CM शिवराज को मिली नई जिम्मेदारी

मध्यप्रदेश

छतरपुर। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री जहां प्रदेश में चौथी बार सरकार बनाने के लिए जन आशीर्वाद यात्रा के माध्यम से मप्र की जनता का आशीर्वाद लेने में इन दिनों लगे हुए है। वहीं उन्हें अब एक नई जिम्मेदारी मिल गई है। लेकिन, वह जनता के आशीर्वाद से नहीं बल्कि गुरू के आशीर्वाद है। जी हां, गुरू की शरण में पहुंचे शिवराज को जो जिम्मेदारी मिली है, उससे शिवराज भी खुश है।

दरअसल, सतना दौरे से लौटे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी पत्नी साधना सिंह के साथ रात में खजुराहो पहुंचे। जहां रात्रि विश्राम भी उन्होंने किया। इसके बाद शुक्रवार की सुबह वह यहां विराजमान जैन संत आचार्य विद्यासागर महाराज के दर्शन करने पहुंचे थे। जहां आचार्यश्री के चरणों में जाकर जब शिवराज ने पुन: मध्यप्रदेश की जनता की सेवा करने का आशीर्वाद मांगा तो आचार्य विद्यासागर मुस्कराने लगते है। भरे कार्यक्रम के बीच आचार्य कहते है कि शिवराज अब आप सिर्फ मध्यप्रदेश नहीं, बल्कि भारत की १२१ करोड़ जनता के बारे में सोचना शुरू कर दीजिए। आचार्य विद्यासागर के इस आशीर्वाद मिलने के बाद शिवराज सिंह भोपाल रवाना हुए।

 

कार्यक्रम के दौरान पहुंचे थे मुख्यमंत्री

छतरपुर से मिली जानकारी के अनुसार खजुराहो में जैन समाज द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शुक्रवार को सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री पहुंचे थे। जहां उन्होंने आचार्यश्री विद्यासागर महाराज के पद का प्राच्छालन किया। साथ ही मध्यप्रदेश की उन्नति और खुशहाली का आशीर्वाद मांगा। इस पर आचार्यश्री ने शिवराज सिंह से कहा कि शिवराज जी आप मप्र ही नहीं पूरे देश के सवा सौ करोड़ देशवासियों की सोचा करो। यह कहते हुए उन्होंने उन्हें अपना आशीर्वाद दिया। शिवराज सिंह को आचार्यश्री ने मंच पर स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर मप्र शासन की राज्यमंत्री ललिता यादव भी मुख्यमंत्री के साथ थी। मुख्यमंत्री कार्यक्रम स्थल पर 30 मिनट तक रुकने के बाद सीधे खजुराहो एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए। यहां से वे भोपाल के चले गए।<