भारत के एक ऐसे प्रधानमंत्री जिनके एक इशारे पर देशवासियों ने छोड़ दिया भोजन करना, आज भी लोग कहते हैं नहीं है कोई उनके.....

भारत के एक ऐसे प्रधानमंत्री जिनके एक इशारे पर देशवासियों ने छोड़ दिया भोजन करना, आज भी लोग कहते हैं नहीं है कोई उनके…..

Delhi

नई दिल्ली। भारत भूमि को ऐसे ही पावन भूमि नहीं कहा जाता है। यहां एक से बढ़कर एक महान विभूतियों का जन्म हुआ है। बात अगर वर्तमान समय की करें तो इसी भारत देश के एक ऐसे प्रधानमंत्री थे जिनकी एक अपील पर सच्चे देशवासियों ने एक वक्त का भोनज करना छोड़ दिया था।

भारत के एक ऐसे प्रधानमंत्री जिनके एक इशारे पर देशवासियों ने छोड़ दिया भोजन करना, आज भी लोग कहते हैं नहीं है कोई उनके.....

हम बात कर रहे हैं एक छोटे कद के बड़े आदमी की। जिन्हे आप और हम पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री जी के नाम से जानते है। लाल बहादुर शास्त्री देखने में तो जरूर छोटे थे लेकिन वह लोगों के ह्दय में राज करने वाले बडे कद के प्रधानमंत्रियों में से एक थे। आज के ही दिन पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की सन 1966 में ताशकंद समझौते के बाद निधन हो गया था। कहा जाता है कि वह समझौते के लिए गये तो थे। सामझौते पर हस्ताक्षर भी किया लेकिन वह जीवित वापस नहीं लौट सके।

रीवा से गये थे पैसा कमाने, बना लिए गये बंधक, कलेक्टर रीवा ने की कार्रवाई जयपुर से छुडवाया, मजदूरों ने कहा साहब आप नहीं होते तो..

भतर उनका मृत शरीर ही पहुचा था। शस्त्री जी का निधन आज भी एक रहस्य बना हुआ है। शस्त्री जी के पुत्र तथा पत्नी का कहना है कि उनकी स्वाभाविक मौत नही हुई थी। उनकी हत्या हुई थी। वही परिनजांे का कहना है कि मृत्यु के बाद शास्त्री जी का पोष्टमार्टम नहीं किया गया था। उनके शरीर में जहर जैसे नीले निशान मिले थे।

कहा जाता है कि 10 जनवरी सन 1966 में ताशकंद समझौते पर हस्ताक्षर करने के महज 12 घंटे बाद यानी की 11 जनवरी 1966 की भेार करीब 1.32 मिनट पर उनकी मौत हो गई थी। कहा जाता है कि वह ह्दय रोग से प्रभावित थे। एक बार उन्हे हार्ट अटैक भी आया था। शस्त्री जी पत्नी ललिता शास्त्री तथा बेटे सुनील का कहना है कि शास्त्री जी की मौत जहर देने से हुई थी।

किसानों को जगाने कांग्रेस की आम सभा 12 को, किसान विरोधी है मोदी का नया किसान बिलः गजेन्द्र

विंध्य में हैवानियत! महिला से गैंगरेप के बाद प्राइवेट पार्ट में सरिया डाला, तीन गिरफ्तार

एमपी के प्रोटेम स्पीकर के बिगड़े बोल, कहा बापू की भूल से हुआ देश का बटवार, दिग्विजय सिंह जिन्ना से ज्यादा……

रीवा : काले कानून के खिलाफ कांग्रेस 12 को भरेगी हुंकार

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *