MP: मासूम से पड़ोसी ने ही की थी ज्यादती, पत्थर से सिर कुचला, फिर जिंदा पानी में फेंक दिया

उज्जैन क्राइम मध्यप्रदेश

उज्जैन। दादा-दादी के पास सो रही 5 साल की बालिका का अपहरण कर उससे दुष्कर्म कर हत्या करने वाले बदमाश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आखिरकार खुलासा हो ही गया की मासूम के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या करने वाला हैवान बच्ची का पड़ोसी ही निकला।

पीएम रिपोर्ट के अनुसार आरोपित ने पहले मासूम के साथ ज्यादती की। फिर खुद की पहचान छुपाने के लिए र्ईंट से चेहरा कुचल दिया। इसके बाद बच्ची को जिंदा ही शिप्रा नदी में फेंक दिया। पानी में डूबने से मासूम की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा 449, 376 ए, बी, 366, 302, 201, पाक्सो एक्ट की धारा 5, 6 और एससीएसटी एक्ट की धारा 3(2)(5) में कायमी की है। एसपी ने कहा है कि मामले में जल्द ही चालान पेश कर दिया जाएगा। फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलेगा। आरोपित को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। उधर, ऐसी हैवानियत देख शहर के नागरिकों ने आवाज उठाई है। उनका कहना है कि दरिंदे को जल्द से जल्द फांसी दी जाए।

यह भी पढ़ें : महज एक मोबाइल फ़ोन के लिए युवक ने उठा लिया ऐसा कदम कि परिजनों के नहीं रुक रहें आँसू

एसपी सचिन अतुलकर ने बताया कि गुरुवार रात भूखी माता मंदिर बायपास के समीप ईंट भट्टे पर 5 साल की मासूम अपने दादा-दादी के पास झोपड़े में सो रही थी। मूल रूप से आगर निवासी उसके माता-पिता यहां भट्टे पर काम करते हैं। दोनों पास की ही झुग्गी में सो रहे थे। इस दौरान एक बदमाश बच्ची को उठा ले गया। पहले उसके साथ ज्यादती की। बाद में बच्ची पहचान ना जाए, इसलिए सिर पर ईंट से वार किया। इसके बाद उसे जिंदा ही शिप्रा नदी में फेंक दिया। पुलिस को देर रात को घटना की जानकारी मिली। शुरू में अपहरण का मामला समझ पुलिस ने बच्ची की तलाश। शुक्रवार दोपहर 3 बजे बच्ची का शव नदी में मिला। इसके बाद जांच शुरू की गई।

पुलिस ने संदेह के आधार पर बच्ची के चाचा, पड़ोसी सहित अन्य लोगों को पूछताछ के लिए उठाया। इस बीच पीएम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि बच्ची के साथ ज्यादती के बाद सिर पर वार किया गया। इसके बाद जिंदा पानी में फेंक दिया। फेफड़ों में पानी भर जाने के कारण बच्ची की मौत हो गई। दरिंदगी ऐसी थी कि बच्ची के चेहरे पर पांच फ्रैक्चर मिले। दिल दहला देने वाली घटना से हड़कंप मच गया। पुलिस हरकत में आई और हर बिंदु को टटोला।

यह भी पढ़ें : अब Bhopal में 9 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद गला दबाकर हत्या, नाले में मिला शव

महाकाल पुलिस के अनुसार संदेह के आधार पर पड़ोसी शिवा राव (19) से सख्ती से पूछताछ की गई। शिवा महाकाल मंदिर के बाहर फूल की दुकान पर काम करता है। पूछताछ में उसने कबूल किया कि बच्ची का अपहरण कर उसने ही इस घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। इस दौरान उसने शराब पी रखी थी। वह मंदिर के बाहर मोबाइल पर अश्लील फिल्म भी देखकर आया था। इससे वह अपने होश खो बैठा और बच्ची का अपहरण कर लिया। पहले ज्यादती की और फिर हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें : APS UNIVERSITY के कर्मचारी की गला घोंटकर हत्या, शव मिलने के बाद फैली सनसनी

मोबाइल लोकेशन से बढ़ा पुलिस का शक
पुलिस के अनुसार जांच करने पर आरोपित के मोबाइल की लोकेशन क्षेत्र में ही मिली थी। इससे उस पर शक बढ़ा। पूछताछ करने पर उसने सारा घटनाक्रम कबूल लिया। जांच कर मामले से जुड़े सभी साक्ष्य जल्द जुटा लिए जाएंगे।

एफएसएल अधिकारी को छुट्टी से बुलाया
जिले में पदस्थ दोनों एफएसएल अधिकारी छुट्टी पर थे। मामले की गंभीरता को देखते हुए डॉ. प्रीति गायकवाड़ को तत्काल ड््‌यूटी पर बुलाया गया। उन्होंने भी घटना स्थल पर जांच कर साक्ष्य एकत्र किए। पुलिस अफसरों ने दावा किया है कि जल्द ही जांच कर चालान पेश कर दिया जाएगा। मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगा। आरोपित को जल्द कड़ी सजा होगी।

गुस्साए लोग बोले- हमारे हवाले कर दो, हम सबक सिखाएंगे
पुलिस ने कंट्रोल रूम पर शनिवार शाम प्रेसवार्ता कर मामले का खुलासा किया। इस दौरान बड़ी संख्या में हिंदूवादी संगठन के लोग बाहर जुट गए। संगठन सदस्यों का कहना था कि हैवान को हमारे हवाले कर दो। उसे हम सबक सिखाएंगे। पुलिस ने समझाइश देकर उन्हें शांत किया। पुलिस ने कहा कि कानून अपना काम करेगा। मासूम के गुनहगार को कड़ी सजा मिलेगी। उधर, अखंड हिंदू सेना ने कहा है कि कोई भी वकील आरोपित का केस ना लड़े।

24 घंटे में खुलासा, आईजी ने टीम को दिया 30 हजार रुपए इनाम
आईजी राकेश गुप्ता ने 24 घंटे में मामले का खुलासा करने और आरोपित को गिरफ्तार करने पर टीम को 30 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है। टीम में एएसपी नीरज पांडेय, सीएसपी ऋतु केवरे, हंसराज सिंह, टीआई अरविंद तोमर, सायबर प्रभारी आरआर वास्कले, एसआई गगन बादल, ओपी जोशी, एएसआई लोकेंद्र, धर्मेंद्र तोमर, आरक्षक प्रमोद और मनीष आदि शामिल थे।

Facebook Comments