2020 का राशिफल, पढ़िए आपकी राशि क्या कहती है…

Lifestyle
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मेष

मेष राशि वालों के लिए साल 2020 काफी अच्छा रहने वाला है। ये साल आपको विजय दिलाने वाला रहेगा। प्रतिस्पर्धाओं में सफलता के योग हैं। ये साल आपके लिए कुछ विशेष सफलता देने वाला रह सकता है। नौकरीपेशा, बिजनेस पर्सन और विद्यार्थियों के लिए काफी सकारात्मक रहेगा। यदि मेष राशि के विद्यार्थी अपनी नियमित पढ़ाई के साथ किसी प्रतियोगी परीक्षा यूपीएससी, पीएससी, पीएमटी, पीईटी आदि किसी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो सफलताएं उन्हें मिल सकती है। बैंकिंग क्षेत्र में भी सफलताएं आपको नौकरी के दरवाजे खोल सकती हैं। शासकीय/अशासकीय विभागों में कार्यरत मेष राशि के जातकों के लिए यह वर्ष पदोन्नति के अवसर भी प्रदान कर सकता है। भूमि, प्लाट अथवा फ्लेट खरीदने में हो सके, तो बैंक लोन लेकर ही सही, मकान या प्लाट के मालिक बन सकते हैं। सम्पत्ति के मामलों में आपके लिए वर्ष विशेष फल देने वाला है। बैंकों से कम ब्याज दरों पर ऋण उपलब्ध होगा।

नौकरी

इस राशि के जातकों खासकर इंजीनियर्स, सर्जन अथवा कम्प्यूटर विशेषज्ञों के लिए देश-विदेश में नौकरी के अवसर अवश्य मिलेंगे। यात्राओं के आयोजन बनेंगे। राजनीतिज्ञ सावधान रहें। विवादों की इबारत लिखी जा सकती है। नौकरी के हालात में सुधार होंगे। नए परिवर्तन अथवा नए काम की शुरुआत होगी।

व्यापार

शेयर बाजार में सुधार के लक्षण दिख रहे हैं। तेल, लोहा, रियलटी, बैंक एवं पावर से जुड़े शेयर्स में लाभ कमा सकते हैं। यदि डीमेट एकाउन्ट में कम से कम 2-3 सालों को रखकर भूल जाएं, तो अच्छा लाभ मिलेगा। किसी नए काम की शुरुआत से पहले अच्छाई और बुराई का अच्छी तरह विश्लेषण जरूरी होगा।

परिवार

परिवार में मांगलिक कार्य सुखद और सहज रूप में सम्पन्न होंगे। शुक्र कह रहा है – जनवरी, फरवरी, मार्च, अप्रैल अथवा जून में विवाह की शहनाई बज सकेंगी, शुक्र विदेश यात्राओं का भी सुयोग बनाता है।

सेहत

स्वास्थ्य को लेकर आपको थोड़ा सचेत रहने की आवश्यकता होगी। आपके लिये बेहतर होगा कि नित्य योगाभ्यास करें। मौसमी परिवर्तन आपको परेशान कर सकता है।

प्रेम और दाम्पत्य

गृहस्थ जीवन, आमोद-प्रमोद से बीतेगा। समझौतावादी दृष्टिकोण अपनाएं। सावधान रहें, प्रेम प्रसंगों में मंगल विवाद भी करा सकता है। परस्त्री प्रसंग आपके लिए जेल या अस्पताल के दरवाजे भी दिखा सकता है। विवाह योग्य जातकों के जीवन में दाम्पत्य जीवन के सुख मिलने के योग गुरु बना रहा है।

धन-संपत्ति

इस वर्ष आपकी आमदनी के स्रोतों में इजाफा होगा लेकिन बचत के लिए यह वर्ष अनुकूल नहीं है। पैसों के आने से पहले ही खर्चे तैयार मिलेंगे। किसी पारिवारिक व्यक्ति के स्वास्थ्य के बिगड़ जाने के कारण उसमें काफी पैसे खर्च करने पड सकते हैं। कुछ नए कामों की शुरुआत करने के कारण आप अपने संचय किए हुए धन को खर्च करना चाहेंगे।

उपाय
  1. बादाम का एक हिस्सा मंदिर में बाटें और दूसरा हिस्सा लाकर घर लाएं।
  2. शराब, मांशाहार, अण्डे के सेवन और व्यभिचार से बचें।
  3. साधुओं, गुरुओं और पीपल के पेड़ की सेवा करें।

वृषभ

2020 में आपको सुख-समृद्धि, कार्यक्षेत्र में उन्नति, सुखद सफल यात्राएं, परिवार और जीवन साथी का सहयोग सब मिलने की संभावनाएं हैं। इस समय आप महसूस कर सकते हैं कि लक्ष्यों तक पहुंचने के लिये आपके पैरों में मजबूरियों और अड़चनों की जो जंजीरें पड़ी हुई थी, वे कट चुकी हैंं। हालांकि, विद्यार्थियों को अपने लक्ष्य हासिल करने में थोड़ी अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है लेकिन उन्हें इस कड़ी मेहनत का अपेक्षित परिणाम भी हासिल होगा। आप में इस पूरे वर्ष गजब का आत्मविश्वास रहने के आसार हैं, जो कि आपकी आर्थिक स्थिति को बेहतर करने में भी सहायक सिद्ध होगा। व्यापारिक यात्राएं बढ़ सकती हैं और उनमें सफलता भी हासिल होगी। अविवाहित प्रेमी जातक इस साल परिणय सूत्र में बंधने का संकल्प कर सकते हैं। आप में से कुछ के यहां शहनाई बजने के भी आसार हैं। लेकिन ऐसा नहीं है कि इस वर्ष आपके जीवन में सब कुछ अच्छा ही रहेगा। जून के प्रथम सप्ताह से आप पर फिर से शनि आपके बिल्कुल बनने की कगार पर खड़े काम में अचानक कुछ न कुछ अड़चनें लगानी शुरू कर देगा।
नौकरी

पद-पोजिशन प्राप्ति के उद्देश्यों की पूर्ति हो सकती है। इसके लिए आप अपने प्रयास जारी रख सकते हैं। यदि आप नौकरी ढूंढ़ रहे हैं तो उसमें भी आपको सफलता प्राप्त हो सकती हैं। स्थानांतरण, पदोन्नति के कारण नौकरीपेशा वालों के जीवन में यह वर्ष काफी उथल-पुथल का रहेगा।

व्यापार

व्यावसायिक गति उतार-चढ़ाव वाली रहेगी। भूमि, भवन, वाहन का सुख, आपको मिलेगा।व्यापारी वर्ग चिंतित न हों, अन्तरराष्ट्रीय आर्थिक संकट इस वर्ष के मध्य में टल जाएगा। आपको व्यापार में लाभ मिलने के आसार हैं, लेकिन इस सब में संघर्ष भी रहेगा।

परिवार

दूसरे भाव में स्थित बृहस्पति परिवार के सदस्यों की संख्या में बढ़ोत्तरी करवा सकता है। अर्थात, घर परिवार में किसी का जन्म हो सकता है अथवा किसी का विवाह आदि हो सकता है जिसके कारण परिवार की संख्या बढ सकती है। आप अपने घर परिवार के सदस्यों का हित करते रहेंगे। यदि उनके लिए आपको पैसे भी खर्च करने पडे तो आप हिचकिचाएंगे नहीं। इन सबके बावजूद भी बीच-बीच में परिवार के कुछ सदस्यों का बर्ताव अच्छा नहीं रहेगा। अपनी समस्याओं के समाधान के लिये परिवार पर अधिक निर्भरता उचित नहीं होगी।

