सतना: उड़ीसा से लाया जा रहा 47 लाख रूपये कीमत का गांजा पुलिस के लगा हाथ, जानिए कैसे ?

स्टडी में दावा : COVID-19 के गंभीर मरीजों के इलाज में मददगार हो सकता है ‘गांजा’

Health

वैज्ञानिकों का दावा, COVID-19 के इलाज में मददगार हो सकता है गांजा

एक नई स्टडी में दावा किया गया है कि गांजा (Hemp) कोरोना वायरस (COVID-19) के गंभीर मरीजों के इलाज में मददगार साबित हो सकता है.

यह स्टडी अमेरिका की साउथ कैरोलिना यूनिवर्सिटी (South Carolina University, USA) में की गई है. कैरोलिना यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स ने चूहों के ऊपर गांजा की तीन स्टडी की है. हांलाकि इसके निष्कर्ष के लिए भी अभी रिसर्च की जानी है. इसके साथ ही University के वैज्ञानिकों यह साफ़ किया है कि वे लोगों को खुद से गांजे (Hemp) के सेवन के लिए प्रोत्साहित नहीं कर रहे. ऐसा करने पर लोगों की बीमारी बढ़ भी सकती है.

South Carolina State University, USA

लेकिन अमेरिकी रिसर्च में ये पाया गया कि गांजे में मौजूद टीएचसी (Tetrahydrocannabinol) पदार्थ से COVID-19 से संक्रमित मरीजों का इलाज हो सकता है.

17 अक्टूबर से शुरू होगा अमेज़ॅन ग्रेट इंडियन फेस्टिवल: प्रोडक्ट्स पर मिलेंगे ये ऑफर्स

असल में THC (Tetrahydrocannabinol) लोगों को खतरनाक इम्यून रेस्पॉन्स (Immune Responce) से बचा सकता है जिसकी वजह से अक्सर मरीज एक्यूट रेस्पिरेटरी डिस्ट्रेस सिंड्रोम (ARDS) के शिकार हो जाते हैं.

THC Chemical Formula

अमेरिकी यूनिवर्सिटी की तीनों स्टडी में कई दर्जन प्रयोग किए गए. पहले चूहों को एक टॉक्सिन दिया गया और इसके बाद THC दिया गया. देखा गया कि जिन चूहों को THC दिया गया, उनकी जान बच गई, लेकिन उन चूहों की मौत हो गई जिन्हें सिर्फ टॉक्सिन दिया गया था.

हालांकि रिसर्चर्स ने चेतावनी भी दी है कि अभी इस विषय पर और रिसर्च किए जाने की जरूरत है और वे लोगों को गांजे के सेवन के लिए प्रोत्साहित नहीं कर रहे हैं. लेकिन रिसर्चर्स अब गांजे का मानव परीक्षण (Human Trial) शुरू करने की योजना बना रहे हैं. बता दें कि अमेरिका के कुछ राज्यों में गांजे का सेवन कानूनी रूप से वैध है.

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *