गैंगरेप से फिर थर्राया मध्यप्रदेश, आरोपी नाबालिग को मरा समझ कर जंगल में फेक गए फिर हुआ ये..

मध्यप्रदेश

मध्य प्रदेश में नाबालिग के साथ गैंगरेप की एक और सनसनीखेज घटना सामने आई है। आरोपी नाबालिग को मरा समझ कर जंगल में फेंककर फरार हो गए। पीड़िता की हालत गंभीर बनी हुई है। इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

जानकारी के अनुसार यह मामला टीकमगढ़ जिले के खरगापुर थाना क्षेत्र के एक गांव की है। पीड़िता के परिवार का गांव के ही कुछ लोगों से विवाद चल रहा था। बुधवार को भी किसी बात को लेकर विवाद हुआ था। बताते हैं, पीड़िता इसी की शिकायत लेकर थाने जा रही थी। इस दौरान बीच रास्ते में चार लोगों ने उसका अपहरण किया और सुनसान जगह पर ले जाकर दरिंदगी की। आरोपियों ने उसको मरा समझकर वहीं छोड़ा और फरार हो गए।

बृहस्पतिवार सुबह ग्रामीणों ने पीड़िता को बेहोशी की हालत में देखकर पुलिस को खबर की। पीड़िता को पहले टीकमगढ़ ले जाया गया, मगर गंभीर हालत को देखते हुए वह झांसी रेफर कर दी गई। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है पर अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

मालूम हो कि मध्य प्रदेश में महिलाओं और नाबालिग बच्चियों के साथ गैंगरेप की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। बीते कुछ दिनों में मंदसौर, सतना, सागर, बैतूल और भोपाल के बाद सामूहिक दुष्कृत्य की यह छठवीं वारदात है।