MP Teacher Recruitment : उच्च माध्यमिक शिक्षक भर्ती की 15 हजार पात्र अभ्यर्थियों की प्रोविजनल चयन सूची जारी

Madhya Pradesh
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भोपाल। MP Teacher Recruitment लोक शिक्षण संचालनालय (डीपीआई) द्वारा उच्च माध्यमिक शिक्षक और माध्यमिक शिक्षक भर्ती के लिए ऑनलाइन काउंसिलिंग प्रक्रिया आयोजित की जा रही है। गुस्र्वार देर शाम डीपीआई ने 15 हजार पात्र अभ्यर्थियों की प्रोविजनल चयन सूची और वेटिंग लिस्ट जारी की है। स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत संचालित सरकारी स्कूलों में उच्च माध्यमिक शिक्षकों के 15 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। इसके बाद पात्र अभ्यर्थियों को 25 फरवरी से 15 मार्च तक प्रोविजनल चयनित या वेटिंग लिस्ट के पात्र अभ्यर्थियों द्वारा दस्तावेजों को अपलोड करना और स्कूलों का विकल्प चुनना होगा।

वहीं माध्यमिक शिक्षक भर्ती के पात्र अभ्यर्थियों की प्रोविजनल चयन सूची 29 फरवरी को जारी की जाएगी। इसके बाद 5 से 25 मार्च तक दस्तावेजों को अपलोड कर स्कूलों का चयन करना होगा। पात्र अभ्यर्थियों का कहना है कि विभाग ने पहले ही पात्र अभ्यर्थियों के हिसाब से रिक्त पदों की संख्या प्रदर्शित नहीं की है।

उच्च माध्यमिक शिक्षक व माध्यमिक शिक्षक दोनों वर्गों की पात्रता परीक्षा 2,59,963 अभ्यर्थी पास हुए हैं, लेकिन विभाग सिर्फ 20,670 पदों पर भर्ती कर रहा है। ऐसे में 2 लाख 39 हजार 293 अभ्यर्थी की भर्ती नहीं हो पाएगी। वहीं प्रदेश के सरकारी स्कूलों में 70 हजार शिक्षकों के रिक्त पद हैं। इनमें 20 हजार 670 पद भरने के बाद करीब 45 हजार पद रिक्त रहेंगे। विभाग ने उच्च माध्यमिक शिक्षक के लिए 15 हजार और माध्यमिक शिक्षक के लिए 5,670 पद दर्शाए हैं। अब ऐसे में लाखों अभ्यर्थियों की भर्ती नहीं हो पाएगी।

भाषा में रिक्त पदों की संख्या कम प्रदर्शित

पात्र अभ्यर्थी फिर से आंदोलन करने के मूड में हैं। उन्होंने कहा कि विभाग ने एमपी ऑनलाइन के माध्यम से विज्ञप्ति में बगैर कोई संशोधन किए उच्च माध्यमिक शिक्षकों के 15 हजार पदों के लिए प्रोविजनल चयन सूची जारी की है, जबकि अभ्यर्थियों द्वारा उच्च माध्यमिक एवं माध्यमिक शिक्षकों की जारी रिक्तियों की सूची में संशोधन की मांग की जा रही थी। वहीं हिंदी, संस्कृत और अंग्रेजी में रिक्त पदों की संख्या कम प्रदर्शित की गई है।

इनका कहना है

अभी उच्च माध्यमिक शिक्षक के लिए 15 हजार अभ्यर्थियों की सूची जारी की गई है। अब उनका दस्तावेज परीक्षण किया जाएगा। – गौतम सिंह, संचालक, डीपीआई

Facebook Comments