सेहत

आकस्मिक रूप से अस्वस्थ होने की संभावना बन सकती है। किसी कानूनी मामले में पड़कर चिंता करना भी स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डाल सकता है। खान-पान पर संयम रखें अन्यथा उदर विकार होने की सम्भावना है।

प्रेम और दाम्पत्य

विवाह योग्य जातकों के लिए सुन्दर और सुयोग्य जीवनसाथी की प्रतीक्षा सूची में मत रखिये। चट-मंगनी, पट विवाह कर डालिए। शुक्र की देवी आतुर है, आपके शयनागार में प्रवेश के लिए। भाग्य की देवी का स्वागत कीजिएगा। वृषभ राशि वाले जातक थोड़े दिलफेंक होते हैं- सावधान अन्यथा, अपमानजनक स्थिति बन सकती है।

धन-संपत्ति

सम्पत्ति के मामले में ये साल थोड़ा सावधान रहने का है। शनिदेव के कारण काली कमाई करने से बाज आएं, अन्यथा छापे में घर की जमा पूंजी भी चली जा सकती है। इस राशि के भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारी, कर्मचारी, व्यापारी वर्ग पर लोकायुक्त अथवा आयकर विभाग का छापा भी पड़ सकता है।

उपाय
  1. इस वर्ष जब भी मौका मिले गरीबों के लिए आंखों की दवाएं मुफ्त बांटें।
  2. मांसाहार और शराब से बचें और हमेशा अपने साथ चांदी का एक टुकड़ा रखें।
  3. घर में इस वर्ष हाथीदांत या हाथीदांत की वस्तुएं अपने पास न रखें।

मिथुन

साल 2020 मिथुन राशि वालों के लिए सफलताओं की संभावनाओं वाला साल होगा। प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रवेश पाने वाली युवा शक्ति, अपनी शक्ति को पहचाने, सफलता बस, थोड़ी ही दूर होगी। अध्ययन रहें, सपने बड़े देखें आईएफएस, आईएएस, आईपीएस के पदों पर भी इस बार मिथुन राशि वाले जातक चुने जा सकते हैं। बस, आवश्यकता है अनवरत प्रसन्नचित्त होकर 12 से 16 घंटे प्रतिदिन अध्ययनरत रहने की। चुनावी दंगल या प्रशासनिक फेरबदल के लिए तैयार रहें, मेहनत रंग लाएगी। जोखिम के कार्यों से दूर रहें। वृश्चिक राशि वालों से थोड़ा सावधान रहें। रोमांस पक्ष उज्जवल हो सकता है। मान-सम्मान, धन, पराक्रम में वृध्दि, स्वास्थ्य पक्ष निर्बल न रहें, इसके लिए समय- समय पर इसका परीक्षण कराते रहें। गुप्त शत्रुओं से सावधान। नवम्बर तो आप पर कुछ मुसीबतें आ सकती हैं, दरअसल इस समय राहू-केतु राशि परिवर्तन करेंगें जो कि मुश्किलों के लिहाज से आपके लिए कठिन दौर कहा जा सकता है। लेकिन घबराने की जरुरत नहीं है, जल्द ही बृहस्पति भी राशि परिवर्तन करेंगे जिससे आपके दिन फिर से बहुरने लगेंगे। वहीं, शनि का प्रभाव अक्टूबर में समाप्त हो जाएगा, अब आप चैन की सांस ले सकेंगे, इस समय आपकी सारी दुविधाएं दूर हो सकती हैं।
नौकरी

किसी अच्छे पोजीशन प्राप्ति के लिए प्रयास कर रहे हैं, तो वह सफल हो सकता है। इस वर्ष में भाग्य आपका अच्छा साथ देगा तथा कामकाज से संबंधित अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। क्योंकि, गुरु धनु राशि में संचार कर रहा है जो कार्य व्यवसाय से संबंधित अच्छी सफलता प्राप्ति का योग बना रहा है।

व्यापार

भूमि-भवन के कारोबार से जुड़े व्यक्ति मंदी के भय से प्रभावित होंगे। वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मतभेद पैदा होने की संभावनाएं भी प्रबल हैं। ढ़ैय्या का ज्यादा असर आपके कर्मक्षेत्र, आपके सम्मान व आपके नाम पर पड़ने के आसार हैं। यदि न्यायालय में कोई मामला लंबित है और परिणाम अपेक्षित है तो हो सकता है यह फैसला आपके पक्ष में न आए।

परिवार

पारिवारिक दृष्टिकोण से यह वर्ष बहुत ही उत्तम रहेगा। परिवार में कोई मांगलिक कार्य सम्पन्न होने के योग बन रहे हैं। परिवार में सुख और शांति का वातावरण बनेगा। भाई-बहनों से आपके संबंध और मधुर होंगे। भाई-बहनों की उन्नति होगी। दूर रहने वाले पारिवारिक सदस्य के घर आगमन अथवा उसके साथ संबंधों में सुधार होने से मन प्रसन्न होगा।

सेहत

आलस्य, परेशानी, थकावट, अस्वस्थता के मनोरोगी मत बनिए। उत्साहित होकर आगे बढ़ें, भाग्य की देवी आपके स्वागत के लिए आतुर है, कृपया उसका स्वागत करें। जब भी मन उदास हो अपने इष्टदेव का स्मरण करें। आत्मीयजनों से अपनी परेशानी बांटें, सारा तनाव चकनाचूर हो जाएगा।

प्रेम और दाम्पत्य

वर्ष के दूसरे भाग में आपको अनुकूल फल मिलेंगे। आप जीवनसाथी के साथ आनंद मनाएंगे। जिनकी उम्र विवाह की हो चुकी है उनके विवाह या सगाई संभावनाएं मजबूत होंगी। शादीशुदा लोगों के लिए भी समय प्रेम को बढ़ाने वाला है।

धन-संपत्ति

यदि आपके ऊपर कोई पुराना कर्ज है, तो आप इस वर्ष उससे छुटकारा पा सकते हैं। किसी यात्रा के द्वारा भी धन खर्च हो सकता है। हांलाकि, जीवनसाथी या व्यवसायिक भागीदार, बचत करने में आपके मददगार हो सकते हैं।

उपाय
  1. बड़ों का सम्मान करें, विशेषकर ससुर का सम्मान करें और धार्मिक स्थानों में बादाम बाटें।
  2. सूर्य मंत्र “ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय नम:” का जप करें।

कर्क

वर्ष 2020 में अपने लक्ष्यों को पाने की खातिर कठिन मेहनत करनी पड़ सकती है। वर्ष 2020 की शुरुआत से ही इन्हें वक्त की कसौटी पर खरा उतरने के लिये कड़ी परीक्षाओं से होकर गुजरना पड़ सकता है। अपने करियर के लिये कौन-सा क्षेत्र सही रहेगा, कुछ जातक इस सवाल को लेकर असमंजस की स्थिति में रह सकते हैं। जो जातक सरकारी नौकरी करना चाहते हैं, उन्हें प्रतियोगी परीक्षाओं को पास करने के लिये बहुत ज्यादा मेहनत करने की आवश्यकता होगी। जो जातक पहले से सरकारी या निजी क्षेत्र में रोजगार पा चुके हैं, उन पर भी काम का दबाव रहने की संभावना है। कार्य-स्थल पर उच्चाधिकारियों के साथ मतभेद भी पैदा हो सकते हैं। जनवरी के अंत से लेकर अप्रैल के प्रथम सप्ताह तक तो बहुत ही सावधान रहना होगा दरअसल शनि के कारण बनते हुए काम के बिगड़ने के आसार बन सकते हैं। इस दौरान आपकी प्रतिष्ठा को भी हानि पंहुच सकती है। जो जातक स्वयं का कारोबार करते हैं, उन्हें भी थोड़ा संभल कर रहने की आवश्यकता है। यदि अपने व्यवहार में कुछ ज़रूरी परिवर्तन करने पड़े तो उन्हें अवश्य करें। इस समय प्रतिस्पर्धियों के हावी होने के आसार बन सकते हैं। आपको अपने संघर्ष का पूरा परिणाम मिलने के योग हैं। आपको किसी भी मामले में अपने श्रम के पीछे नहीं हटना है।
नौकरी

कुछ लोग प्रमोशन लिए प्रयास कर सकते हैं। यदि आप नौकरी से संबंधित किसी तरह की कोई तैयारी कर रहे हैं। उसका लाभ प्राप्त होने का संजोग बन रहा है। नए जॉब की संभावनाएं बन रही हैं। जो लोग बेरोजगार हैं, उन्हें भी रोजगार प्राप्त होने की संभावनाएं हैं।

व्यापार

कृषक समुदाय भी भरपूर फसल होने से धन-धान्य से परिपूर्ण रहेगा। शनि देश की प्रगति में खनिज सम्पदा से जुड़े व्यवसाय में विकास की नई इबारत लिखने को आतुर हैं। न्यायालयीन मुकदमों, आयकर से जुड़े प्रकरणों में अनुकूलता परिलक्षित होगी। जातक संयम रखें, अधिक दुस्साहसी न बनें। जोखिम लें, लेकिन आपको इसके लिए काफी रिसर्च भी करनी होगी।

परिवार

परिवार के सभी सदस्यों का बर्ताव आपके प्रति बहुत ही अच्छा रहेगा। यदि परिवार में कोई आदालती केस चल रहा होगा तो उससे छुटकारा मिलेगा। परिवारिक संबंधों में मधुरता रहेगी। धार्मिक आयोजन होने के भी योग हैं।

सेहत

स्वास्थ्य के लिए भी यह वर्ष अनुकूलता लिए हुए है। छोटी-मोटी बीमारियों को छोडकर लगभग पूरा वर्ष ही आपकी सेहत को सुधारने वाला रहेगा। यदि किसी कारण से आप बीमार भी होते हैं अथवा मौसमजनित बीमारियों से आपको परेशानी होती है, तो आपकी सेहत शीघ्र ही सुधर जाएगी। यदि आप किसी पुरानी बीमारी से परेशान हैं तो इस वर्ष आपको उससे छुटकारा मिल सकता है।

प्रेम और दाम्पत्य

दाम्पत्य जीवन के लिए यह वर्ष बहुत ही अनुकूल रहेगा। यदि छोटे-मोटे मनमुटावों को छोड दिया जाए, तो लगभग पूरा साल ही आपको दिली सुकून देने वाला रहेगा। कुछ मामलों में आपको जरूरत से ज्यादा जिद न करने की सलाह दी जाती है। अन्यथा, रिश्तों में कुछ खटास आ सकती है। जीवनसाथी के साथ घूमने-फिरने के कई मौके मिलेंगे। ये यात्राएं दूर देशों की अथवा धर्मस्थलों से जुड़ी हो सकती हैं।

धन-संपत्ति

इस पूरे वर्ष आपकी आमदनी साधारण रूप से अच्छी रहेगी। आय में निरंतरता के कारण आप बचत करने में भी सफल रहेंगे। इस बचत में घर-परिवार वालों का भी सहयोग सराहनीय रहेगा। आमदनी के किसी नए श्रोत के मिलने की भी उम्मीद है। यह भी एक कारण होगा आपकी आर्थिक स्थिति को मजबूत करने का।

उपाय
  1. बाएं हाथ की उंगली में सोने की अंगूठी पहनें।
  2. भगवान शिव की पूजा करें।

सिंह

सिंह राशि वालों के लिए वर्ष 2020 में भी आपका जादू लोगों पर चलने के आसार हैं। विपरीत लिंगी के प्रति तो ये स्वयं भी बहुत जल्द आकर्षित होते हैं और अपनी ओर भी उन्हें जल्द ही आकर्षित कर लेते हैं। वर्ष के आरंभ में ही बुध वक्री होकर राशि स्वामी सूर्य के साथ गोचर में युक्ति संबंध बना रहा है जो कि संकेत कर रहा है, कि यदि अपने से सीनियर की राय मानकर आप कोई कार्य करते हैं, तो उसमें आपको लाभ मिलने के आसार हैं। हालांकि, बुध वर्ष के प्रथम सप्ताह में ही वक्री रहेंगें 8 जनवरी की शाम तक वह मार्गी हो जाएंगे। इस वर्ष आपको नए काम और नई चुनौतियों को स्वीकार करना पड़ सकता है। शनि के राशि परिवर्तन का असर सिंह जातकों पर मिला-जुला रहने के आसार हैं। शनि इस समय आपकी राशि से सातवें स्थान पर होंगे, जिसके कारण आप असमंजस की स्थिति में रह सकते हैं। जीवनसाथी के साथ मतभेद पैदा हो सकते हैं, लेकिन अगर आप अपने साथी की भावनाओं का खयाल रखते हैं, तो उनका सहयोग प्राप्त किया जा सकता है।
नौकरी

उच्च पद प्राप्त होने की संभावना अच्छी पाई जाती है। आप नौकरी करते हैं या कोई अच्छी नौकरी की तलाश है तो इस वर्ष में आपको प्राप्त होने की संभावना है। साहस और पराक्रम की दृष्टि से किया गया प्रयास सफल हो सकता है।

व्यापार

सड़क, पुल, भवन आदि निर्माण कार्यों से जुड़े जातक सावधान रहें, इस क्षेत्र में मंदी आने के पूरे-पूरे लक्षण दिखाई दे रहे हैं। व्यापार जगत से जुड़े जातक थोड़े सावधान रहें, शेयर बाजार हो या सोने, चांदी का वायदा बाजार काफी उतार-चढ़ाव रहेगा। पूंजी बचाकर रखिए। वर्ष के प्रारंभ में निर्यातक थोड़े कष्ट का अनुभव कर सकते हैं। बाजार अपनी चमक वर्ष के उत्तरार्ध में पुन: पा लेगा। सोने, चांदी, में काफी उतार चढ़ाव बना रहेगा।

परिवार

पारिवारिक दृष्टिकोण से यह वर्ष बहुत ही उत्तम रहेगा। परिवार में कोई मांगलिक कार्य सम्पन्न होने के योग बन रहे हैं। परिवार में सुख और शांति का वातावरण बनेगा। भाई-बहनों से आपके संबंध और मधुर होंगे। भाई-बहनों की उन्नति होगी। दूर रहने वाले पारिवारिक सदस्य के घर आगमन अथवा उसके साथ संबंधों में सुधार होने से मन प्रसन्न होगा। परिवार के सभी सदस्यों का बर्ताव आपके प्रति बहुत ही अच्छा रहेगा। यदि परिवार में कोई अदालती केस चल रहा है, तो उससे छुटकारा मिलेगा।

सेहत

स्वास्थ्य के लिहाज से वर्ष का अधिकांश समय अनुकूल रहेगा। इस अवधि का उपयोग आप मन को एकाग्र करने समाधि और योग क्रियाओं को करने के लिए भी कर सकते हैं। इससे आप में उत्साह का संचार होगा और अपने स्वास्थ्य को अच्छा बनाए रखने में कामयाब रहेंगे। लेकिन बीच बीच में छोटी मोटी बीमारियां मानसिक शांति भंग कर सकती हैं। कुछ घरेलू मामलों को लेकर मानसिक कष्ट और थकावट रह सकती है। अपने माता-पिता के स्वास्थ्य का ख्याल रखना भी जरूरी होगा। इस अवधि में आंख की पीड़ा भी हो सकती है।

प्रेम और दाम्पत्य

दांपत्य जीवन के लिए वर्ष का पहला भाग बड़ी अनुकूलता लिए हुए है। जिनकी उम्र विवाह की हो चुकी है, उनका विवाह होने के योग प्रबल हैं। सगाई अथवा प्रेम में प्रगाढ़ता के लिए भी समय काफी अनुकूल है।

धन-संपत्ति

शीघ्र पैसा बनाने के तरीकों पर अच्छी तरह सोच विचार कर अमल करें। फंसा हुआ या रुका हुआ धन प्राप्त करने में परेशानियां रह सकती हैं। विदेश के माध्यम से या किसी दूर की यात्रा के माध्यम से भी धनार्जन होने के योग बन रहे हैं। यदि आपका पैसा कहीं रुका हुआ है तो थोड़े से प्रयास से उसकी प्राप्ति हो सकती है। सारे प्रयास कर सौभाग्य काल को पूरी तरह भुनाने के लिये यह श्रेयस्कर समय है।

उपाय
  1. नुमान चलीसा का पाठ करें।
  2. मंगल मंत्र “ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:” का जप करें।

कन्या

साल 2020 कन्या राशि वालों के लिए बहुत अच्छा रह सकता है। ये साल आपको हर तरह से मिले-जुले परिणाम देने वाला रह सकता है। कुछ मामलों में बेहतरीन सफलता तो कुछ में आपको असफलता का मुंह देखना पड़ सकता है। व्यावसायिक जीवन में भले ही आपको थोड़ी परेशानियों का सामना करना पड़े लेकिन व्यक्तिगत जीवन में शुभ समाचार आपके जख्मों पर मरहम का काम करेंगे। संतान पक्ष की ओर से आपको बहुत ज्यादा खुशी देने वाला समाचार मिल सकता है। आसमान से टपके, खजूर में अटके कुछ ऐसा ही आपके साथ अप्रैल के बाद के समय में हो सकता है। क्योंकि, शनि की ढ़ैय्या से मुक्त होने के साथ ही बुध का मेष राशि में वक्रि होना आपके लिये शुभ नहीं कहा जा सकता है। इस दौरान आपके खर्चे बढ़ने की संभावनाएं प्रबल होंगी जिससे आप कठिन आर्थिक हालातों का सामना भी कर सकते हैं। इस समय स्वास्थ्य के प्रति भी आपको सचेत रहने की आवश्यकता होगी विशेषकर गर्मी संबंधी बीमारियां आपको अपनी जकड़ में ले सकती हैं। माता के स्वास्थ्य के लिये भी यह समय हानिकारक हो सकता है लेकिन भाई-बहनों के लिये अच्छा रहने के आसार हैं। हालांकि इसी समय गुरु भी मकर राशि में रहेंगे जिनके प्रभाव से इन तमाम परिस्थितियों में आपको सगे-संबंधियों से उचित सलाह भी मिलने की संभावना है।
नौकरी

स्थितियां थोड़ी भागदौड़ वाली हो सकती हैं। छोटे-छोटे कामों को लेकर भाग दौड़ करना पड़ सकता है। परंतु, इस माह में आपके सगे संबंधियों से संबंध अच्छा हो सकता है। जिससे की आर्थिक लाभ में सहयोग प्राप्त हो सकता है। समय और परिस्थिति के अनुसार हर तरह की सुख-सुविधाएं प्राप्त होने की संभावना बनती हैं जो आर्थिक लाभ से जुड़ी हुई हैं।

व्यापार

दशमेश शनि के सप्तम भाव में उच्च राशि में होने कारण बड़े कामों के प्रस्ताव मिलेंगे। आप कई बडें कामों में सफल भी होंगे लेकिन व्यापार के बड़े-बड़े निर्णय लेने या विकास की योजनाओं पर ध्यान देने के लिए यह आवश्यक है कि आप पूरी जांच-परख करके ही ऐसा करें। किसी कानूनी झंझट में पड़ने से बचें। राहु-केतू की स्थितियां साझेदारी में काम करने वालों के लिए शुभ नहीं रहेंगी।

परिवार

यह वर्ष आपके पारिवारिक मामलों के लिए बहुत अनुकूल नहीं हैं। अत: परिवार से जुडे हर मामले में बहुत सावधानी बरतने की जरूरत है। परिवार के कुछ लोगो का बर्ताव आपके साथ प्रतिकूल भी रह सकता है। यहां तक कि मित्र और रिश्तेदार अपनी कही बातों से मुकर सकते हैं। परिवार की किसी स्त्री से आपके मतभेद हो सकते हैं अथवा संबंध बिगड सकते हैं। इन तमाम कारणों से आपके मन में घर-परिवार को लेकर एक असुरक्षा की भावना पनप सकती है। आपको भी अपनी कुछ आदतों पर नियंत्रण लगाने की सलाह दी जाती है। अन्यथा परिवार में वैमनस्य हो सकता है।

सेहत

बेवजह यात्राएं करना भी ठीक नहीं होगा। जोखिम उठाने वाली प्रवृतियों पर भी अंकुश लगाने की आवश्यकता है। किसी कानूनी मामले में पड़कर चिंता करना भी स्वास्थ्य पर बुरा प्रभावी होगा। खान-पान पर संयम रखें, अन्यथा उदर विकार होने की सम्भावना है।

प्रेम और दाम्पत्य

बृहस्पति की द्वादश भाव में स्थिति गृहस्थी के लिए अनुकूल नहीं है। अपने जीवनसाथी के साथ संबंधों को बहुत सावधानी से सहेजना होगा अन्यथा छोटी से बात भी आपस में दरार का कारण बन सकती है। आपके साथी का स्वास्थ्य भी बिगड सकता है। आप का साथी किसी मामले में आपसे झूठ भी बोल सकता है। सच्चाई की जानकारी होने पर आपको आत्मिक कष्ट होगा।

धन-संपत्ति

धन को लेकर इस वर्ष निरंतरता नहीं बन पाएगी। लेकिन बीच-बीच में अचानक धन लाभ होने की संभावना जरूर बन रही है। निवेश के मालमे में सावधान रहना जरूरी होगा क्योंकि जोखिम भरे कामों में धन फंसने की संभावना है। जोखिम उठाने के लिये यह उपयुक्त समय नहीं है। अत: इस समय तथ्यजीवी रहें, स्मृतिजीवी न बने क्योंकि इस समय पूंजी निवेश करने से मनचाहा परिणाम प्राप्त नहीं होगा।

उपाय
  1. शराब न पियें और अपना नैतिक चरित्र ठीक रखें।
  2. पूजा के स्थान या मंदिर में नियमित रूप से दान करें।

तुला

साल 2020 तुला राशि वालों के लिए बहुत अच्छा रहने वाला है। घर-परिवार में मांगलिक कार्य सम्पन्न होंगे। यात्राओं में इस साल काफी समय गुजरेगा। आमोद-प्रमोद के अवसर आपके नजदीक आएंगे। चित्त प्रफुल्लित रखें। विदेश यात्रा के अवसर मिलने के आसार हैं। राहु-केतु के परिवर्तन के तीन दिन बाद ही बृहस्पति भी अपनी राशि परिवर्तित करेंगें। बृहस्पति के प्रभाव से आपको संतान पक्ष की ओर से कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। संतान का सुख मिलने के पूरे आसार हैं। बृहस्पति का परिवर्तन आपके भाग्य और लाभ में भी वृद्धि करने वाला साबित हो सकता है। अप्रैल में शनि की ढ़ैय्या तो कुछ महीनों के लिये समाप्त हो जाएगी लेकिन मेष राशि में बुध का वक्री होना, आपके लिये वित्तीय रुप से परेशानियां खड़ी कर सकता है। हो सकता है, पैसों के अभाव में आपकी कोई परियोजना अधर में लटक जाए। लेकिन, चूंकि इसी समय गुरु भी कन्या राशि पर दृष्टि रखेंगे तो परिजनों या दोस्तों की सलाह से आप अपने करियर की गाड़ी को पटरी पर ला सकते हैं। सितंबर में राहु-केतु के राशि परिवर्तन के कारण आपको अपने करियर का बहुत सुनहरा अवसर प्राप्त हो सकता है बशर्ते आप इस अवसर को भुनाने में कामयाब हों। लेकिन इसके तीन दिन बाद ही बृहस्पति का राशि परिवर्तन होगा जिसके कारण फिर से आपके करियर की राह में रोड़े अटकने आरंभ हो सकते हैं। वर्ष की अंतिम तिमाही करियर के लिहाज से बहुत अधिक उत्साहजनक नहीं कही जा सकती।
नौकरी

किसी विशिष्ट व्यक्ति के संपर्क में आने से उच्च पद प्राप्ति की संभावनाएं बन सकती हैं। गाड़ी घर इत्यादि की सुख-सुविधा प्राप्त होने की संभावना अच्छे बन रहे हैं। जॉब में नई जिम्मेदारी या कोई बड़ा नेतृत्व आपको मिल सकता है। किसी भी मामले में लापरवाही आपके लिए भारी हो सकती है।

व्यापार

दूसरों की लापरवाही और असफलताओं से आप चिंतित रह सकते हैं। झूठी आशाओं पर निर्भर न रहें, अधिक आत्मविश्वास आपको आपदाग्रस्त कर सकता है। अपनी प्रतिष्ठा के प्रति सचेत रहना भी जरूरी होगा। इन सबके बावजूद अपने रूचि के क्षेत्र में आप अच्छा काम करेंगे और जनप्रिय बनें रहेंगे।

परिवार

यह वर्ष पारिवारिक मामलों के लिए मिला जुला रहेगा। हांलाकि आपको परिवारिक माहौल से सहारा मिलेगा। परिवार के साथ आप तीर्थांटन पर जा सकते हैं अथवा परिवार के किसी सदस्य के लिए लंबी यात्रा सफलदायक सिद्ध होगी। परिवार में नए सदस्य की बढ़ोत्तरी होगी। जिन लोगों ने परिवार के किसी सदस्य के माध्यम से कोई वसीयत प्राप्त करने की उम्मीद लगा रखी है, तो उनकी इच्छा पूरी हो सकती है। लेकिन, राहु और शनि का गोचर अनुकूल न होने के कारण परिवारजनों की सभी अपेक्षाएं पूरी न होने के कारण कुछ विवाद हो सकता है और घरलू वातावरण तनावपूर्ण रह सकता है। आप घर के मामलों में असुरक्षा की भावना से आक्रांत रहेंगे।

सेहत

छ्ठे भाव में स्थित केतू और छठे भाव के स्वामी का अष्टम में बैठना स्वास्थ्य के लिए शुभ नहीं है। अत: इस वर्ष स्वास्थ्य से संबंधित कुछ परेशानियां रह सकती हैं। किसी आर्थिक मुद्दे को लेकर या किसी विरोधी के कारण दिमागी तनाव भी रह सकता है। किसी यात्रा के दौरान भी आपका स्वास्थ्य बिगड़ सकता है।

प्रेम और दाम्पत्य

शादीशुदा लोगों के लिए भी समय उत्तम फलदायी है। आप जीवनसाथी के साथ आनंद मनाएंगे। साथ ही, अपने प्रेम पात्र के साथ कहीं घूमने-फिरने की भी योजना बन सकती है। आपकी इच्छाओं और आकांक्षाओं की पूर्ति होगी।

धन-संपत्ति

धन भाव में बृहस्पति का गोचर होने के कारण आपकी आमदनी में बढ़ोत्तरी होगी फलस्वरूप आप बचत करने में भी सफल रहेंगे। किसी वसीयत के माध्यम से भी आपको धन लाभ हो सकता है अथवा किसी अप्रत्याशित जगह से अचानक धन की प्राप्ति हो सकती है।

उपाय
  1. दूध और चीनी दान करें।
  2. कुत्ते को मीठी रोटी दें, लेकिन ध्यान रहे कि वह कुत्ता पालतू नहीं होना चाहिए।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि वालों के लिए साल 2020 बेहतरीन परिणाम देने वाला रहेगा। विदेश में संभावनाएं तलाश रहे जातकों के लिये बहुत ही शुभ समय रहने के आसार हैं। विदेश यात्रा या विदेश में जॉब के लिए सितारे संकेत कर रहे हैं। अप्रैल में आपके सामने एक साथ कई मुश्किलें आ सकती हैं, इसलिये व्यवहार से लेकर व्यापार तक हर मामले में आपको सावधानी रखनी है। दरअसल, इस समय बुध व शनि देव दोनों ही वक्री होंगे। इस समय हो सकता है, आप अपने काम या स्थान के परिवर्तन का भी मन बना लें। शनि के वक्री होने से आपको लक्ष्यों तक पहुंचने के लिये बहुत अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। राशि स्वामी के वक्री होने से भी आप निर्णयों को लेने में हिचकिचा सकते हैं या फिर असमंजस की स्थिति पैदा हो सकती है। यदि आप इस समय सोच-विचार कर सही निर्णय लेते हैं तो यह आपके लिए लाभकारी भी हो सकता है। आपके लिए सलाह है कि वक्री शनि व बुध के नकारात्मक प्रभावों से बचने के उपाय जानने के लिये विद्वान ज्योतिषाचार्यों से परामर्श अवश्य कर लें। कड़ी मेहनत करते रहे तो सितंबर में राहु-केतू के परिवर्तन के साथ ही आपको सचेत रहना होगा। इस समय आपको धन की हानि हो सकती है, कार्यक्षेत्र में प्रतिस्पर्धी या इर्ष्यालु आपको नुक्सान पहुंचाने का प्रयास भी कर सकते हैं। यदि आप शिक्षार्थि है और पढ़ाई-लिखाई से संबंधित कोई कोर्स करना चाह रहे हैं या कर रहे हैं तो आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। मानसिक अशांति तथा तनावपूर्ण परिस्थितियों के कारण आपकी मंजिल प्राप्ति में बाधा उत्पन्न हो सकती हैं।
नौकरी

नौकरी के मामले में बहसों में न उलझें अन्यथा आप मालिकों अथवा वरिष्ठ अधिकारियों के रोष के भाजन हो सकते हैं। कोशिश करें कि अपना काम सलीके से करें। विपरीत परिस्थितियों को बुद्धिमता से निबटाएं। यदि आप ऐसा करते हैं तो केतू का गोचर महत्त्वपूर्ण व्यक्तियों से जोडने में आपकी मदद करेगा।

व्यापार

बृहस्पति का गोचर विदेशियों या सुदूर स्थलों पर रहने वाले लोगों से आपके व्यवसायिक संबंधों को मजबूत कराएगा। आप किसी नए काम की शुरुआत भी कर सकते हैं। लेकिन अन्य महत्त्वपूर्ण ग्रहों जैसे शनि और राहु का गोचर अनुकूल न होने से कुछ काम बिगड़ भी सकते हैं।

परिवार

प्रथम भाव में स्थित बृहस्पति के कारण आप अपने पारिवारिक मामलों को लेकर बहुत प्रसन्न रहेंगे। घर परिवाज में कोई शुभ और श्रेष्ठ संस्कार होने के योग भी बन रहे हैं। कोई मांगलिक कार्य या उत्सव सम्पन्न होने की सम्भावना है। घर परिवार का माहौल भी संतोषप्रद रहेगा। लेकिन किन्हीं कार्यों के कारण अथवा यात्राओं के कारण आपको अपने परिवार से दूर रहना पड़ेगा।

सेहत

इस वर्ष कुछ विषम परिस्थियों से भी सामना हो सकता है, ऐसे में विपरीत परिस्थितियों को बुद्धिमता से झेलने का विश्वास अपने अन्दर पैदा करें अन्यथा स्वास्थ्य बिगड सकता है।

प्रेम और दाम्पत्य

दाम्प्त्य प्रसंगों के लिए वर्ष का पहला भाग अधिक अनुकूल नहीं है। आपकी जिद संबंधों में दरार का कारण बन सकती है। आपको जीवनसाथी के मामले में सावधानी से काम लेने की जरूरत है, साथ ही अपनी और प्रतिष्ठा को ध्यान में रखना भी जरूरी है।

धन-संपत्ति

आप किसी धार्मिक कार्य में खर्चे कर सकते हैं। परिवार के सदस्यों और अन्य लोगों के हित में भी आप खर्च करेंगे। इन सबके बावजूद किसी माध्यम से आपका पैसा खो सकता है। अत: कोई जोखिम भरा निवेश करने से बचें साथ ही पैसों की सुरक्षा को लेकर चिंतन करें।

उपाय
  1. शराब और मांस का सेवन न करें।
  2. केसर का तिलक लगाएं।
  3. मंगल मंत्र “ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:” का जप करें।

धनु

धनु राशि वालों के लिए साल 2020 कुछ मिलाजुला रह सकता है। साल की शुरुआत में आपको थोड़ा सचेत रहने की आवश्यकता है। क्योंकि, इस समय शुक्र की केतु के साथ युक्ति संबंध रहेगा। विशेषकर भावनात्मक रूप से आपको आहत होना पड़ सकता है इसलिये प्रेम-संबंधों के मामले में हर कदम संभल कर उठाना होगा। विवाहित जातक अपने जीवनसाथी में पूर्णतया विश्वास जताएं अन्यथा संबंधों में खटास पैदा हो सकती है। जनवरी के अंतिम सप्ताह में शनि के राशि परिवर्तन से आप पर शनि की साढ़ेसाती की आखिरी ढैया आरंभ होगी, जिससे आपकी परेशानियां बढ़ सकती हैं। इस समय यदि आप भाग्य के भरोसे बैठेंगे तो यह आपकी बड़ी भूल साबित हो सकती है, इसलिये कठिन परिश्रम करें। शनि एक न्यायप्रिय देवता हैं, इसलिये कड़ी मेहनत का फल आपको मिल सकता है। कार्यस्थल पर पदोन्नति के आसार हैं लेकिन आपको थोड़ा संयम से रहने की आवश्यकता होगी। अप्रैल में शनि के वक्री होने से आपको शनि से कुछ समय के लिये मुक्ति मिलेगी। सितंबर में राहु-केतू राशि परिवर्तन करेंगे, यह समय आपके लिये बहुत भाग्यशाली रहने के आसार हैं। राहू जहां आपके पराक्रम में वृद्धि कर सकते हैं और शत्रुओं पर विजय प्राप्त करवा सकते हैं वहीं केतु जो कि भाग्य क्षेत्र में होंगें आपकी रुचि धर्म-कर्म के कामों की ओर बढ़ा सकते हैं। हो सकता है इस दौरान आपके परिवार में बड़े स्तर पर किसी मांगलिक कार्य का आयोजन हो। यदि आप विद्यार्थी हैं तो शिक्षा के क्षेत्र में आपको सफलता प्राप्त हो सकती है। परंतु कुछ तनाव का सामना करना पड़ सकता है। अतः मन को एकाग्रचित कर अपनी मंजिल प्राप्ति के लिए कोशिश करना फलदायक हो सकता है।
नौकरी

शनि के प्रभाव के कारण आपको परिश्रम अधिक करना पड़ सकता है लेकिन इसके साथ आपको परिणाम भी अनुकूल मिल सकते हैं। आपके कार्य की सराहना होगी और आपको कार्यस्थल पर तरक्की मिल सकती है। किसी नई टीम का नेतृत्व करने का मौका भी आपको मिल सकता है।

व्यापार

राजनीतिक, प्रशासनिक तथा व्यापारिक दृष्टि से सुखद महसूस करेंगे। नवीन कार्यों का श्रीगणेश किया जा सकता है। अवरोध दूर होकर लाभ का मार्ग प्रशस्त होगा। सेवारत जातक पदोन्नति आदेश पाने में सफल होंगे। अब उन्नति के योग बन रहे हैं।

परिवार

घर-परिवार को लेकर आप कोई गलत निर्णय लेने से बचें अन्यथा इसकी चिन्ता आपको पूरे वर्ष परेशान करती रहेगी। किसी अन्य कारण से भी आपको पारिवारिक चिन्ता रह सकती है। इन सबके बावजूद भी पारिवारिक वातावरण अच्छा बना रहेगा। आपके बच्चों का स्वास्थ्य अच्छा नहीं रहेगा।

सेहत

स्वास्थ्य के लिहाज से यह वर्ष आपके लिए बहुत अच्छा नही प्रतीत हो रहा है। अष्टमेश बृहस्पति लग्न पर है जो समय-समय पर आपके स्वास्थ्य को पीड़ित कर सकता है। अत: स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

प्रेम और दाम्पत्य

जीवनसाथी से झगड़े और विवाद होने की पूरी संभावना है। विपरीत लिंगी से संबंध अच्छे नहीं रहेंगे। किसी भी संबंध को तोड़ने या जोड़ने के मामले जल्दबाजी या हड़बड़ी से बातें बिगड़ सकती हैं। अत: कोई भी निर्णय ठंडे दिमाग से ही लें। आपके कुछ अपने लोग आपको बार बार धोखा दे सकते हैं, अत: अपने दिलोदिमाग को खुला रखना जरूरी होगा।

धन-संपत्ति

वसीयत प्राप्त करने की संभावना है, तो आप उसे प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन, किसी नए काम को शुरु करने के लिए बडा निवेश करने से बचना जरूरी है। यदि ऐसा करना जरूरी ही हो तो बहुत ही सावधानी पूर्वक निवेश करें।

