बीजेपी सांसद हेमा मालिनी के खिलाफ केस दर्ज, जानिये मामला

एंटरटेनमेंट

नई दिल्ली/भोपाल: उद्योग जगत में विज्ञापन प्रचार-प्रसार का एक बेहतरीन साधन है. विज्ञापन के जरिए बॉलीवुड के मशहूर सितारे बहुराष्‍ट्रीय कंपनियां के प्रोडक्‍ट को जनता के बीच लोकप्रिय बनाने के लिए आपसे रूबरू होते हैं. लोगों पर विज्ञापनों के सकारात्मक और नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं. माना जाता है कि विज्ञापन संचार की सबसे अच्छी तकनीक है. लेकिन कभी-कभी ये विज्ञापन बॉलीवुड सितारों के लिए गले की फांस भी बन जाते हैं. ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में सामने आया है. बीजेपी की सांसद और बॉलीवुड की मशहूर फिल्म अभिनेत्री हेमा मालिनी के खिलाफ जिला उपभोक्ता फोरम में एक मामला दर्ज किया गया है. अभिनेत्री के खिलाफ यह मामला राजधानी के ओल्ड मिनाल निवासी सीमा शर्मा की ओर से दर्ज कराया गया है.

आरओ बनाने वाली कंपनी के खिलाफ किया मुकदमा
जिला फोरम के अध्यक्ष न्यायाधीश आरके भावे और सदस्य सुनील श्रीवास्तव की बेंच ने फरियादी की ओर से प्रारंभिक तर्क सुनने के बाद मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं. फोरम ने हेमा मालिनी सहित मामले के सभी अनावेदक पक्ष को नोटिस जारी कर आगामी पेशी तारीख पर फोरम के समक्ष हाजिर होने के आदेश दिए हैं. इस मामले में अभिनेत्री के अलावा केन्ट आरओ कंपनी और भोपाल में केन्ट आरओ मशीन के वितरक शिवम इंटरप्राइसेस को भी पक्षकार बनाया गया है. मामले की अगली सुनवाई 24 अगस्त को तय की गई है. आपको बता दें कि इससे पहले भी बॉलीवुड के कई सितारों पर ब्रांड के विज्ञापनों को लेकर केस दर्ज कराए जा चुके हैं.

यह है मामला
फरियादी सीमा शर्मा के अनुसार, उन्होंने 20 जुलाई 2017 को भोपाल की जेके रोड स्थित शिवम इंटरप्राइसेस से 14,500 रुपए में केन्ट मिनरल आरओ मशीन खरीदी थी. मशीन पर एक साल की वारंटी भी दी गई थी. कुछ दिन बाद मशीन खराब होने लगी और मशीन से साफ पानी आना बंद हो गया. उन्होंने बताया कि शिकायत के बाद मशीन को सुधार दिया गया लेकिन वह फिर खराब हो गई. मशीन के वारंटी अवधि में होने के बाद भी उसमें प्री-फिल्टर बदलने के लिए 2,000 रुपए की मांग की गई. उन्होंने बताया कि रुपए न दोने का कारण मशीन नहीं सुधारी गई.