बड़ी खबर : पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सहित इन भाजपा के बड़े नेताओं की हत्या की साजिश, मध्यप्रदेश में हड़कंप 1

बड़ी खबर : पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सहित इन भाजपा के बड़े नेताओं की हत्या की साजिश, मध्यप्रदेश में हड़कंप

Madhya Pradesh

भोपाल (Bhopal) क्राइम ब्रांच ने दो ऐसे शातिर बदमाशों को पकड़ा है, जिन पर पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) सहित प्रदेश बीजेपी (BJP) के कुछ नेताओं की हत्या की साजिश रचने का शक है.

भोपाल की क्राइम ब्रांच पुलिस उस वक्त सकते में आ गई जब उसे प्रदेश बीजेपी नेताओं की हत्या की साज़िश रचने का इनपुट मिला. उसने पड़ताल की तो शहर के दो शातिर बदमाश हैदर अली और उसका साथी आरिफ हाथ लगे. दोनों आरोपी हत्या, अपहरण सहित कई आपराधिक मामलों में नामजद हैं. हैदर अली, शहर के चूनाभट्टी थाने में दर्ज अपहरण के एक मामले में फरार चल रहा था. वो जहांगीराबाद इलाके में अपने साथी आरिफ के साथ बीजेपी नेताओं के संबंध में बातचीत कर रहा था.

शिवराज, विश्वास सारंग और ध्रुव नारायण
हैदर अली पर शिवराज सहित पूर्व मंत्री विश्वास सारंग, पूर्व विधायक ध्रुव नारायण सिंह जैसे नेताओं की हत्या की साजिश रचने का आरोप है. डीआईजी इरशाद वली ने बताया कि इनपुट मिलने के बाद आरोपियों को पकड़ा गया. दोनों आरोपी नशे की हालत में बातचीत कर रहे थे. लेकिन हत्या की साजिश को लेकर कोई पुख्ता सबूत नहीं मिले हैं.

हथियार तस्कर
बदमाश हैदर अली और आरिफ का क्रिमिनल रिकॉर्ड है. हैदर अली ने सागर में मर्डर किया था. साथ ही उसके और आरिफ के खिलाफ भोपाल के कई थानों में अपहरण, आर्म्स एक्ट, मारपीट जैसे कई मामले दर्ज हैं. ये आरोपी अवैध हथियारों के धंधे में भी लिप्त हैं. हथियारों की सप्लाई का इनपुट भी क्राइम ब्रांच को मिला था. दोनों आरोपी नशे के आदी हैं और उन्होंने नशे के दौरान बीजेपी नेताओं के बारे में बातचीत की थी. अभी तक की पूछताछ में पता चला है कि आरोपी हैदर अली बड़ा बदमाश बनने की कोशिश कर रहा है. और इसी कोशिश में वो हत्या की सुपारी के साथ कई गोरखधंधों से जुड़ गया है. हैदर रायसेन का रहने वाला है.
जांच एजेंसी यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि ऐसी साजिश रचने के पीछे आरोपी हैदर का क्या मकसद था. उसकी किस शूटर से बात हुई. हथियार सप्लाई के किस गिरोह से उसके तार जुड़े हैं.

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •