PM ने किया 300 गांवों को तर करने वाले डैम का उद्घाटन

मध्यप्रदेश

इंदौर। शनिवार दोपहर 12.5 पर भोपाल पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी कुछ देर रुककर राजगढ़ को रवाना हो गए। यहां करीब 38 अरब की लागत से बने मोहनपुरा के डैम का उन्होंने लोकार्पण किया। 17 गेट वाले इस डैम से न सिर्फ सिंचाई हो पाएगी बल्कि 300 गावों की प्यास भी बुझेगी।

प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत के लिए सुबह से ही राजगढ़ तैयार था और लोग पंडाल में पहुंचने लगे थे। बांध का डिजिटल लोकार्पण करते हुए पीएम ने कहा कि बांध का उद्घाटन जनता की मेहनत और पसीने से हुआ है। जो लोग झूठ और भ्रम फैलाने में लगे हैं, वो जमीनी सच्चाई से अंजान हैं। पीएम मोदी ने कहा, ‘इतनी बड़ी संख्या में आपका आना इस बात की गवाही दे रहा है कि सरकार पर, उसकी नीतियों पर आपका कितना विश्वास है। जो लोग देश में भ्रम फैलाने में लगे हुए हैं, वो जमीनी सच्चाई से किस तरह कट चुके हैं, आप इसकी साक्षात तस्वीर हैं।’
प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश के महान सपूत श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि है। कश्मीर में उनकी मृत्यु हुई थी. आज इस अवसर पर मैं उनको नमन करता हूं और आदरपूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं. उन्होंने कहा, ‘ये देश का दुर्भाग्य है कि एक परिवार का महिमामंडन करने के लिए देश के अनकों सपूतों और योगदानों को छोटा कर दिया गया।’

उन्होंने कहा, ‘आज केंद्र हो या देश के किसी भी राज्य में चलने वाली बीजेपी सरकार, डॉक्टर मुखर्जी के विजन से अलग नहीं है। चाहे स्किल इंडिया मिशन हो या स्टार्ट अप योजना या फिर मेक इन इंडिया, इनमें आपको डॉ. मुखर्जी के विचारों की झलक मिलेगी।’

मोहनपुरा स्थित बांध करीब 3,800 करोड़ की लागत से बन कर तैयार हुआ है. इसका काम दिसंबर 2014 में शुरू हुआ था. इसमें 17 गेट हैं, जिससे करीब 1.35 लाख हेक्टेयर भूमि की सिंचाई होगी. मध्यप्रदेश का राजगढ़ सूखा प्रभावित क्षेत्र है जहां किसान सिंचाई के लिए सिर्फ बारिश के पानी पर निर्भर थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजगढ़ के बाद दोपहर करीब 3.15 बजे इंदौर पहुंचेंगे। यहां वह शहरी विकास महोत्सव के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इस दौरान मोदी राज्य के विभिन्न इलाकों में करीब 4000 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे।