नवा छत्तीसगढ़ योजना राज्य के 25वें वर्ष का विजन है : डॉ. रमन1 min read

Chhattisgarh

बिलासपुर । छत्तीसगढ़ 25वें साल में कैसा होगा ये विजन,किन ऊंचाइयों को छूएगा, किस तरह छत्तीसगढ़ और छत्तीगसढिय़ों की बेहतरी का साक्षी होगा। इसी उद्देश्य का खाका नवा छत्तीसगढ़ योजना तैयार करेगी। उक्त बातें आज प्रेसवार्ता में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कही। उन्होंने नवा छत्तीसगढ़ योजना के जरिए छत्तीसगढ़ को लेकर अपने सपने जाहिर किए। उन्होंने कहा कि, यह योजना नवा छत्तीसगढ़ के लिए दृष्टि पत्र है, जिसमें सभी का सहयोग रहेगा।
उन्होंने कहा कि जीडीपी दुगुनी, सभी के लिए स्वास्थ्य, किसानों के लिए बेहतर योजना, 2025 में छत्तीसगढ़ जब रजत जयंती मनाएगा, उस वक्त तक छत्तीसगढ़ स्मार्ट छत्तीसगढ़ ,खुशहाल छत्तीसगढ़ , समृद्ध छत्तीसगढ़ ,विकसित छत्तीसगढ़ ,सपनों का छत्तीसगढ़ ,अटल जी के सपनों का छत्तीसगढ़ होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि ये एक रोड मैप है, छत्तीसगढ़ के लिए, प्रदेश वासियों के लिए बेहतर किया जा सके। नवा छत्तीसगढ़ राज्य के संपूर्ण विकास का एक बेहतरीन रोड मैप होगा। इसमें कोशिश की जाएगी छत्तीसगढ़ का कोई कोना विकास से वंचित न रह पाए। उन्होंने स्पष्ट किया कि बेहतर योजनाओं का नाम है नवा छत्तीसगढ़ 2025।
एक सवाल-छत्तीसगढ़ को अब 18 साल हो गए हैं, नवा छत्तीसगढ़ 2025 से सरकार का क्या आशय है? मुख्यमंत्री ने कहा कि पच्चीसवें बरस में किस तरह तरक्की के मुकाम पर पहुंचेगा,इसकी परिकल्पना है नवा छत्तीसगढ़ 2025। नवा छत्तीसगढ़ में सरकार की कोशिश होगी कि राज्य की जीडीपी दोगुनी हो जाए, किसानों को उसकी फसलों की पर्याप्त कीमत मिले, सभी युवाओं के पास रोजगार हो। ट्राइबल कल्चर और भाषा संवर्धन के लिए नवा छत्तीसगढ़ में काम किया जाएगा। अपना छत्तीसगढ़ कैसा होगा, इसका विजन होगा नवा छत्तीसगढ़।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल पर निशाना साधते हुए कहा कि, भूपेश बघेल और कांग्रेस का विकास से कोई रिश्ता नहीं है, ना उनका कभी नाता रहा है। विकास देखने के लिए नजरिया चाहिए। जिन्हें विकास का मतलब नहीं मालूम वे विकास की क्या बात करते है। भाजपा विकास को सामने रखकर चुनाव में जाएगी। 15 साल में उनकी सरकार ने ऐसे काम किए हैं कि 50 साल में कांग्रेस नहीं कर पाई।
भाजपा में टिकिट वितरण को लेकर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने ने कहा कि, मेरा काम लोकार्पण और भूमिपूजन सहित योजनाओं को सुचारु रूप से संचालित कराना है। टिकिट वितरण का निर्णय तो आला कमान के हवाले है। वे जब चाहें, उम्मीदवारों की टिकिट तय कर सकते है।
उल्लेखनीय है कि अटल विकास रथयात्रा के दूसरे चरण में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह बुधवार को बिलासपुर जिले के प्रवास पर पहुंचे। जिसमें तखतपुर, बिल्हा और बिलासपुर विधानसभा में करोड़ों रुपए की सौगात देकर भूमिपूजन, लोकार्पण और रोड शो के कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने बुधवार को विकास रथयात्रा के काफिलेे के बाद छत्तीसगढ़ भवन में मीसाबंदियों से मुलाक़ात की और रात्रिभोज कर विश्राम किया।
मुख्यमंत्री आज सुबह मीडिया से रूबरू हुए। इस दौरान नगर प्रशासन मंत्री व नगर विधायक अमर अग्रवाल, प्रभारी मंत्री अजय चंद्राकर, सांसद लखनलाल साहू और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक उपस्थित थे। प्रेसवार्ता में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने केंद्र और राज्य सरकार की तमाम उपलाब्धियों और योजनाओं को गिनाया। उन्होंने ने कहा कि प्रदेश के 65 विधानसभा, 33 आम सभाएं, 6 हजार किलोमीटर और करोड़ों के विकास कार्यों के साथ विकास यात्रा के दूसरे चरण की शुरुआत हुई है। इनमें कुछ महतवपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। इनमें बिजली उपभोक्ताओं, आम लोगों की सुरक्षा के लिए 112 टोल फ्री की शुरुआत की गई है।

Facebook Comments