30 को आसमान से बरसेगा अमृत, इस तरह की बीमारियों से मिलती है राहत

30 को आसमान से बरसेगा अमृत, इस तरह की बीमारियों से मिलती है राहत

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय लाइफस्टाइल

30 को आसमान से बरसेगा अमृत, इस तरह की बीमारियों से मिलती है राहत

शरद पूर्णिमा। आरोग्‍य का पर्व शरद पूर्णिमा 30 अक्टूबर को मनाया जा रहा है। शरद पूर्णिमा का अमृतमयी चांद अपनी किरणों में स्‍वास्‍थ्‍य का वरदान लेकर आता है। शरद पूर्णिमा हिंदू पंचांग में सबसे धार्मिक रूप से महत्वपूर्ण पूर्णिमा की रातों में से एक है।
30 अक्टूबर को शाम 5 बजकर 47 मिनट से पूर्णिमा तिथि का आरंभ हो जाएगा। अगले दिन 31 अक्टूबर रात 8 बजकर 21 मिनट पर पूर्णिमा तिथि समाप्त होगी।

हरियाणा में लव जिहाद : छात्रा की दिनदहाड़े हत्या, दो गिरफ्तार

इस तरह की बीमारी से मिलता है लाभ

शरद पूर्णिमा की रात्रि में आकाश के नीचे रखी जाने वाली खीर को खाने से शरीर में पित्त का प्रकोप और मलेरिया का खतरा भी कम हो जाता है। यदि आपकी आंखों की रोशनी कम हो गई है तो इस पवित्र खीर का सेवन करने से आंखों की रोशनी में सुधार हो जाता है।

30 को आसमान से बरसेगा अमृत, इस तरह की बीमारियों से मिलती है राहत

अस्थमा रोगियों को शरद पूर्णिमा में रखी खीर को सुबह 4 बजे के आसपास खाना चाहिए। शरद पूर्णिमा की खीर को खाने से हृदय संबंधी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। साथ ही श्वास संबंधी बीमारी भी दूर हो जाती है। पवित्र खीर के सेवन से स्किन संबंधी समस्याओं और चर्म रोग भी ठीक हो जाता है।

Unlock 6.0 : शादी समारोह में अब शामिल हो सकेंगे इतने लोग, पढ़ ले जरूरी खबर

केंद्र सरकार ने जारी किया नया नोटिफिकेशन, अब कश्मीर-लद्दाख में कोई भी भारतीय खरीद सकता है घर और जमीन..

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *