अब तक 119 TRAIN मध्यप्रदेश आई, आ गए 5 लाख श्रमिक वापस

परिवर्तित मार्ग से चलेगी चार ट्रेनें : SHAHDOL/REWA/SATNA

मध्यप्रदेश रीवा शहडोल सतना

शहडोल. पश्चिम मध्य रेलवे के सोगारिया-दिगोड़ व श्रीकल्याणपुरा और भोनरा स्टेशनों पर दोहरीकरण कार्य के लिए नान-इंटरलाकिंग का कार्य किया जाएगा। इसका असर अन्य दिशाओं की तरफ दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से छूटने व और गुजरने वाली ट्रेनों पर पड़ेगा। यह ट्रेनें जिन मार्गों से चलतीं है। उसकी बजाय बदले रूट से गंतव्य पर पहुंचेंगी। इसके तहत 12 फरवरी को पुरी से रवाना होने वाली 14710 पुरी-बीकानेर एक्सप्रेस बीना-निशातपुरा-नागदा-कोटा मार्ग से गंतव्य तक पहुंचेगी। इसी तरह 13 फरवरी विशाखापत्तनम से रवाना होने वाली 18573 विशाखापत्तनम-भगत की कोठी एक्सप्रेस, 10 एवं 17 फरवरी को, दुर्ग से रवाना होने वाली 18207 दुर्ग-अजमेर एक्सप्रेस और नौ एवं 16 फरवरी को अजमेर से छूटने वाली 18213 अजमेर-दुर्ग एक्सप्रेस में इसी मार्ग चलेगी।
देरी से आई चार ट्रेनें, यात्री हुए परेशान
संभागीय मुख्यालय के रेलवे स्टेशन में शुक्रवार को चार ट्रेनेंं काफी देरी से आई। जिससे यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। देरी से आने वाली टे्रनों में छपरा-दुर्ग सारनाथ एक्सपे्रस अपने निर्धारित समय रात 23.35 बजे के स्थान पर एक घंटा देरी से रात 12.40 बजे पहुंची। रात 12.22 बजे आने वाली अमृतसर-विशाखापटनम हीराकुण्ड एक्सप्रेस डेढ़ घंटे देरी से रात 1.59 बजे आई। रात 1.05 बजे आने वाली रीवा-चिरमिरी पेसेन्जर डेढ़ घंटे देरी से रात 2.38 बजे पहुंची। नवतनवा-दुर्ग एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय रात 1.50 बजे के स्थान पर सवा घंटे देरी से रात 3 बजे शहडोल आई।