MP : आपसी कलह से जूझ रहे कांग्रेसी, जानिये क्यों कमलनाथ के खिलाफ हो गये ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया

मध्यप्रदेश

भोपाल: विधानसभा चुनावों के लिए महज चार महीने ही बचे हों लेकिन 15 सालों से सत्‍ता से दूर रहने के बावजूद तमाम खेमों में बंटी कांग्रेस की अंदरूनी कलह थमने का नाम नहीं ले रही है. इसी कड़ी में सूबे के दो दिग्‍गज कांग्रेसी नेताओं के बीच रहस्‍यमयी ढंग से ऑनलाइन पोस्‍टर वार शुरू हो गया है. इन पोस्‍टरों में मध्‍य प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष कमलनाथ और चुनाव अभियान कमेटी के चेयरमैन और सांसद ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया को एक-दूसरे के खिलाफ दिखाया गया है. इस तरह के एक पोस्‍टर में एक तरह जहां सिंधिया को भावी मुख्‍यमंत्री के रूप में पेश किया गया है, वहीं दूसरी तरफ एक दूसरे पोस्‍टर में कमलनाथ को सीएम दावेदार के रूप में दिखाया गया है. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं जब कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्‍व सभी क्षेत्रीय क्षत्रपों को साधते हुए सामूहिक नेतृत्‍व के रूप में चुनाव लड़ने की बात कह रहा है. सिंधिया और कमलनाथ भी लगातार यह कह रहे हैं कि इस बार के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के सभी धड़े एक साथ एकजुट होकर चुनावी मैदान में उतर रहे हैं.

इसमें रोचक बात यह है कि मुख्‍यमंत्री पद के लिए कमलनाथ के समर्थन वाले पोस्‍टर में निवेदक के रूप में मध्‍यप्रदेश कांग्रेस युवा मित्र मंडल का नाम दिया गया है. इस पोस्‍टर में कहा गया है, ”राहुल भैया का संदेश, कमलनाथ संभालो प्रदेश.” वहीं दूसरी तरफ ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया के समर्थन वाले पोस्‍टर में निवेदक की जगह पर केवल श्रीमंत सिंधिया फैन क्‍लब लिखा हुआ है. इससे यह जाहिर नहीं हो पा रहा है कि यह पोस्‍टर किसने जारी किया है. इसमें चीफ मिनिस्‍टर के रूप में सिंधिया के नाम की वकालत करते हुए लिखा गया है, ”देश में चलेगी विकास की आंधी, प्रदेश में सिंधिया, केंद्र में राहुल गांधी.”

कांग्रेस प्रवक्‍ता ने कहा ये
द टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस के प्रवक्‍ता पंकज चतुर्वेदी ने कमलनाथ और सिंधिया के समर्थकों के बीच किसी भी तरह के पोस्‍टर वार से इनकार करते हुए कहा कि कौन कहता है कि ये लोग कांग्रेस के समर्थक हैं? उन्‍होंने कहा कि ये भी हो सकता है कि ये कथित समर्थक बीजेपी के लोग हों और मीडिया एवं हमारे कार्यकर्ताओं में भ्रम फैलाने के लिए इस तरह की हरकत कर रहे हों.