बेडरूम में कैसी होती है भारतीय मर्दों की परफॉर्मेंस, मध्यप्रदेश सहित इन राज्यों के लोग इतने टाइमिंग तक देते है परफॉर्मेंस ….

Lifestyle
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हर इंसान की चाहत होती है कि वह अपने पार्टनर को खुश रखे और सुंतष्ट कर सके. फिजिकल रिलेशनशिप में अपनी टाइमिंग को लेकर अक्सर पुरुष सबसे ज्यादा चिंता में नजर आते हैं. बेडरूम में पार्टनर के साथ वे कितनी देर टिके? या फोरप्ले के लिए उन्होंने कितना समय लिया? इस तरह के कुछ सवाल उन्हें परेशान करते हैं.

इंडिया टुडे सेक्स सर्वे 2019 में लोगों से जब पूछा गया कि फोरप्ले समेत वे कितनी देर टिक पाते हैं, 30 मिनट से ज्यादा या कम? इस मामले में इंदौर के लोग सबसे आगे नजर आए.

इंदौर के 91.5% लोगों ने कहा कि वे बेडरूम में 30 मिनट से ज्यादा टिकते हैं. इस मामले में दूसरे नंबर पर जयपुर था. जहां 67.5% अपनी टाइमिंग को लेकर संतुष्ट थे.

अहमदाबाद में 63%, भुवनेश्वर में 59.5%, चंडीगढ़ में 53.7% और मुंबई में 51.2 प्रतिशत लोगों का मानना था कि वे पार्टनर के साथ करीब 30 मिनट तक रोमांस कर सकते हैं.

गौरतलब है कि पोर्न की तर्ज पर ये धारणा बन चुकी है कि लोग पार्टनर के साथ करीब 30-40 मिनट तक टाइम स्पेंड करें. ऐसा न होने पर अक्सर लोग चिंता में आ जाते हैं. जबकि विशेषज्ञों का शारीरिक संबंधों की क्षमताओं को लेकर कुछ और ही कहना है.

साल 2008 में अमेरिका के  में कई डॉक्टरों इस बारे में खुलकर चर्चा की थी. डॉक्टरों का मानना था कि पार्टनर के साथ संबंध की अवधि दोनों के मूड पर निर्भर करती है.

डॉक्टर्स ने बताया कि अगर आप तीन मिनट तक सेक्स करने में सक्षम हैं तो आप को चिंतित होने की जरूरत नहीं है. अगर आपका वक्त 3 मिनट से भी कम है तो चिंता का विषय हो सकता है.

उनके अनुसार, अगर आप 3 से 7 मिनट के बीच एजाकुलेट हो रहे हैं तो हो सकता है कि आपका पार्टनर संतुष्ट न हो. डॉक्टर्स का इशारा साफ था कि अगर आपकी पार्टनर की सेक्शुअल ड्राइव आपसे ज्यादा है तो 3-7 मिनट की अवधि कम हो सकती है.

यही सीमा अगर आप 13 मिनट तक खींचने में सफल रहते हैं तो आप सामान्य हैं. डॉक्टर्स के मुताबिक 3-13 मिनट की अवधि वाला सेक्स सामान्य की श्रेणी में आता है.

Facebook Comments
Please Share this Article, Follow and Like us:
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •