मध्यप्रदेश : अब इतने उम्र के लोगो को टिकट नहीं देगी कांग्रेस

मध्यप्रदेश

भोपाल : प्रदेश कांग्रेस की नई कार्यकारिणी की पहली बैठक में प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया ने एक बार फिर जता दिया है कि 60 साल से ज्यादा उम्र के नेेताओं को टिकट नहीं दी जाएगी। बावरिया ने कहा कि जो लोग 60-65 साल से ज्यादा उम्र के हैं और कई बार विधायक रह चुके हैं,मंत्री रह चुके हैं,ऐसे नेता टिकट का मोह न पालें बल्कि वो खुद युवाओं को आगे कर उनको जिताएं,सरकार बनने पर ऐसे वरिष्ठ नेताओं को लाल बत्ती से नवाजा जाएगा।

बावरिया ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस का 200 से ज्यादा सीटें जीतने का माहौल है इसलिए नेता टिकट के लिए गलत सिफारिश न करें, पार्टी के साथ छल न करें और ईमानदारी से काम करें। वहीं पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि भाजपा पर मेरी नजर है वो कांग्रेसियों को तोडऩे के लिए सूची बना रही है, ऐसी सूची एक मैं भी बना रहा हूं।

कमलनाथ ने कहा कि जो पदाधिकारी चुनाव लडऩा चाहते हैं वो अभी बता दें,नई टीम के बारे में बयानबाजी न करें जो कुछ कहना है चार महीने के बाद कहें। – बैठक में भरवाया गया शपथ पत्र कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक में शपथ पत्र भी भरवाया गया। इस शपथ पत्र में लिखा था कि कांग्रेस की रीति नीति पर अमल कर अपना दायित्व वैसे ही निभाउंगा जैसे कांग्रेस ने स्वतंत्रता संग्राम में निभाया था। इस बैठक में महिला सुरक्षा, किसानों की बेहतरी और बेरोजगारी को लेकर संकल्प भी पारित किए गए।

– कमलनाथ के जातिवाद पर सज्जन का विरोध कमलनाथ ने बैठक में एक बार फिर कहा कि सभी समाजों को लेकर काम करना है,कोई भी समाज छूट न पाए, जिन समाजों के लोग पहली सूची में रह गए हैं उनको दूसरी सूची में समायोजित किया जाएगा, संगठन की सूची हो या टिकट की सूची सब में सारे समाजों को प्रतिनिधित्व दिया जाएगा। वहीं एआईसीसी के सचिव और पूर्व सांसद सज्जन सिंह वर्मा ने कार्यकारिणी की सूची में पदाधिकारी के सामने उसकी जाति लिखने का विरोध किया है।

वर्मा ने कहा कि ये उचित नहीं है,इसका ध्यान रखना चाहिए। – कांग्रेस बनाएगी उप ब्लॉक अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि ये कांग्रेस की सबसे बड़ी गलती रही कि ब्लॉक अध्यक्ष के सहारे 150 बूथ छोड़ दिए गए,जबकि एक ब्लॉक अध्यक्ष 25-30 बूथ ही देख सकता है। अब कांग्रेस उप ब्लॉक अध्यक्ष बनाने जा रही है,एक ब्लॉक में चार-पांच उप ब्लॉक बनाए जाएंगे जो मंडलम से उपर होंगे और बूथ पर निगरानी रखेंगे।

– किसान कांग्रेस ने खाई गंगा की सौगंध कमलनाथ ने किसान कांग्रेस के साथ भी बैठक की। इस बैठक में किसान कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुर्जर मंच पर भाषण के समय भावुक हो गए, उन्होंने कहा कि किसान कांग्रेस को जिला संगठन तवज्जो नहीं देते,यात्रा में भी नेताओं ने साथ नहीं दिया, लोग सोचते हैं कि ये फर्जी हैं।

गुर्जर ने सभी सदस्यों को गंगा की सौगंध खिलवाई कि टिकट किसी को भी मिले वो कांग्रेस का साथ देंगे। कमलनाथ इस बैठक में 15 मिनट ही रूके, चंद मिनट के भाषण में कमलनाथ ने कहा कि भाजपा गुमराह कर रही है उसकी बातों में नहीं आना है,सबको मिलकर कांग्रेस के लिए काम करना है।