मध्यप्रदेश : इंतज़ार हुआ ख़त्म, जल्द ही प्रदेश में दस्तक देगा मानसून

मध्यप्रदेश

भोपाल। मध्य प्रदेश में भीषण गर्मी की मार झेल रहे लोगों के लिए राहत की खबर है। मानसून का इंतजार कर रहे लोगों के लिए अब इंतजार खत्म हो चुका है। सोमवार को मध्य प्रदेश में मानसून दस्तक देने वाला है। बता दें कि शनिवार को मानसून साउथ गुजरात,महाराष्ट्र से होते हुए छत्तीसगढ़ उसके बाद ओडिसा, पश्चिम बंगाल तक पूरी तरह से पहुंच चुका है। अब मध्य प्रदेश की बारी है। वहीं मौसम वैज्ञानिकों को कहना है कि इस साल मानसून की चाल अच्छी है। अपनी गति में तेजी बनाए हुए ये आगे बढ़ चला है।

शहर में शुक्रवार की रात हुई तेज बारिश ने एक ओर लोगों को खुश कर दिया था लेकिन वहीं दूसरी ओर शनिवार को सुबह तेज धूप ने लोगों के चेहरों पर फिर से मायूसी ला दी थी लेकिन अब सोमवार से लोगों को गर्मी से रहात मिल सकेगी। मौसम विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक शुक्रवार को शहर में 14.8 मिमी बारिश हुई। वहीं बैरागढ़ आब्जरवेटरी में 12 मिमी बारिश दर्ज की गई।

होता है वर्षा ऋतु का आगमन

ज्योतिष की नजर से देखा जाए तो सूर्य के दक्षिणायन दिशा में होने पर वर्षा ऋतु का आगमन हो जाता है। वहीं दूसरी ओर 22 जून को सुबह 11.12 मिनट पर सूर्य आद्रा नक्षत्र में प्रवेश कर चुका है। सूर्य के आद्रा नक्षत्र में जाने के बाद बारिश का योग बन रहा है। इस योग के बनने के बाद ही शहर में बारिश के योग बन रहे हैं। शहर के पंडित जगदीश शर्मा जी बताते है कि ग्रह भी कई बार अच्छी वर्षा का योग बनाते हैं। बीती 8 जून से शुक्र ग्रह कर्क राशि में प्रवेश कर चुके हैं और बुध ग्रह 10 जून को मिथुन राशि में अपना स्थान ले चुका है। वहीं 13 जून को बुध का आद्रा नक्षत्र में प्रवेश हो चुका है। ग्रहों की चाल बदलने के बाद अब बारिश के अच्छे संकेत हैं।

किसानों को होगा लाभ

मौसम बदलने के बाद भीषण गर्मी की मार झेल रही फसलों को जीवनदान मिलेगा। कड़ी धूप व गर्मी के चलते किसानों द्वारा बोई गई सब्जियों सहित पशु चारे की फसल दोपहर होते-होते सूखी जा रही है। किसानों को सूखने से बचाने के लिए हर दूसरे दिन सिंचाई करनी पड़ रही है जिसके बाद भी फसल सूख रही है। वहीं बार-बार सिंचाई करने के कारण किसानों का लागत मूल्य भी दिनों- दिन बढ़ रहा है। अगर इंद्र देवता खुश होते है तो किसानों को सबसे ज्यादा लाभ होगा।