God should not give such a painful death, three dead including a girl child

ऐसी दर्दनाक मौत भगवान किसी को न दे, बच्ची सहित तीन की मौत

क्राइम

ऐसी दर्दनाक मौत भगवान किसी को न दे, बच्ची सहित तीन की मौत

सारंगपुर.आगरा-मुंबई नेशनल हाईवे क्रमांक-तीन पर हुई दर्दनाक सड़़क हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई। दो ट्रकों में आमने-सामने हुई भिड़ंत में तीन लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए।

MP में CORONA पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर दीवार कूद भागे 8 जमाती

जानकारी के अनुसार गुरुवार अलसुबह साढ़े पांच बजे सारंगपुर से लगे देवास-ब्यावरा फोरलेन के सईदाबाग चौराहे पर उक्त हादसा हुआ। यहां संकेतक नहीं होने के कारण यह चौराहा डेंजर जोन बनता जा रहा है। गुरुवार सुबह ट्रकों में हुई भिड़ंत में एक सात माह की बच्ची सहित तीन लोगों की मौत हो गई।

मध्यप्रदेश में शिवराज मंत्रिमंडल के गठन की सुगबुगाहट, 6 से 10 मंत्री ले सकते हैं शपथ

पुलिस के अनुसार सईदाबाग जोड़ के पास इंदौर की ओर से ग्वालियर जा रहे ट्रक एमपी06एचसी0728 में सवार प्रेमसिंह राजपूत (45) निवासी मुरैना, नायरा कश्यप (7 माह) की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, दीपक पिता सरताज (20) निवासी ग्वालियर की शाजापुर सिविल अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। तीन अन्य अजय पिता नवलसिंह लालघाटी मथुरा, नीलम पति सतवीरसिंह, सतवीर पिता प्रहलाद (24) निवासी ग्वालियर गंभीर रूप से घायल हो गए।

JABALPUR: ये एरिया बना हॉट स्पॉट, एक संक्रमित ने डाली सैकड़ो की जान खतरे में

उन्हें सारंगपुर सिविल अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद शाजापुर रेफर कर दिया गया। वहीं, पचोर की ओर से इंदौर जा रहे ट्रक आरजे1१जीए7963 में सवार ड्रायवर और अन्य लोगों को कोई चोट नहीं आई है। मृतकों का पोस्टमॉर्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा गया। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले को जांच में लिया है। बता दें कि उक्त ट्रक में चालक के अलावा दंपती अपने बच्ची के साथ ग्वालियर जाने के लिए बैठी थी लेकिन रास्ते में ही वह हादसे का शिकार हो गए।

INDORE और BHOPAL से आने वालो की जो सूचना देगा, मिलेगा इतने रूपए इनाम

निर्माणाधीन रोड पर एक ही साइड पर चल रहे थे दोनों ट्रक
राष्ट्रीय राजमार्ग फोरलेन बाइपास उकावदा के पास निर्माण कार्य चलने के कारण एक साइड का रोड बंद करने के से एक ही रोड पर वाहनों की आवाजाही चल रही थी। रफ्तार अधिक होने के कारण दोनों ट्रकों में आमने-सामने भिड़ंत हो गई।

फोरलेन निर्माण एजेंसी को रोड क्रॉस करने के स्थान पर सिग्नल लगाना चाहिए था जो नहीं लगाया गया, जिसके कारण दुर्घटना हुई इसके पूर्व भी 1 वर्ष में करीब 11 लोगों की मौत अलग-अलग दुर्घटनाओं में हो चुकी है। सारंगपुर से सईदाबाद तक के प हुंच मार्ग फोरलेन बाइपास रोड के दोनों ओर ऊंचाई अधिक है। इससे गांव आने वाले रोड से फोरलेन बाइपास पर जाने वाले वाहन दिखाई नहीं देते। वहीं, रोड पर कोई दिशा ***** नहीं है जिसके चलते आए दिन उक्त चौराहे पर दुर्घटनाएं होती है। इसे लेकर ग्रामीण कई बार फोरलेन बाइपास के दोनों ओर रोड की साइड की ऊंचाई बढ़ाने की मांग कर चुके हैं, लेकिन प्रशासनिक जिम्मेदार इसे गंभीरता से नहीं ले रहे।

Facebook Comments