सुरक्षित रहें।

रतलाम में सब्जी लेने के लिए उमड़ी भीड़
सोमवार सुबह रतलाम में सब्जी मंडी खुलते ही यहां लोगों की भीड़ लग गई। कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे के बाद भी लोगों सब्जी लेने के लिए यहां जमा हो गए। बताया जा रहा है कि लोग ज्यादा मात्रा में सब्जी लेकर गए हैं।

दमोह में अब 25 तक चलेगा लॉक डाउन
दमोह कलेक्टर तरुण राठी ने रविवार के लॉक डाउन के बाद रविवार रात 11बजे पुनः आदेश जारी किया है जिसके तहत अब जिले में 25 मार्च तक लॉक डाउन रहेगा। इस दौरान केवल पेट्रोल पंप, मेडिकल जैसी आवश्यक सेवाएं संचालित रहेंगी। धारा 144 भी लागू की गई है जिसका सख्ती से पालन किया जाएगा।

विदिशा में सीमाओं पर रोका जा रहा वाहनों को
विदिशा में दूसरे दिन भी शहर में सुबह के समय सड़कें सूनी रहीं। माधवगंज पर स्थित शिव मंदिर खुला, लेकिन दर्शनों के लिए नहीं पहुंचे श्रद्धालु। जिलों की सीमाओं पर वाहनों को रोका जा रहा है, बाहर से आने वाले वाहनों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। जिले से बाहर भी जाने पर रोक लगी है। जिले की सीमाएं सील होने के बाद पुलिस ने बाहरी वाहनों की जांच शुरू कर दी है। जरूरी कार्यों से आने वाले लोगों को ही शहर में प्रवेश दिया जा रहा है।

लॉकडाउन जिलों में जनता कर्फ्यू जैसा माहौल
मध्य प्रदेश सभी जिलों में लॉकडाउन होने के कारण सोमवार सुबह भी जनता कर्फ्यू जैसा माहौल रहा। सड़कों पर कुछ लोग निकले हैं, लेकिन ज्यादातर पैदल ही थे, जो अपनी कॉलोनी या मोहल्ले में ही आवश्यक काम निकले थे। सब्जी और किराना की कुछ दुकानें खुली रहीं, जिन पर ग्राहक दिख पहुंचे। कुछ दो पहिया वाहन भी सड़कों नजर आए, लेकिन कहीं कोई रोक-टोक नहीं की जा रही है। ज्यादातर लोग घरों के अंदर ही हैं। सभी जगह मंदिर खुले, लेकिन सिर्फ पुजारियों ने ही पूजा की।

Facebook Comments