लो आ गयी भारी बारिश की चेतावनी, मध्यप्रदेश के शहर होंगे पानी-पानी

मध्यप्रदेश

भोपाल। मानसून में आ रहे लगातार बदलाव के बीच एक बार फिर बारिश का रूख मध्यप्रदेश की ओर होने जा रहा है। जिसके चलते अगले कुछ दिनों तक प्रदेश के कई जिले पानी से तर-ब-तर हो जाने की संभावना है। वहीं मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में भी अभीन आसमान पर हल्के बादल भी छाए हुए है। ऐसे में यहां भी जल्द ही बारिश होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

इसी बीच विदिशा के हैदरगढ़ में पिछले पांच दिनों की तेज बारिश ने करीब आधा दर्जन कच्चे घर ढहा दिए हैं। जिसके चलते क्षेत्र में बारिश को लेकर काफी हद तक खौफ भी बना हुआ है।

भोपाल सहित मध्यप्रदेश के अन्य क्षेत्रों को लेकर जानकारों का कहना है कि अभी तकरीबन तीन दिन यानि 22 से 24 तक प्रदेश के कई क्षेत्रों में भारी बारिश की संभावना है। जबकि भोपाल में अभी बारिश का ब्रैक लगा हुआ है। लेकिन कल यानि 22 जुलाई से कुछ स्थानों पर खंडवृष्टि शुरू हो सकती है। वहीं 24 व 25 जुलाई को भोपाल में भी तीव्र वर्षा का अनुमान लगाया जा रहा है।

मौसम विभाग के पूर्व कर्मचारी रहे एके शर्मा का कहना है कि सेटेलाइट चित्रों में यह साफ दिख रहा है कि आने वाले दिनों में 22 जुलाई को पूर्व मध्यप्रदेश, 23 जुलाई को मध्यप्रदेश के कई हिस्सों व 24 जुलाई को पश्चिमी मध्यप्रदेश में भारी बारिश हो सकती है।

वहीं भोपाल में बादल लगातार अपनी चाल में परिवर्तन कर रहे हैं, जिसके चलते बारिश में 24 व 25 जुलाई को यहां भी तेज बारिश की संभावना बनती दिख रही है। वहीं इसके बाद 26 जुलाई को शाम या सुबह के समय बारिश की संभावना है। जबकि 27 जुलाई को आसमान में हल्के बाद रहने के साथ ही आंधी का भी अंदेशा है।

ये रहेगा भोपाल का मौसम!…

– 22 जुलाई 2018 यानि रविवार को भी बारिश के साथ ही आसमान में बादल रहेंगे। जबकि इस दिन मध्यप्रदेश में कई जगहों पर अच्छी खासी बारिश हो सकती है… खासतौर पर पूर्वी मध्यप्रदेश में।

– 23 जुलाई 2018 सोमवार को न्यूनतम तापमान में कमी के साथ कई स्थानों पर तेज हवा के साथ हल्की या तेज बारिश होने की संभावना है। जबकि इस दिन मध्यप्रदेश में कई जगह भारी बारिश होने का अनुमान है।

– 24 जुलाई 2018 मंगलवार को भी आसमान में बादल मंडराते रहेंगे, इस दौरान राजधनी के कुछ क्षेत्रों में तेज बारिश भी हो सकती है। इसके अलावा यदि पूरे मध्यप्रदेश की बात करें तो इस दिन पश्चिमी मध्यप्रदेश में भारी बारिश की संभावना बनी हुई है।

– 25 जुलाई 2018 बुधवार को तापमान में फिर कमी आएगी। वहीं इस दिन बारिश या आंधी की पूर्ण संभावना है। साथ ही इस दिन राजधानी के आकाश में बादलों का आना जाना लगा रहेगा।

– 26 जुलाई 2018 गुरुवार को बारिश या आंधी की संभावना है, लेकिन आसमान इस दौरान साफ दिख सकता है। जबकि अचानक आए बादल एकाएक बारिश का कारण भी बन सकते हैं। कुल मिला कर खंडवृष्टि जैसे आसार बन सकते हैं।

– 27 जुलाई 2018 शुक्रवार को आसमान में हल्के बादल रहेंगे, कहीं कहीं हल्की बौझारें पड़ सकतीं हैं। इसके अलावा आंधी आने का भी अंदेशा बना हुआ है।

ये रहेगा देश के मौसम का हाल!…
मौसम के जानकारों के अनुसार मानसून की तीव्रता अभी कई देश में कई जगह बनी हुई है। ऐसे में अगले कुछ दिन मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के अलावा देश के कई हिस्सों में तीव्र वर्षा होने की संभावना बनी हुई है…

जानिये कहां रहेगा कैसा मौसम…
22 जुलाई को पूर्व मध्य प्रदेश,ओडिशा और विदर्भ के साथ ही उत्तराखंड, पश्चिम में अलग-अलग स्थानों पर भारी से भी भारी बारिश होने की संभावना है। जबकि मध्य प्रदेश के अन्य क्षेत्रों व गंगा के पश्चिम बंगाल, झारखंड, कोंकण और गोवा, तेलंगाना, तटीय कर्नाटक और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में भी भारी बारिश का अंदेशा बना हुआ है।

23 जुलाई को मध्य प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर व विदर्भ, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा, तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में भी भारी बारिश की संभावना है।

24 जुलाई को मुख्य रूप से पश्चिम मध्य प्रदेश, सौराष्ट्र और कच्छ, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण और अलग-अलग स्थानों पर के साथ ही गोवा, तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक व केरल में भी भारी बारिश की संभावना बनी हुई है।

25 जुलाई को मध्यप्रदेश में बारिश की संभावना कम ही दिखती है, लेकिन इस दिन पूर्व राजस्थान और गुजरात क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों पर भारी से भी भारी बारिश की संभावना है। जबकि सौराष्ट्र और कच्छ, कोंकण और गोवा, तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और अलग-अलग स्थानों पर व केरल में भारी बारिश की संभावना है।

इधर, विदिशा में हुई झमाझम बारिश…
वहीं 21 जुलाई यानि शनिवार को विदिशा में झमाझम बारिश की सूचना है। जानकारी के अनुसार जिलेभर में पिछले पांच दिनों से कहीं रूक-रूककर तो कहीं लगातार हो रही झमाझम बारिश से मौसम में ठंडक घुल गई है।

वहीं विदिशा की तहसील हैदरगढ़ में पांच दिनों से जारी तेज बारिश ने करीब आधा दर्जन कच्चे घर ढहा दिए हैं, लेकिन दूसरे दिन भी प्रशासनिक अमला उनकी सुध लेने नहीं पहुंचा। जिससे ग्रामीणों में नाराजगी है।
शनिवार को सुबह से ही शहर में झमाझम बारिश शुरु हो गई थी, जो शाम तक होती रही। इसके चलते शहर की सड़कें में कई जगह पानी भी गया।

किसानों के चेहरे खिले…
जिले में हुई बारिश से किसानों के चेहरे खिले नजर आए। बारिश से आए पानी ने किसानों के चेहरे पर हंसी ला दी है। किसानों के अनुसार यदि इस बार अच्छी बारिश हुई तो इस बार फसल भी बढ़िया होगी।

अब तक हुई 389.1 मिमी बारिश
भू-अभिलेख शाखा से मिली जानकारी के अनुसार जिलेभर में अब तक 389.1 मिमी औसत बारिश हो चुकी है। वहीं जिलेभर में रविवार की सुबह तक कुल 2.5 मिमी बारिश दर्ज की गई। जबकि वर्ष 2017 में 21 जुलाई तक कुल 399.2 मिमी बारिश हुई थी