जबलपुर

Jabalpur: 760 करोड़ की लागत से बनाया जा रहा फ्लाई ओवर, लोक निर्माण मंत्री ने की कार्यो की समीक्षा

Suyash Dubey
23 July 2021 9:29 PM GMT
Jabalpur: 760 करोड़ की लागत से बनाया जा रहा फ्लाई ओवर, लोक निर्माण मंत्री ने की कार्यो की समीक्षा
x
Jabalpur / जबलपुर: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के लोक निर्माण मंत्री (Public Works Minister) गोपाल भार्गव (Gopal Bhargava) ने कहा है कि जबलपुर (Jabalpur) में लगभग 760 करोड़ रुपये की लागत से बनाये जाने वाले फ्लाई ओवर में यूटिलिटी शिफ्टिंग और भू-अर्जन के कार्यों को शीघ्रता से पूरा किया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिये कि पुल का निर्माण निर्धारित मापदण्डों और गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में पूर्ण कराया जाये। भार्गव ने यह निर्देश जबलपुर जिले में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में दिये।

Jabalpur / जबलपुर: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के लोक निर्माण मंत्री (Public Works Minister) गोपाल भार्गव (Gopal Bhargava) ने कहा है कि जबलपुर (Jabalpur) में लगभग 760 करोड़ रुपये की लागत से बनाये जाने वाले फ्लाई ओवर में यूटिलिटी शिफ्टिंग और भू-अर्जन के कार्यों को शीघ्रता से पूरा किया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिये कि पुल का निर्माण निर्धारित मापदण्डों और गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में पूर्ण कराया जाये। भार्गव ने यह निर्देश जबलपुर जिले में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में दिये।

जबलपुर के प्रभारी मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि दमोह नाका से मदन महल तक लगभग 6 किलोमीटर लम्बाई वाले फ्लाई ओवर के निर्माण के कार्य को गति प्रदान करने के लिये आवश्यक है कि भू-अर्जन के मामलों का निपटारा शीघ्रता से किया जायेगा। उन्होंने कहा कि भू-अर्जन मुआवजा राशि वितरण कार्य की समीक्षा कलेक्टर द्वारा स्वयं की जाये।

भार्गव ने लोक निर्माण विभाग तथा मध्यप्रदेश रोड डेव्हलपमेंट कॉर्पोरेशन द्वारा शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बनाये जा रहे पुलों और सड़क मार्गों की प्रगति की विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सभी काम उत्तम गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में पूर्ण किये जायें। भार्गव ने वर्षाकाल को देखते हुए ऐसे नदी-नालों पर बने पुल और पुलियों पर जल-भराव के समय इण्डिकेटर लगाने के निर्देश भी दिये।

मंत्रीभार्गव ने जिले में उपार्जन की समीक्षा के दौरान कहा कि किसानों को राज्य शासन की नीति और योजनाओं का शत-प्रतिशत लाभ मिले, यह जिला प्रशासन और कृषि विभाग का अमला सुनिश्चित करे। उपार्जन प्रक्रिया में बिचौलियों को प्रवेश न मिल सके, यह भी सुनिश्चित किया जाये।

Next Story
Share it