2021/04/sex rakat 1.jpg

रेस्टोरेंट की आड़ में चल रह था चकलाघर, दिल्ली, कोलकाता की पकड़ी गई लड़किया

RewaRiyasat.Com
Viresh Singh Baghel
19 Apr 2021

ग्वालियर (Gwalior) :   गेस्ट हाउस एंड रेस्टोरेंट की आड़ में चल रहे सेक्स रैकेट का पुलिस ने भंड़ाफोड़ किया है। एमपी के ग्वालियर शहर के पॉश एरिये में पुलिस सैक्स रैक्ट को पकड़ा है। जिसमें दिल्ली, कोलकाता की कॉल गर्ल्स पुलिस के हाथ लगी है। 

बताया जा रहा है कि शहर के दो युवक सेक्स रैकेट चला रहे थे। यहां से पुलिस ने दिल्ली की चार, कोलकाता की एक लड़की सहित पांच कॉल गर्ल को पकड़ा है। इनके साथ अपत्तिजनक हालत में एक शहर का युवक भी पकड़ा गया है, जबकि सेक्स रैकेट चलाने वाले दोनों ही युवक फरार हो गए हैं। पुलिस इस हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट कुड़ली तलाश रही है।

बदल जाते थें लड़कियों के चेहरे

पुलिस को सूचना मिली थी कि शहर के पॉश एरिया सिटी सेंटर, न्यू कलेक्ट्रेट के पीछे हाई प्रोफाइल लड़कियों का आना जाना है। हर 10 से 15 दिन में नए चेहरे देखने को मिलते हैं। दिन और रात में लग्जरी कारें खड़ी रहती है। 

पुलिस की बनाई गई थी कई टीमें

घर में सैक्स रैकेट की सूचना पर पुलिस अधिकारियों ने टीम बनाई, जिसमें डीएसपी विजय सिंह भदौरिया, विश्वविद्यालय थाना टीआई रामनरेश यादव, एसआई सुरूचि शिवहरे ने अलग-अलग टीमों के साथ कलेक्ट्रेट के पीछे मुखर्जी पेट्रोल पंप के पास एक मकान में दबिश दी थी। 

अपत्तिजनक हालत में मिला एक युवक

घर पहुची पुलिस के हाथ एक रूम में लड़की और लड़का अपत्तिजनक अवस्था में पाये गये है। पुलिस की माने तो बाहर तीन और लड़कियां बैठी थीं। पुलिस ने मौके से 5 लड़कियां, एक लड़के को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो सभी लड़कियों ने बताया कि वह अनुज उर्फ अंशु शिवहरे निवासी लाला का बाजार, गौरव जैन के कहने पर दिल्ली और कोलकाता से यहां आई थी।

 कंम उम्र की है कोलकाता की गर्ल

पकड़ी गई लड़कियां कॉल गर्ल हैं। इनमें से चार दिल्ली की हैं, जबकि एक कोलकाता की रहने वाली है। उसकी उम्र सबसे कंम है। जबकि ज्यादातर कॉल गर्ल की उम्र 20 से 25 साल के बीच है। जब इनसे पूछताछ की गई तो दिल्ली की चारों लड़कियों में से दो अभी 7 दिन पहले ही शताब्दी एक्सप्रेस से आई थीं, जबकि कोलकाता की कॉल गर्ल को वाया फ्लाइट लाया जाना बताया गया है। 

उन्होने पुलिस को बताया कि वे 7 से 10 दिन के लिए ही आती थीं। उनकी प्रत्येक दिन 10 हजार रुपए में आना तय हुआ था। लड़कियों ने कहा कि उनको गुरुवार को निकलना था, लेकिन उससे पहले ही 7 दिन का लॉकडाउन लग गया, यदि यह लॉकडाउन नहीं लगता तो वह यहां से निकल चुकी होतीं। 

मोबाईल से फोटो दिखाकर तय होती थी ड्रील

बताया जा रहा है कि सेक्स रैकेट चलाने वाले अनुज और गौरव शहर के ही रहने वाले हैं। इन्होंने ऑन लाइन कई ग्रुप बना रखे हैं। यह मोबाइल पर ही लड़कियों के फोटो भेजकर कस्टमर से डील करते हैं। कस्टमर को इनके ही अड्‌डे पर आना होता है। 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER