मध्यप्रदेश : अरुण यादव बोले, शिवराज को ऐसे हराऊंगा, कोई नहीं रोक सकता1 min read

Madhya Pradesh

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को उनके घर में घेरने के लिए कांग्रेस ने ऐन वक्त पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव को मैदान में उतारने के बाद प्रदेश की राजनीति गर्मा गई है।

ऐसे में सवाल उठता है कि मुख्यमंत्री का गढ़ माने जाने वाली बुदनी सीट पर क्या वाकई में शिवराज को मात दे पाएंगे। हालांकि, अरुण यादव ने पत्रिका से चर्चा करते हुए कहा है कि मैं बलि का बकरा नहीं हूं, मैं शिवराज को उनके ही घर में चुनाव हराकर आऊंगा।

इधर, दिग्विजय सिंह को भी टिकट कटने से नाराज दावेदार के आक्रोश का सामना करना पड़ा।

विदिशा से कांग्रेस नेता महेंद्र वर्मा ने टिकट ना मिलने की नाराजगी में दिग्विजय सिंह को सबके सामने खरी खोटी सुनाई और टिकट वितरण पर भी सवाल उठाए।

अरुण यादव ने मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा शिवराज के अपने क्षेत्र में सबसे ज्यादा किसान ने आत्महत्या की है।

सबसे ज्यादा महिलाओं के साथ बेरुखी बुदनी से ही हुई। पार्टी ने जो जिम्मेदारी दी है उसे भलीभांति निभाएंगे।

उन्होंने कहा नर्मदा में अवैध उत्खनन, व्यापम में शिवराज के परिवार का शामिल होना प्रमुख मुद्दे होंगे ।

वराज की नीतियों से असंतुष्ट होकर संजय मसानी कांग्रेस में गए हैं। उन्होंने बताया कि सीएम के संजय मसानी भी उनका प्रचार करेंगे।
टिकट कटने पर दिग्विजय से नाराज हुए कार्यकर्ता
चुनाव लड़ने के लिए घर परिवार छोड़ तैयारी में जुटे नेताओं की टिकट कटने से अब वे खुलेआत पार्टी नेताओं के सामने अपनी भड़ास निकाल रहे हैं।

आज नामांकन का आखिरी दिन है ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि कांग्रेस—भाजपा के कई बागी प्रत्याशी पार्टी के खिलाफ मैदान में ताल ठोक सकते हैं।

वहीं कई नेता तो पार्टी का साथ छोड़ मैदान मे निर्दलीय भी उतरने की तैयारी में हैं।

कांग्रेस के दिग्गज नेता समन्वय समिति के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह को भी टिकट कटने से नाराज दावेदार के आक्रोश का सामना करना पड़ा।

विदिशा से कांग्रेस नेता महेंद्र वर्मा ने टिकट ना मिलने की नाराजगी में दिग्विजय सिंह को सबके सामने खरी खोटी सुनाई और टिकट वितरण पर सवाल उठाये।
विदिशा जिले के तीन विधानसभा क्षेत्रों विदिशा, सिरोंज और कुरवाई में टिकट वितरण के बाद से आक्रोश पनप रहा है। विदिशा से घोषित प्रत्याशी शशांक भार्गव के खिलाफ स्थानीय नेता महेंद्र वर्मा व उनके समर्थकों ने दिग्विजय से शिकायत की है।

महेंद्र वर्मा ने दिग्विजय पर अपनी भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि यह कैसा सिस्टम है, गोली बिस्किट की तरह टिकट बाँट दी। मैंने कभी न तो पचौरी से संपर्क किया न महाराज से कहा, दिग्विजय सिंह के दरबार के अलावा मेने किसी से टिकट नहीं माँगा और आपने निराश किया है आपने अन्याय किया है।

Facebook Comments