MP : ड्रग्स की लत ने अफसर की बेटी को बना दिया शैतान, जानिये लड़को से करवाती थी ऐसा काम कि एक ने की खुदखुशी

मध्यप्रदेश

बैतूल(मध्यप्रदेश).भोपाल के एलएन मेडिकल कॉलेज में पढ़ने वाले एमबीबीएस स्टूडेंट के फांसी लगाकर खुदकुशी करने के मामले में पुलिस ने सोमवार को 5 लोगों पर केस दर्ज किया है। सभी आरोपी हाईप्रोफाइल घर से हैं। 4 स्टूडेंट के अलावा मुख्य आरोपी श्रुति शर्मा विधानसभा के पूर्व सचिव सत्यनारायण शर्मा की बेटी है। टीआई राजेश साहू ने बताया श्रुति ड्रग्स के लिए युवाओं से दोस्ती कर उन पर पैसे लाने के लिए दबाव बनाती थी। रुपए नहीं लाने पर मारपीट करवाती थी।

 ब्लैकमेलिंग के आरोप

भोपाल के एलएन मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस सेकंड ईयर के स्टूडेंट यश पाठे ने 16 जून को फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। परिजनों ने श्रुति शर्मा और 4 लड़कों पर रैगिंग और ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाया था। परिजनों के बयान के आधार पर कोतवाली पुलिस ने भोपाल पहुंचकर कॉलेज प्रबंधन और स्टूडेंट के बयान लिए। इसके बाद श्रुति और साथी शालीन उपाध्याय, गौरव दुबे, आकाश सोनी, कार्तिक खरे पर यश को खुदकुशी के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया है।

लड़कों को ड्रग मुहैया कराती थी श्रुति

पुलिस के अनुसार श्रुति की बड़ी बहन शेफाली शर्मा एलएन मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस कर रही है। शेफाली ने यश को श्रुति से मिलाया था। श्रुति के साथी शालीन उपाध्याय, गौरव दुबे, आकाश सोनी, कार्तिक खरे पर भी पुलिस ने मामला दर्ज किया है। श्रुति ड्रग की अादी थी, यह बात सामने अा रही है। यह भी जानकारी मिली है कि श्रुति लड़कों को ड्रग मुहैया कराती थी। जिसकी जांच की जा रही है।

पुलिस के मुताबिक, छात्र यश के खुदकुशी करने के मामले में श्रुति शर्मा और 4 लड़कों पर केस दर्ज किया है। आरोपी की जल्द गिरफ्तारी होगी। कोतवाली पुलिस 2 आरोपियों को भोपाल से बैतूल लाकर पूछताछ कर रही है।