उपाय
  1. किसी गाय को चारा और चावल खिलाएं।
  2. व्यभिचार से बचें।

मकर

मकर राशि वालों के लिए साल 2020 नकारात्मक और सकारात्मक दोनों तरह के परिणाम देने वाला रह सकता है। किसी मिथ्या कलंक लगने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता, अत: अपनी जीवन शैली में शुचिता, शालीनता तथा व्यवहारिक जीवन में पारदर्शिता बनाए रखें। स्वास्थ्य की दृष्टि से 21 जून तक सावधान रहें, क्योंकि सिंह राशि में भ्रमण करता मंगल अस्वस्थता की स्थिति में आपरेशन अथवा गहन चिकित्सा की स्थिति में जातक को चिकित्सकों की शरण में ले जा सकता है। अस्तु, अस्वस्थता की स्थिति में चिकित्सीय परामर्श समय-समय पर लेते रहें। खर्च की अधिकता एवं आय में गिरावट आपके परिवार का बजट बिगाड़ सकती है। कृपया, अनावश्यक खरीदी में रुचि न लें, अन्यथा ऋण और ब्याज आपकी आर्थिक व्यवस्था को गड़बड़ा सकता है। परिवार में मांगलिक आयोजन सम्पन्न होंगे। जिन जातकों की कुंडली में शनि, गुरु, मंगल अथवा बुध स्वक्षेत्री उच्चराशि या वर्गोत्तम हैं तो ऐसे शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार मिल सकता है। यूपीएससी अथवा पीएससी या बैंकिंग के साथ निजी क्षेत्रों की कंपनियों में सर्विस मिलने के शुभ संकेत हैं। कृपया ध्यान रखें- भाग्य के साथ कर्म करना अनिवार्य है। मेहनत सफलताओं के द्वार पर खड़ा कर सकती है। विवाह योग्य जातक दाम्पत्य जीवन में प्रवेश के सुखद अनुभव का अहसास कर सकेंगे। गर्भवती महिलाएं सुकुमार, सुन्दर शिशुओं की जननी बनने का सौभाग्य प्राप्त करेंगी।
नौकरी

अच्छे पोजीशन प्राप्त होने की संभावना पाई जा रही है। उच्च अधिकारियों से संपर्क बेहतर होने से अच्छी पोजीशन प्राप्त हो सकती हैं तथा कामकाज के क्षेत्रों से अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है।

व्यापार

कार्यक्षेत्र के लिए यह वर्ष अच्छा रहेगा रहेगा। आप अपने अच्छे कर्मों के कारण कामों में सफल रहेंगे। कुछ विषम परिस्थियां भी सामने आ सकती हैं लेकिन आप उन पर विजय पा लेंगे और दैनिक कार्यों में स्फूर्तिवान बने रहेंगे। व्यवसाय में अच्छा सुधार होगा। प्रभावशाली व्यक्तियों से आपके सम्पर्क बढ़ेंगे। लेकिन, कुछ कामों में आप अनुभवी लोगों की सलाह को भी नजरअंदाज कर सकते हैं और गलत निर्णय लेकर चिंताग्रस्त हो सकते हैं।

परिवार

पारिवारिक मामलों के लिए यह वर्ष अधिक अनुकूल नहीं है। परिवार के कुछ लोगों का बर्ताव से आपकी भावनाएं आहत हो सकती हैं। कुछ विषम परिस्थियां भी निर्मित होंगी अत: अच्छा यही रहेगा कि विपरीत परिस्थितियों को झेलते समय आप अपने अन्दर प्रतिरोधात्मक शक्ति विकसित करें। कुछ लोगों का व्यवहार वैमनस्यपूर्ण भी रह सकता है। आपके इष्ट-मित्र भी अपने वादों से मुकर सकते हैं और उनसे आपके सम्बन्ध मधुरता खो सकते हैं।

सेहत

वर्ष के मध्य में अस्वस्थ्य रहने का संकेत शनि ग्रह भी कर रहा है लेकिन यह अस्वस्थता छोटी-मोटी बीमारी के कारण ही होगी। द्वादश भाव का केतु भी संकेत कर रहा है कि इस वर्ष आप कुछ हद तक उन्मादी हो सकते हैं। अत: स्वयं को सनक या उन्माद से बचाए रखना जरूरी होगा।

प्रेम और दाम्पत्य

दाम्पत्य जीवन के लिए यह वर्ष अनुकूल नहीं रहेगा। यदि आपने जरा भी लापरवाही दिखाई या छोटी बात को बड़ा मुद्दा बनाने की कोशिश की तो आपके संबंध बिखर सकते हैं। आपका जीवनसाथी आपसे झूठ बोल सकता है या बेवफाई कर सकता है।

धन-संपत्ति

धन की आमदनी की निरंतरता में कुछ व्यवधान आ सकता है। लेकिन, इस वर्ष अचानक धन प्राप्ति होने के योग जरूर बन रहे हैं। इस अवधि में यदि कहीं से वसीयत प्राप्त होने की उम्मीद होगी या आप उसको प्राप्त करने के लिये इच्छुक होंगे तो वह आपको इस वर्ष आपको मिल सकती है।

उपाय
  1. शिक्षा और स्वास्थ्य में सकारात्मक परिणाम के लिए बरगद के पेड़ की जड़ों पर मीठा दूध चढांएं।
  2. बहते पानी में नारियल बहाएं तथा झूठे वादे, घमंड व गाली देने से बचे और माथे पर केसर का तिलक लगाएं।

कुंभ

साल 2020 कुंभ राशि वालों के लिए काफी महत्वपूर्ण साल साबित हो सकता है। इस राशि के जातकों को भ्रमण हेतु विदेश यात्राओं के सुयोग तो बनेंगे ही, साथ ही उच्च शिक्षा हेतु कुंभ राशि के अनेक छात्र विदेशों में विद्याध्ययन के लिए प्रस्थान करते भी नजर आएंगे। चेष्टारत रहें, स्वास्थ्य नरम, हल्की दुर्घटनाओं से बचें, संतान पक्ष से चिंतित रहने वाले जातक सतर्क रहें। यथासंभव प्रयास करें कि बच्चों का मनोबल न गिरें अपितु, उत्साहवर्धन करते रहें। नेत्र पीड़ा, पाचन संस्थान में गड़बड़ी से प्रभावित होने पर चिकित्सीय सलाह में देरी सुखद नहीं रहेगी। भूमि, भवन, सड़क निर्माण आदि क्षेत्रों से जुड़े व्यवसायी कार्य करवाने में सावधानी रखें, अन्यथा जांचों के दायरे आपकी प्रतिष्ठा के लिए घातक हो सकती है। राजनीतिक क्षेत्र से जुड़े जातक सावधान रहें। व्यर्थ की मृगमारिचिका में न पड़ें। शनि की साढ़ेसाती की पहली ढैया आयकर विभाग या लोकायुक्त अथवा पुलिस की वक्र दृष्टि से आपका हाजमा बिगाड़ सकता है। सेवारत अधिकारी, कर्मचारी स्थानांतरण के द्वारा अपनी पदस्थापना को बदलते नजर आएंगे। मोती रत्न विधि विधान से धारण करें। वर्ष का उत्तरार्ध व्यापार जगत के लिए शुभ होगा।
नौकरी

स्थिरता और गंभीरता से किए गए कार्यों से अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। गुस्सा और जल्दबाजी में कोई भी कार्य न करें। बाकी स्थिति अच्छी रहेगी। आप साहसी प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं। इसलिए आपकी लिए कामकाज का क्षेत्र प्रबल हो सकता है।

