MP: बीजेपी इस दिन जारी कर सकती है पहली सूची, कई प्रमुख सांसदों की टिकट पर संकट1 min read

Madhya Pradesh

जबलपुर. लोकसभा चुनाव की घोषणा के बाद प्रत्याशियों के नाम पर सभी दल मंथन व माथापच्ची करने में जुटे हैं. मध्य प्रदेश में भाजपा आगामी 16 मार्च को पहली सूची जारी कर सकती है. इस सूची में कई प्रमुख सांसदों की टिकट पर खतरा मंडरा रहा है.
आगामी 16 मार्च को पीएम नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की अध्यक्षता में केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक दिल्ली में होनी है. इस बैठक के बाद 18 मार्च को भी अमित शाह ने केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक बुलाई है.

माना जा रहा है कि होली से पहले भाजपा लोकसभा चुनाव के लिए अपने प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर सकती है. सूत्रों के मुताबिक 16 मार्च को उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल की कई लोकसभा सीटों के लिए भाजपा उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी जाएगी.

कई प्रमुख सांसदों की टिकट पर मंडरा रहा खतरा

सूत्रों के मुताबिक भाजपा इस बार कई सांसदों के नाम काट सकती है. जानकारी के अनुसार, भाजपा की पहली सूची में 25 से 30 प्रतिशत मौजूदा सांसदों का टिकट कट सकता है. इसका असर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी देखने को मिल सकता है. कई नेता पहले भी मौजूदा सांसदों के टिकट कटने का संकेत दे चुके हैं.

नए व युवा चेहरों की खुल सकती है लाटरी

पार्टी सूत्रों के अनुसार इस लोकसभा चुनाव में अधिकांश पुराने चेहरे पर दांव नहीं लगाने पर मंथन किया जा रहा है. भाजपा इस बार कई सीटों पर नए उम्मीदवार की तलाश कर रही है. सूत्रों का कहना है कि भाजपा के कई ऐसे सांसद हैं, जिनकी स्थानीय स्तर पर परफॉरमेंस रिपोर्ट ठीक नहीं है. कहीं सांसदों की जनता के बीच गैर मौजूदगी है तो कहीं पार्टी में विरोध. ऐसे में भाजपा उन सांसदों को फिर से रिपीट नहीं करना चाहती है जिनकी रिपोर्ट ठीक नहीं है.

परमार्फेंस बेहतर तो ही मिलेगी टिकट

मध्यप्रदेश में भाजपा करीब 13 ऐसे सांसद हैं, जिनके टिकट कट सकते हैं. मध्यप्रदेश के अन्य क्षेत्रों की अपेक्षा विंध्य क्षेत्र में फायदा हुआ है. पहले माना जा रहा था कि रीवा सांसद जनार्दन मिश्रा का इस बार टिकट नहीं मिलेगा, लेकिन जिले की आठों विधानसभा सीटों पर भाजपा की जीत से ऐसा माना जा रहा है कि इस बार फिर से जनार्दन मिश्रा को टिकट मिल सकता है. हालांकि चर्चाएं ऐसी भी हैं कि इस बार पूर्व मंत्री राजेन्द्र शुक्ल को रीवा संसदीय सीट से उम्मीदवार बनाया जा सकता है. वहीं, सांसद रहते हुए अनूप मिश्रा विधानसभा चुनाव हार गए हैं ऐसे में माना जा रहा है कि इस बार अनुप मिश्रा का टिकट भी कट सकता है.

Facebook Comments