MP : अब सिर्फ इन चार जिलों को चेतवानी, भारी बारिश से टूट जायेंगे सारे रिकॉर्ड

मध्यप्रदेश

भोपाल। मध्य प्रदेश के कुछ जिलों में मानसून ने मेहरबानी की है। आलम ये हो गया है कि बारिश के कारण अब तो घरों में पानी भरने लगा है। बात अगर टीकमगढ़ की करें तो यहां पर बीते 24 घंटों से हो रही बारिश ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है। अब तक यहां पर 107.0 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। मौसम वैज्ञानिको के मुताबिक मानसून का ये सिस्टन अब राजस्थान की ओर बढ़ चला है। राजस्थान की तरफ चलने के कारण जहां कई क्षेत्रों में बारिश रुकी हुई है वहीं पूर्वी और उत्तरी मध्य प्रदेश के कुछ जिलों में तेज बारिश हो रही है जिसके चलते लोगों को कई परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है।

तेज बारिश की संभावना

मौसम वैज्ञानिको का मानना है कि आने वाले दो दिनों में अच्छी बारिश के आसार बन रहे हैं। इस तेज बारिश का कारण बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम एक्टिवेट होना है। मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। दबाव का क्षेत्र बनने के कारण उत्तरी मध्य प्रदेश में जिसके चलते रविवार-सोमवार को तेज बारिश के आसार बन रहे है। बारिश का ये दौर आने वाले दिनों में भी बने रहने की संभावना है।

दर्ज की गई बारिश

बीते दिनों हुई बारिश से जबलपुर में 56.5, ग्वालियर में 62.1, टीकमगढ़ में 107.0, सागर में 21.0, श्योपुर में 18.0, गुना में 11.2 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई। तेज बारिश के कारण कई जगहों पर सामान्य जन-जीवन भी अस्त-व्यस्त हुआ लेकिन समय रहते हालात पर काबू पा लिया गया।

बढ़ गया है जल स्तर

मध्य प्रदेश के कई शहरों में बारिश से नदियों और तालाबों का जलस्तर बढ़ गया है। कई जगहों पर हालात ऐसे हो गए है कि पानी सड़कों पर आ चुका है और इसी कारण कई जगह जानलेवा हालात बन रहे हैं। बात नीमच जिले की करें तो यहां पर बीते 7 दिनों से तेज बारिश हो रही है। जिस कारण सभी नदी-नाले उफान पर है, पुल और पुलिया पानी में डूब चुके हैं। वहीं कई गांव बाढ़ की चपेट में आ चुके हैं।<