व्यापार

सरकार से जुडे किसी व्यक्ति की सहायता से भी आपके काम बनेंगे। कुछ व्यवसायिक यात्राएं होंगी। व्यवसायिक विरोधियों पर विजय पाने में आप सफल रहेंगे।

परिवार

कुछ पारिवारिक सदस्यों के बीच मतभेद भी हो सकता है। माता पिता को लेकर भी कुछ चिंताएं रह सकती हैं। परिवारजनों में से किसी के स्वास्थ्य को लेकर आप चिंतित रह सकते हैं।

सेहत

स्वास्थ्य के लिहाज़ से यह वर्ष अधिक अनुकूल नहीं है। किसी काम में मिली असफलता के कारण आई चिंता आपको थका सकती है। ऐसे में स्वास्थ्य का खयाल रखना जरूरी होगा। यदि आपको पहले से कोई लम्बी बीमारी से ग्रस्त हैं, तो परहेज की आवश्यकता है। वाहनादि सावधानी से चलाएं और दुर्घटनाओं को लेकर सचेत रहने की आवश्यकता है।

प्रेम और दाम्पत्य

यदि आप विवाह के योग्य हैं तो इस वर्ष के प्रथम भाग में ही सगाई अथवा विवाह होने के अच्छे योग हैं। उस विवाह से आपको खूब लाभ होना चाहिए अथवा विवाह किसी कुलीन से हो सकता है। यदि संतान को लेकर आपके दिल में कोई उथल-पुथल हो रही थी तो खुश हो जाएं। सन्तान को लेकर चली आ रही चिंताओं का सिलसिला खत्म हो रहा है। जीवन साथी के साथ कहीं घूमने फिरने का मौका भी मिलेगा।

धन-संपत्ति

आर्थिक मामले के लिए यह वर्ष बहुत अच्छा रहेगा। आमदनी के स्रोतों में इजाफा होगा फलस्वरूप धन संचय करने में भी आपको सफलता मिलेगी। किसी सरकारी आदमी के सहयोग से भी आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। कोई मुनाफे का बडा सौदा हाथ लग सकता है और धनवृद्धि होगी। वर्ष के आरम्भ में धन स्थान का स्वामी अष्टम भाव में चतुर्थेश के साथ है अत: कुछ अचल सम्पत्ति मिलने के भी योग हैं। कहीं से अचानक धन प्राप्ति भी हो सकती है।

उपाय
  1. भगवान गणेश की पूजा करें।
  2. मांसाहार और शराब से बचें।
  3. बुध मंत्र “ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:” का जप करें।

मीन

मीन राशि के लिए साल 2020 में काफी नई संभावनाएं जन्म ले रही है। जातक करियर के मामले में काफी सफल व्यवसायी होते हैं, ये एक अच्छे फाइनेंसर व बैंकर की भूमिका भी अच्छे से निभा सकते हैं। इनमें रचनात्मकता व कलात्मकता भी खूब होती है विशेषकर संगीत के क्षेत्र में ये अच्छा नाम कमाने का मादा रखते हैं। जमीन से जुड़े कारोबार में यदि हाथ आजमाएं तो सफलता हाथ लग सकती है। लेकिन, चिंता कि बात यह है कि आपके लिये यह सौभाग्यशाली समय बहुत ज्यादा समय के लिए नहीं है। राहू-केतु के राशि परिवर्तन के तीन दिन बाद ही बृहस्पति भी राशि परिवर्तन करेंगें जिससे आपकी परेशानियां फिर से बढ़ सकती हैं। इस समय किसी भी महत्वपूर्ण फैसले को लेने से पहले अच्छे से उसके सकारात्मक और नकारात्मक पहलुओं पर विचार-विमर्श कर लें हो सके तो अनुभवी व्यक्तियों से सलाह अवश्य लें। आगे के समय में साल के अंत तक आपको ऐसे ही उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं।

नौकरी

करियर के दृष्टि से उन्नति दायक हो सकता है परंतु कामकाज को लेकर उतार-चढ़ाव की स्थितियां देखने को मिल सकती हैं। क्योंकि मंगल मकर राशि में संचरण कर रहा है जो करियर की दृष्टि से काफी अच्छा और उन्नति दायक है। यदि आप नौकरीपेशा हैं तो इस वर्ष आपको पदोन्नति मिल सकती है। सामाजिक क्षेत्र में भी आप प्रतिष्ठा और सम्मान प्राप्त करेंगे। कुल मिलाकर यह वर्ष आपको मेहनत के अनुरूप कम फल देगा।

व्यापार

आप अपने कामों को अंजाम तक पहुंचाने में कठिनाई का अनुभव करेंगे। कार्यक्षेत्र के कुछ प्रतिद्वंदियों के द्वारा भी रुकावट डाली जा सकती है। आपको दूसरों के लिये भी काम करना पड़ सकता है। किसी भी व्यसायिक यात्रा को करने से पहले भली भांति जांच कर लें कि वह यात्रा आपके लिए लाभकारी है या नहीं।

परिवार

बृहस्पति के गोचर के प्रभाव से आपके भाई और बहनों के जीवन में खुशहाली आएगी। वें आपके लिए मददगार भी बने रहेंगे। लेकिन शनि मे गोचर के कारण परिवार के अन्य लोगों के लिए समय बहुत अनुकूल नहीं है, इस कारण से आप पारिवारिक सुख के अभाव का अनुभव करेंगे। आप पर कुछ ऐसी बातों को लेकर झूठे इल्जाम लगाए जा सकते हैं, जिनमें आपका सहयोग नगण्य रहा हो।

सेहत

स्वास्थ्य के लिहाज से वर्ष का अधिकांश समय अनुकूल रहेगा। इस अवधि का उपयोग आप मन को एकाग्र करने समाधि और योग क्रियाओं को करने के लिए भी कर सकते हैं। इससे आपमें उत्साह का संचार होगा और अपने स्वास्थ्य को अच्छा बनाए रखने में कामयाब रहेंगे। लेकिन बीच बीच में छोटी मोटी बीमारियां मानसिक शांति भंग कर सकती हैं। कुछ घेरलू मामलों को लेकर मानसिक कष्ट और थकावट रह सकती है। अपने माता-पिता के स्वास्थ्य का खयाल रखना भी जरूरी होगा। इस अवधि में आंख की पीड़ा भी हो सकती है।

प्रेम और दाम्पत्य

यदि आप विवाह के योग्य हैं तो इस वर्ष के प्रथम भाग में ही सगाई अथवा विवाह होने के अच्छे योग हैं। प्रेम में आपको पूरी सफलता मिलने के योग हैं। प्रेम विवाह के इच्छुक लोगों के लिए यह साल प्रेम को परिवार की स्वीकृति मिलने का हो सकता है। विवाहित लोगों के लिए ये साल संबंधों की प्रगाढ़ता वाला हो सकता है।

धन-संपत्ति

किसी लॉटरी या बीमा के माध्यम से भी धन लाभ होने की उम्मीद है। अगर आपने प्रार्थना की है तो इस वर्ष आर्थिक साधन व रूपया पैसा आप अवश्य प्राप्त करेंगे।

उपाय
  1. भगवान गणेश की पूजा करें।
  2. गायों की सेवा करें और अछूतों की मदद करें।
  3. शुक्र मंत्र “ॐ द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम:” का जप करें।
Facebook Comments